CTET 2022-23: ‘जीन पियाजे’ के सिद्धांत से संबंधित ऐसे ही प्रश्न पूछे जा सकते हैं सीटेट परीक्षा की अगली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

Advertisement

CTET Exam MCQs on Jean Piaget Theory: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के आयोजन का क्रम अभी जारी है, जो कि 7 फरवरी 2023 तक जारी रहेगा। परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों के द्वारा दिए गए फीडबैक के आधार पर यहां पर हम नियमित रूप से आगामी शिफ्ट में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न शेयर करते आ रहे हैं। इसी श्रंखला में आज हम मनोवैज्ञानिक जीन पियाजे के सिद्धांत से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न आपके साथ साझा कर रहे हैं, जो कि आगामी शिफ्ट में पूछे जा सकते हैं। मनोवैज्ञानिकों के सिद्धांत से जुड़े एक से दो प्रश्न परीक्षा में पूछे जा रहे हैं, ऐसे में अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह इन प्रश्नों का अध्ययन ध्यानपूर्वक करें जिससे कि अच्छे अंकों के साथ सफलता हासिल की जा सके।

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में पूछे जाने वाले जीन पियाजे के सिद्धांत से संबंधित प्रश्न—Jean Piaget Questions and Answers For CTET Exam

1. पियाजे के अनुसार निम्नलिखित में से कौन – सी अवस्था है जिसमें बच्चा अमूर्त संकल्पनाओं के विषय में तार्किक चिंतन करता है?

(a) मूर्त – संक्रियात्मक अवस्था (07-11 वर्ष)

Advertisement

(b) औपचारिक – संक्रियात्मक अवस्था ( 11 वर्ष एवं ऊपर)

(c) संवेदी – प्रेरक अवस्था (जन्म से02 वर्ष)

(d) पूर्व – संक्रियात्मक अवस्था (02-07 वर्ष)

Ans- b 

2. बच्चों में बौद्धिक विकास की चार विशिष्ट अवस्थाओं की पहचान की गई-

(a) कोहलबर्ग द्वारा

(b) एरिक्सन द्वारा

(c) स्किनर द्वारा पियाजे द्वारा

(d) पियाजे द्वारा

Ans- d 

3. वह अवस्था जब बच्चा तार्किक रूप से वस्तुओं व घटनाओं के विषय में चिंतन प्रारंभ करता है

(a) संवेदी – प्रेरक अवस्था

(b) औपचारिक – संक्रियात्मक अवस्था

(c) पूर्व – संक्रियात्मक अवस्था

(d) मूर्त – संक्रियात्मक अवस्था

Advertisement

Ans- d  

4. छिपी हुई वस्तुएँ ढूँढ निकालना इस बात का संकेत है कि शिशु निम्नलिखित में से किस संज्ञानात्मक कार्य में दक्षता प्राप्त करने लगा है।

(1) साभिप्राय व्यवहार

(2) वस्तु – स्थायित्व

(3) समस्या – समाधान

(4) प्रयोग करना

Ans- 2 

5- निम्नलिखित में से कौन-सा कथन पियाजे के सिद्धांत के अनुसार कहा नहींना सकता?

(1) विकास गुणात्मक चरणों में होता है।

(2) बच्चे अपनी दुनिया के बारे में ज्ञान का निर्माण और उपयोग करते हैं।

(3) निरंतर अभ्यास से अधिमम होता है।

(4) बच्चे अपने पर्यावरण पर क्रिया करते हैं।

Ans- 3 

6. बालकों की सोच अमूर्तता की अपेक्षा मूर्त अनुभवों एंव प्रत्ययों से होती है। यह अवस्था है

(a) 7 से 12 वर्ष तक

(b) 12 वर्ष से वयस्क तक

(c) 2 से 7 वर्ष तक

(d) जन्म से 2 वर्ष तक

Advertisement

Ans- a 

7. पियाजे के संज्ञानात्मक विकास सिद्धांत के अनुसार संवेदी क्रियात्मक अवस्था होती हैं

(a) जन्म से 2 वर्ष

(b) 2 से 7 वर्ष

(c) 7 से 11 वर्ष

(d) 11 से 16 वर्ष

Ans- a 

8.  ” घटना और वस्तुओं के बारे में बच्चा तार्किक रूप से सोच सकता है। ” . पियाजे के चरणों के संबंध में सही कथन है –

(a) सेंसरी तंत्रिका तंत्र

(b) प्रारंभिक संचालन प्रक्रिया

(c) मूर्त संचालन प्रक्रिया

(d) औपचारिक संचालन प्रक्रिया

Ans- c

9. पियाजे की औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था बालक की किस आयु अवधि तक मानी जाती है।

(a) 0-2  वर्ष

(b) 2-7 वर्ष

(c) 7-11 वर्ष

(d) 11-15 वर्ष

Advertisement

Ans- d 

10- वह कौन – सा स्थान है जहाँ बच्चे के संज्ञानात्मक विकास को सबसे बेहतर तरीके से परिभाषित किया जा सकता है ?

(a) खेल का मैदान

(b) विद्यालय एवं कक्षा पर्यावरण

(c) सभासागर

(d) घर

Ans- b

11. ” बच्चे दुनिया के बारे में अपनी समझ का सृजन करते हैं। ” इसका श्रेम….. को जाता है

(a) पियाजे

(b) पैवलॉव

(c) कोहलबर्ग

(d) स्किनर

Ans- a 

12. पियाजे के सिद्धान्त के अनुसार, प्राक संक्रियात्मक अवस्था को अवधि क्या है?

(1) चार से आठ वर्ष

(2) जन्म से दो वर्ष

(3) दो से सात वर्ष

(4) पाँच से आठ वर्ष

Advertisement

Ans- 3 

13. पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के चरणों के अनुसार इंद्रिय – गाम (संवेदी – प्रेरक ) अवस्था किसके साथ संबंधित है ?

(a) सामाजिक मुद्दों से सरोकार

(b) अनुकरण स्मृति और मानसिक निरूपण

(c) तार्किक रूप से समस्या समाधान की योग्यता

(d) विकल्पों के निर्वचन और विश्लेषण करने की योग्यता

Ans- b 

14. किसी वस्तु के स्थायित्व की अवधारणा पियाजे के विकास के ……………….. चरण में प्राप्त हो जाती है ? 

(1) पूर्व – परिचालन

(2) मूर्त परिचालन

(3) औपचारिक परिचालन

(4) संवेदी – गामक के संदर्भ में

Ans- 4 

15. पियाजे मुख्यतः …………. के क्षेत्र में योगदान के लिए जाने जाते हैं।

(a) भाषा विकास

(b) संज्ञानात्मक विकास

(c) नैतिक विकास

(d) सामाजिक विकास

Advertisement

Ans- b 

Read More:-

CTET EVS NCERT Question: एनसीईआरटी पाठ्यक्रम से जुड़े ऐसे सवाल जहां से सीटेट में 1 से 2 सवाल जरूर पूछे जाते हैं, अभी देखें

CTET 2022-23: सीटेट परीक्षा में ‘गणित पेडागोजी’ से जुड़े यह सवाल दिलाएंगे आपको बेहतर परिणाम!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए जीन पियाजे’ के सिद्धांत से संबंधित महत्वपूर्ण सवाल (CTET Exam MCQs on Jean Piaget Theory) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Leave a Comment