Connect with us

CTET

CTET 2023: ‘पर्यावरण NCERT’ से जुड़े इस लेवल के प्रश्न पूछे जा सकते हैं अगली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

Published

on

CTET Exam EVS NCERT Based MCQ
Advertisement

NCERT Environment MCQ For CTET: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा सीटेट परीक्षा का आयोजन वर्तमान समय में जारी है। इस परीक्षा के लिए देशभर से लाखों की संख्या में अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। यदि आप भी आगामी दिनों में इस परीक्षा में शामिल होने वाले हैं, तो इस आर्टिकल में हम आपके लिए पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण बहुविकल्पीय प्रश्न आपके साथ साझा कर रहे हैं। जो कि आपको परीक्षा में अच्छे अंकों के साथ सफलता दिलाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है पर्यावरण के यह प्रश्न—CTET Multiple Choice Questions on EVS

1. Process of digestion and absorption become slow in ————. 

पाचन और अवशोषण की प्रक्रिया धीमी हो जाती है।

Advertisement

1) In Acidic medium / अम्लीय माध्यम में

2) In healthy person / स्वस्थ व्यक्ति में 

3) In basic medium / क्षारीय माध्यम में 

4) In fatty person / मोटे व्यक्ति में 

Ans- 3  

2. Children with pot belly is an indicative of which type of disease?

पॉट बेली वाले बच्चे किस प्रकार की बीमारी का सूचक होते हैं?

1) Goitre / घेंघा 

2) Anaemia / रक्ताल्पता 

3) Kwashiorkor / क्वाशियोरकोर 

4) Marasmus  सूखारोग

Ans- 3 

3. Which of the following is involved in sunlight absorbtion?

निम्नलिखित में से क्या सूर्य के प्रकाश के अवशोषण में शामिल है?

1) Photosystem and II / फोटोसिस्टम और ll

Advertisement

2) Chromoplast / क्रोमोप्लास्ट

3) Chlorophyll / क्लोरोफिल

4) Photosystem I II and Chloroplast / फोटोसिस्टम l, ॥ और क्लोरोप्लास्ट

5) Other than those given as options / दिए गए विकल्पों के अतिरिक्त

Ans- 4 

4. Sahara desert does not touch the following country –

सहारा मरुस्थल किस देश की सीमा से होकर नहीं गुजरता है?

1) Ethiopia / इथियोपिया

2) Algeria / एलजीरिया

3) Chad / चाड

4) Tunisia / ट्यूनीशिया

Ans- 1 

5. Srijana was traveling by train for the first time. As soon as she got the ticket, she started reading it and told her mom the following. Which of them is incorrect?/सृजना पहली बार रेलगाड़ी से यात्रा कर रही थी। जैसे ही उसे टिकट मिला, उसने उसे पढ़ना शुरू कर दिया और अपनी माँ को निम्नलिखित बताया। उनमें से कौन गलत है? 

A. The date of travel is written on the ticket./टिकट पर यात्रा की तारीख लिखी होती है।

B. I can’t see the fare for the travel on the ticket./मैं टिकट पर यात्रा का किराया नहीं देख सकती हैं। 

C. I can see my berth and coach number/मैं अपना बर्थ और कोच नंबर देख सकती हूँ।

1) All of them / उपरोक्त सभी

2) A and B / A और B

Advertisement

3) B and C / B और C

4) B

Ans- 4 

6. Saumya was planning to go on a solo trip from Delhi to a nearby hill station. She checked the map and noted that the distance on the map is 23 cm and it is given that RF is 1: 500000. What is RF and What is the actual distance? 

सौम्या दिल्ली से अकेले नजदीकी हिल स्टेशन पर घूमने जाने | का प्लान कर रही थी। उसने मानचित्र की जाँच की और देखा कि मानचित्र पर दूरी 23 सेमी है और यह दिया गया है कि RF 1: 500000 है। RF क्या है और वास्तविक दूरी क्या है?

1) Representative factor, 23 km / प्रतिनिधि गुणज, 23 किमी

2) Representative fraction, 115 km / प्रतिनिधि भिन्न, 115  किमी

3) Ratio factor, 115cm / अनुपात गुणज, 115 सेमी

4) Representative fraction, 115000 cm / प्रतिनिधि भिन्न, 115000 सेमी

Ans- 2 

7. What is the major reason for water scarcity in India ? 

भारत में पानी की कमी का प्रमुख कारण क्या है?

1) Overusing water / पानी का अति प्रयोग 

2) Wasting water / पानी बर्बाद करना 

3) Storing water / पानी का भंडारण 

4) Recycling water / पुनर्चक्रण पानी

Ans- 2 

8. Which of the following is an autotroph? 

Advertisement

निम्नलिखित में से कौन स्वपोषी है?

