CTET

CTET Exam: अभ्यर्थियों के द्वारा दिए गए फीडबैक के आधार पर ‘हिंदी पेडागोजी’ पर आधारित महत्वपूर्ण प्रश्न

Advertisement

Hindi Pedagogy IMP Questions For CTET:  28 दिसंबर 2022 से प्रारंभ हुई सीटेट परीक्षा के आयोजन का क्रम वर्तमान में जारी है, जो कि 7 फरवरी 2023 तक जारी रहेगा।  इस परीक्षा में रोजाना देशभर से अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन बोर्ड में किया जा रहा है।  यहां पर हम नियमित रूप से परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों के द्वारा दिए गए फीडबैक के आधार पर मेमोरी बेस्ड क्वेश्चन नियमित रूप से शेयर करते आ रहे हैं। 

इसी कड़ी में आज हिंदी भाषा शिक्षण शास्त्र पर आधारित महत्वपूर्ण प्रश्न आपके साथ शेयर कर रहे हैं, जो कि आगामी शिफ्ट में पूछे जा सकते हैं  जो अभ्यर्थी आगामी शिफ्ट में परीक्षा देने वाले हैं। उन्हें इन प्रश्नों का अध्ययन एक बार अवश्य कर लेना चाहिए ताकि सीटेट परीक्षा में बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके।  

सीटेट परीक्षा में पूछे जा सकते हैं हिंदी भाषा शिक्षण शास्त्र की यह प्रश्न—Hindi Pedagogy Multiple Choice Questions CTET Exam 2023

1. कौन-सी विधि दोहराव वाले अभ्यास को एक बड़ी प्रविधि मानती है ?

Advertisement

1) व्याकरण अनुवाद विधि

2) समूह भाषा शिक्षण

3) संपूर्ण भाषा दृष्टिकोण

4) श्रव्य भाषावाद

Ans- 4 

2. सीखने के प्रतिफल हैं ?

1) वे दक्षताएँ जिन्हें शिक्षार्थी द्वारा किसी पाठ्यक्रम के अन्त में प्राप्त कर लेना चाहिए या प्रदर्शित करना चाहिए।

2) भाषा शिक्षण के उद्देश्य हैं जो भाषा पाठ्यचर्या तथा पाठ्यक्रम में वर्णित हैं।

3) अध्ययन के दौरान शिक्षार्थी के संप्रेषण कौशल पर आधारित हैं।

4) वे प्रक्रियाएँ हैं जिनके द्वारा शिक्षार्थी से प्रदर्शन की अपेक्षा की जाती है।

Ans- 1 

3. शिक्षार्थियों द्वारा लिखने-पढ़ने में की गई त्रुटियों को समझा जाना चाहिए ?

1) उनके सीखने में बाधा

2) सीखने केलिए संकेत

3) भाषा सीखने में समस्या

Advertisement

4) त्रुटि सुधार के लिए संकेत

Ans- 2  

4. यदि एक बालक किसी एक भाषा का अच्छा पाठक/अच्छी पाठिका है तो वह दूसरी अथवा किसी अन्य भाषा का अच्छा पाठक हो सकती सकता है (जब वह दूसरी अन्य भाषा सीखता है।) इसे जाना जाता है ?

1) पठन क्षमता

2) पढ़ने की रणनीति

3) कौशल का अन्तरण

4) उच्च स्तरीय कौशल

Ans- 3 

5. बच्चे में मातृभाषा के विकास को सामान्यतः माना जाता है।

1) भाषा अर्जन

2) भाषा सीखना

3) भाषा का आत्मसातीकरण

4) अमूर्त भाषा का विकास

Ans- 1 

6. एक शिक्षिका कक्षा में ‘अच्छा’ ‘सुन्दर’, ‘बुरा’, ‘रंगीन’, ‘बूढ़ा’, ‘युवा’ आदि शब्दों वाले बहुत से वाक्य देती है और जब शिक्षार्थी इन शब्दों पर ध्यान देते हैं जिन्हें वह विशेषता बताने वाले शब्द’ का नाम देती है। बाद में वह उन्हें और आधिक शब्द देती है तथा उनमें इन विशेषता बताने वाले शब्दों को प्रयोग करने के लिए कहती है। अंत में शिक्षार्थियों का ध्यान आकर्षित करती है तथा कहती है कि येशब्द विशेषण कहलाते हैं। यह रणनीति क्या कहलाती है ? 

1) व्याकरण शिक्षण रणनीति

2) सचेतना में वृद्धि

3) विशेषण शिक्षण

Advertisement

4) विषय वस्तु आधारित व्याकरण

Ans- 2 

7. निम्नलिखित में कौन-सा सीखने का आकलन है?

1) लिखित परीक्षाएँ

2) अवधि के अंत में परीक्षा

3) रचनात्मक आकलन

4) संकलनात्मक आकलन

Ans- 4 

8. सीखने के सिद्धान्त के रूप में रचनावाद का विश्वास है?

1) सीखना व्यक्तिगत विशेषता है

2) सभी शिक्षार्थी भाषाएं नहीं सीख सकते हैं

3) सीखना पूरी तरह से मनोवैज्ञानिक घटना  है

4) सीखना सामाजिक निर्मिति है।

Ans- 4 

9. शिक्षार्थी एक अच्छे लेख के विकास के लिए कई चरणों से गुजरते हैं। यह उपागम कहलाती है?

1) लिखने का उत्पाद उपागम

2) राजकीय लेखन

3) अध्ययन कौशल

Advertisement

4) लिखने का प्रक्रिया उपागम

Ans- 4 

10. एक अध्यापिका ने अपनी कक्षा को पाँच समूहों में बाँट दिया जिसमें प्रत्येक समूह में पाँच शिक्षार्थी हैं तथा उन्हें घर, विद्यालय, सड़क, भूमि तथा आकाश शब्दों से संबंधित शब्द ढूंढने के लिए कहा। प्रत्येक समूह ने दस से पंद्रह शब्द ढूँढ़े तथा अन्य समूहों के साथ साझा किए अध्यापिका ने यहाँ शब्दावली शिक्षण के लिए कौन-सी प्रविधि अपनायी थी?

1) शब्द तथा वाक्यांश

2) थीम आधारित शब्दावली

3) शब्दों का वर्गीकरण

4) नियामक शब्दावली

Ans- 2 

11, हिन्दी भारत …………. की है ?

1) राष्ट्र भाषा

2) राज भाषा

3) सह राज भाषा

4) शास्त्रीय भाषा

Ans- 2 

12. अपने आरंभिक वर्षों में बच्चे दीवार, फ़र्श, और कॉपी / उत्तर पुस्तिका में आड़ी तिरछी रेखाएँ बनाते हैं। भाषा सीखने में यह अवस्था क्या कहलाती है?

1) स्क्रिब्लिंग

2) प्रारंभिक साक्षरता

3) लेखन कौशल

Advertisement

4) ग्राफ़िक विकास

Ans- 2

13. भाषा सीखने के आरंभिक वर्षों में कहानियाँ है ?

1) नैतिकता के लिए

2) भाषा सीखने हेतु निवेश 

3) दोहराव तथा पुनरुत्पादन

4) अपने समाज के बारे में सीखना

Ans- 2 

14. निम्नलिखित में से कौन-से दो उपचारात्मक शिक्षणके मुख्य उद्देश्य हैं?

a. उपचारात्मक शिक्षण शिक्षार्थियों के सीखने को बेहतर करने के लिए है।

b. उपचारात्मक शिक्षण शिक्षकों के शिक्षण में बदलाव करने के लिए है। 

c. शिक्षण शिक्षकों द्वारा अपने शिक्षार्थी को समझने के लिए है।

d. उपचारात्मक शिक्षण अभिभावकों के लिए है कि वे जाने कि कुछ शिक्षार्थियों को सुधार की आवश्यकता क्यों है।

1) a और b

2 ) c और d

3) a और d

4) c और b

Ans- 1 

Advertisement

15. निम्नलिखित में से मातृभाषा की उपयोगिता से संबंधित विकल्प नहीं है ?

1) मातृभाषा बालकों के ज्ञान के विकास में सहायक है

2) मातृभाषा शिक्षा ग्रहण करने का सर्वश्रेष्ठ माध्यक है

3) मातृभाषा विचार-विनिमय का साधन है

4) मातृभाषा प्रगति पथ में बाधा पहुँचाती है

Ans- 4 

Read More:-

CTET Exam 2022-23: ‘पर्यावरण’ पर आधारित इस प्रैक्टिस सेट के माध्यम से चेक करें सीटेट परीक्षा की तैयारी का लेबल!

CTET 2022-23: पेपर में आने वाले ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ के संभावित प्रश्न यहां पढ़िए!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए ‘हिंदी पेडागोजी से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (Hindi Pedagogy IMP Questions For CTET) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button