1) Human / मानव

2) Algae / शैवाल

3) Animal / जंतु

4) Fungi / कवक

5) Other than those given as options / उल्लिखित विकल्पों के अलावा

Ans- 2 

9. An express train covers a distance of 144 km in two hours. Its speed in metre per second is कोई एक्सप्रेस ट्रेन 144 किलोमीटर की दूरी दो घंटे में तय करती है। इस ट्रेन की मीटर प्रति सेकंड में चाल है

1) 10 m/s / 10 मीटर/सेकण्ड

2) 20 m/s / 20 मीटर/सेकण्ड

3) 60 m/s / 60 मीटर / सेकण्ड

4) 12 m/s / 120 मीटर/सेकण्ड

Ans- 2 

10. If you are located in Ahmedabad (Gujarat) and draw on the map of India a straight line between Ahmedabad and Delhi, the direction of Delhi from Ahmedabad will be –

यदि आप अहमदाबाद (गुजरात) में हैं और भारत के मानाचित्र पर अहमदाबाद और दिल्ली के बीच कोई | सरल रेखा खींचते हैं, तब अहमदाबाद से दिल्ली की | दिशा होगी:

1) Due North / ठीक उत्तर

2) North East / उत्तर-पूर्व

3) North West / उत्तर-पश्चिम

Advertisement

4) South West / दक्षिण-पश्चिम

Ans- 2 

11.Consider the following animals 

Snake, Turtle, Frog, Crocodile

Select from the following the common characteristic found in all these animals

नीचे दिए गए जानवरों पर विचार कीजिए:

साँप, कछुआ, मेंढक, घडियाल (मगरमच्छ) 

निम्नलिखित में से वह विशेषता चुनिए जो इन सभी जानवरों में पायी जाती है।

1) They have three chambered heart / इनका तीन कक्षीय हृदय होता है। 

2) They lay eggs / ये अंडे देते हैं।

3) They can live on land as well as in water / ये जल और स्थल दोनों पर रह सकते हैं। 

4) Their bodies are covered with scales / इनके शरीर शल्क से ढके रहते हैं।

Ans- 2 

12. In a book a map of Golconda fort is printed. At the bottom of the map its scale is printed as

Scale 1 cm = 110 meter.

The measured distance between Ibrahim Burj and Masha Burj is

13.3 cm. The actual distance between these two Burjs is approximately

किसी पुस्तक में गोलकोंडा के किले का मानचित्र दिया गया है। इस मानचित्र की तली में पैमाना दिया गया है जिस पर लिखा है-

Advertisement

1 सेंटीमीटर = 110 मीटर

मानचित्र पर इब्राहिम बुर्ज और माशा बुर्ज के बीच की मापी गई दूरी 13.3 सेंटीमीटर है। इन दोनों बुर्जो के की वास्तविक दूरी है लगभग-

1) 1.6 km / 1.6 किलोमीटर

2) 1.5 km / 1.5 किलोमीटर

3) 1.4 km / 1.4 किलोमीटर

4) 1.7 km / 1.7 किलोमीटर

Ans- 2

13. Pochampalli is a town where most of the families, are weavers and the special cloth they weave is called Pochampalli. The town, where beautiful bright coloured Pochampalli sarees are made, is a part of –

पोचमपल्ली एक शहर है जहाँ के अधिकांश परिवार | बनाई का कार्य करते है और एक विशेष प्रकार का वस्त्र जिसे वह बुनते है, पोचमपल्ली कहलाता है। यह शहर, जहाँ सुन्दर चमकदार रंगों की साड़ियां बनती है, किस राज्य का भाग है?

1) Kerala / केरल

2) Karnataka / कर्नाटक

3) Tamil Nadu / तमिलनाडु

4) Telangana / तेलंगाना

Ans- 4 

14. What are the Crop Cutting Experiments used for ?

फसल कटाई परीक्षण (क्राप कटिंग एक्सपेरिमेंट) किसलिए किस जाते हैं ?

1) To demonstrate how efficiently the crop can be harvested. / यह प्रदर्शित करने के लिए कि फसल की कटाई कितनी कुशलता से की जा सकती है ।

2) To estimate yield / उपज का अनुमान लगाने के लिए

Advertisement

3) To assess crop damage / फसल के नुकसान का आकलन करने के लिए

4) None of the above / उपरोक्त में से कोई नहीं

Ans- 2 

15. A group of three diseases spread by mosquitoes is –

मच्छरों से फैलने वाली तीन बीमारियों का समूह है

1) Dengue, Malaria, Covid-19 / डेंगू, मलेरिया, कोविड- 19

2) Chikungunya, Dengue, HIV AIDS / चिकनगुनिया, डेंगू, HIV-AIDS 

3) Malaria, Dengue, Chikungunya / मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया

4) Covid-19, Chikungunya, Dengue / कोविड-19, चिकनगुनिया, डेंगू

Ans- 3 

Read More:-

CTET Exam: अगली शिफ्ट में बेहद काम आ सकते है ‘संस्कृत पेडागोजी’ के यह सवाल अभी पढ़े!

CTET PAPER ANALYSIS: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में पूछे जा रहे हैं कुछ इस लेवल के प्रश्न!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए ‘पर्यावरण NCERT’ से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (NCERT Environment MCQ For CTET) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है। 

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

CTET-UPTET पास कर सकेंगें आवेदन

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे. जिसके बाद अप्रैल महीने में ऑनलाइन मोड में UPTET परीक्षा आयोजित की जाएगी.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET Answer Key 2023: शिक्षक पात्रता परीक्षा की आंसर की करें डाउनलोड, जानें कब तक आयेगा परीक्षा परिणाम 

Published

on

By

Advertisement

CTET Answer Key 2023: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड याने CBSE द्वारा आयोजित की जाने वाली CTET परीक्षा आज 7 फ़रवरी को पूरी हो चुकी है, यह परीक्षा 28 दिसंबर अग़ल-अलग दिन दो शिफ्ट में आयोजित की जा रही है जिसमें शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी शामिल हुए है। अब परीक्षा की समाप्ति के बाद अभ्यर्थी अपनी आंसर की जारी होने का इंतज़ार कर रहे है, बता दें कि परीक्षा समाप्ति के कुछ दिन के भीतर ही CBSE द्वारा आंसर की जारी कर दी जाती है।

इस दिन जारी होगी आंसर की 

CTET परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों का इंतज़ार जल्द ही ख़त्म होने वाला है मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ CBSE द्वारा 11 फ़रवरी 2023 को आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर CTET पेपर 1 तथा पेपर 2 की आंसर की जारी कर दी जाएगी। इसके बाद मार्च माह में फाइनल आंसर-की तथा परीक्षा परिणाम जारी किया जा सकता है।

बता दें आंसर की लिंक ऐक्टिव होने के बाद उम्मीदवार अपने रजिस्ट्रेशन नंबर तथा जन्म तारीख़ की सहायता से आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन कर अपनी उत्तर कुंजी डाउनलोड कर पाएँगें।

Advertisement

परीक्षा में लागू होगा नॉर्मलिज़ेशन

सीबीएसई द्वारा दिसंबर 2021 में पहली बार CTET परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की गई थी, तथा इस बार भी यह परीक्षा ऑनलाइन ही आयोजित हुई है। चुकी परीक्षा का आयोजन अलग- अगल दिन कई शिफ़्टों में किया गया है लिहाज़ा परीक्षार्थियों के मध्य समान प्रतिस्पर्द्धा क़ायम रखने के लिए नॉर्मलिज़ेशन व्यवस्था को लागू किया गया है। बता दें कि परीक्षा में नॉर्मलिज़ेशन होने की जानकारी CBSE द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर पहले ही दे दी गई थी। 

CTET Exam Cut Off 2023

सीटीएटी परीक्षा में कैटेगरी वाइज कटऑफ़ निर्धारित किया गया है। पेपर 1 तथा पेपर 2 के लिए कट ऑफ अंक समान है। सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी को इस परीक्षा में पास होने के लिए 60 प्रतिशत अंक याने 150 नंबर के पेपर में 90 अंक लाना होगा, जबकि आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को 55 प्रतिशत अंक यानें 150 अंक के पेपर में 82 अंक लाना होगा।

CategoryMinimum qualifying percentageMinimum qualifying Marks
Schedule Caste (SC)55%82 out of 150
Schedule Tribe (ST)55%82 out of 150

CTET Exam 2023 Important FAQs

क्या सीटीईटी परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है?

नहीं, CBSE द्वारा आयोजित सीटीईटी परीक्षा में किसी भी प्रकार की नकारात्मक मार्किंग नहीं की जाती है।

सीटीईटी सर्टिफिकेट की वैद्यता कितने वर्ष होती है?

आजीवन, CTET परीक्षा पास करने वालों अभ्यर्थियों को मिलने वाले सर्टिफिकेट की वैद्यता लाइफ टाइम कर दी गई है जो पहले 7 वर्ष थी।

सीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए आयु सीमा क्या है?

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकतम उम्र सीमा निर्धारत नहीं है, हालाकि न्यूनतम आयु 18 वर्ष होना चाहिए।

सीटीईटी परीक्षा कितने बार दे सकते है?

उम्मीदवार जीतने बार चाहे उतने बार सीटीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते है, जो अभ्यर्थी इस परीक्षा में पास हो चुके है वे अपने स्कोर को सुधार के लिए दुबारा परीक्षा दे सकते है।

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET 2022-23: लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से परीक्षा में पूछे जा रहे है ये सवाल, अभी पढ़ें

Published

on

Lev Vygotsky's Theories Based MCQ For CTET
Advertisement

Lev Vygotsky’s Theories Based MCQ For CTET: शिक्षक बनने के लिए जरूरी सीटेट यानी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन 7 फरवरी 2023 तक ऑनलाइन सीबीटी मोड में किया  जा रहा है.  यह परीक्षा 29 दिसंबर 2023 से शुरू हुई थी तथा अब 3, 4, 6  तथा 7 फरवरी को परीक्षा का आयोजन होना बाकी है.  यदि आप भी आगामी सीटेट परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो इस आर्टिकल में दी गई जानकारी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं.

यहां पर हम नियमित रूप से सीटेट परीक्षा के लिए प्रैक्टिस सेट शेयर करते रहे हैं। इसी श्रृंखला में आज हम लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत पर आधारित कुछ ऐसे सवाल लेकर आए हैं, जो की परीक्षा में पूछे जा सकते हैं। तो लिए जाने इन महत्वपूर्ण सवालों को जो की इस प्रकार हैं।

Read More: CTET 2023: हर शिफ्ट में पूछे जा रहे है ‘जीन पियाजे’ के सिध्दांत से ये सवाल, इन्हें पढ़ कर पक्के करे नंबर

Advertisement

 लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से जुड़े संभावित प्रश्न—CTET Exam Lev Vygotsky’s Theories Related Questions

1. लेव वाइगोत्स्की के अनुसार, निम्न में से किसके लिए “समीपस्थ विकास क्षेत्र” का इस्तेमाल करना चाहिए?

1. अध्यापन और मूल्याँकन

2. केवल अध्यापन

3. केवल मूल्यांकन

4. प्रवाही बौद्धिकता की पहचान

Ans- 1 

2. एक विशिष्ट संप्रत्यय को पढ़ाने हेतु एक अध्यापिका बच्चे को आधा हल किया हुआ उदाहरण देती है। लेव वायगोत्सकी के अनुसार अध्यापिका किस रणनीति का इस्तेमाल कर रही है?

1. अवलोकन अधिगम

2. पाड़

3. द्वंद्वात्मक अधिगम

4. अनुकूलन

Ans- 2 

3. ‘समीपस्थ विकास के क्षेत्र का संप्रत्यय किसने प्रतिपादित किया है?

1. जेरोम ब्रूनर

2. डेविड ऑसबेल

Advertisement

3. रोबर्ट एम. गायने

4 लेव व्यागोत्सकी

Ans- 4

4. रश्मि अपनी कक्षा में विद्यार्थियों के सीखने की क्षमता को ध्यान में रखकर विभिन्न प्रकार के कार्यकलापों का उपयोग करती है और सहपाठियों द्वारा अधिगम को बढ़ावा देने के लिए समूह भी बनाती है। निम्नलिखित में से कौन-सा इसका समर्थन करता है?

1. सिग्मंड फ्रॉयड का मनो यौनिक सिद्धांत

2. लेव वायगोत्सकी का सामाजिक सांस्कृतिक सिद्धांत

3. लॉरेंस कोहलबर्ग का नैतिक विकास का सिद्धांत

4. बी. एफ. स्किनर का व्यवहारवादी सिद्धांत

Ans- 2 

5. वायोगात्सकी के सिद्धांत के अनुसार ‘निजी संवाद’ 

1. बच्चों के आत्मकेंद्रीयता का घोतक है।

2. बच्चों के क्रियाकलापों और व्यवहार का अवरोधक है।

3. जटिल कार्य करते समय बच्चे को उसके व्यवहार संचालन में सहायता देता है।

4. यह संकेत देता है कि संज्ञान कभी भी आंतरिक नहीं होता।

Ans- 3 

6. कौन सा कथन लेव व्यागोत्सकी के मूल सिद्धांत को सही मायने में दर्शाता है?

1. अधिगम एक अन्तमन प्रक्रिया है।

2. अधिगम एक सामाजिक क्रिया है।

Advertisement

3. अधिगम उत्पतिमूलक क्रमादेश है। 

4. अधिगम एक अक्रमबद्ध प्रक्रिया है जिसके चार चरण है।

Ans- 2 

7. इनमें से कौन-सा अध्यापक द्वारा पाड़ का उदाहरण नहीं है?

1. अनुकरण के लिए कौशलों का प्रदर्शन करना

2. रटना

3. इशारे एवं संकेत

4. सहपाठियों संग साझा शिक्षण

Ans- 2 

8. लेव वायगोत्सकी के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत को ……….. कहा जाता है क्योंकि वे तर्क देते हैं कि बच्चों का सीखना संदर्भ में होता है।

1. मनोगतिशील

2. मनोलैंगिक

3. सामाजिक सांस्कृतिक

4. व्यवहारात्मक

Ans- 3 

9. जब कोई अध्यापिका किसी विद्यार्थी को उसके विकास के निकटस्थ क्षेत्र पर पहुंचाने के लिए सहायता को उसके निष्पादन के वर्तमान स्तर के अनुरूप है, तो अध्यापिका किस नीति का प्रयोग कर रही है। कर रही है।

1. सहयोगात्मक अधिगम का प्रयोग

2. अंतर पक्षता का प्रदर्शन

Advertisement

3. पाड़

4. विद्यार्थी में संज्ञानात्मक द्वंद पैदा करना

Ans- 3

10. लेव वायगोत्सकी द्वारा दिए बच्चों के विकास का सिद्धांत किस पर आधारित है ?

1. भाषा और संस्कृति

2. भाषा और परिपक्वता

3. भाषा और भौतिक जगत

4. परिपक्वता और संस्कृति

Ans- 1

11.समीपस्थ विकास के क्षेत्र’ की संरचना किसने प्रतिपादित की थी?

1. लॉरेंस कोहल

2. लेव वायगोत्स्की

3. ज़ोरोंन ब्रूनर

4. जीन पियाजे

Ans- 2 

12. निम्न में से कौन-सा कथन बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के विषय में जीन पियाजे और लेव वायगोत्सकी के विचारों के बीच मुख्य अंतर दर्शाता है?

1. पियाजे बच्चों के स्वतंत्र प्रयासों द्वारा जगत को अनुभव करने पर जोर देते हैं, जबकि वायगोत्स्की संज्ञानात्मक विकास को सामाजिक मध्यस्थ प्रक्रिया के रूप में देखते हैं। 

2. पियाजे बच्चों को सक्रिय स्वतंत्र जीव के रूप में देखते हैं, जबकि वायगोत्स्की उन्हें मुख्यतः वातावरण द्वारा नियंत्रित जीव के रूप में देखते हैं।

Advertisement

3. पियाजे भाषा को बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं, जबकि विकास पर बल देते हैं।

4. पियाजे के अनुसार बच्चे अपने मार्गदर्शन के लिए स्वयं से बात कर सकते हैं, जबकि वायगोत्सकी के लिए बच्चों की बात आत्मकेन्द्रीयता का द्योतक है।

Ans- 1 

13. एक अध्यापिका शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में विद्यार्थियों को सहपाठियों से अंतः क्रिया कराकर एवं सहारा देकर अध्यापन करती है। यह शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया किस पर आधारित है ?

1. लॉरेंस कोहलबर्ग के नैतिक विकास सिद्धांत पर 

2. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास सिद्धांत पर

3. लेव वायगोत्स्की के सामाजिक-सांस्कृतिक सिद्धांत पर

4. हावर्ड गार्डनर के बहुआयामी बुद्धि सिद्धांत पर

Ans- 3 

14. वायगोत्स्की के सिद्धान्त के अनुसार ‘सहायक खोज’ किस में सहायक है।

1. संज्ञानात्मक द्वंद्व

2. उत्प्रेरक-प्रतिक्रिया सहचर्य

3. पुनर्बलन

4. सहपाठी- सहयोग

Ans- 4 

15. कक्षा में विद्यार्थियों को त्यौहारों को मनाने के अपने अनुभवों को साझा करने के देना और उसके आधार पर सूचना निर्मित करने को बढ़ावा देना किसका उदाहरण है। ?

1. व्यवहारवाद

2. पाठ्यपुस्तक आधारित अध्यापन

Advertisement

3. सामाजिक संरचनावाद

4. प्रत्यक्ष निर्देशन

Ans- 3

ये भी पढे:-

CTET 2022: सीटेट परीक्षा के लिए बुद्धि परीक्षण पर आधारित इन सवालों से करे अपनी अंतिम तैयारी!

CTET 2022: हिन्दी भाषा शिक्षण के इन सवालों से करे अपनी बेहतर तैयारी

Advertisement

Continue Reading

Trending