CTET Exam 2022: सृजनात्मकता से संबंधित इन प्रश्नों का अध्ययन परीक्षा में शामिल होने से पहले जरूर करें!

Advertisement

CDP MCQ Based on Creativity For CTET: सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट 2022 में अब महज कुछ ही दिनों का समय शेष रह गया है दिसंबर से जनवरी 2030 के बीच में परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन मोड में किया जाएगा। जिसमें शिक्षक बनने की चाह लिए लाखों अभ्यर्थी शामिल होंगे ऐसे में अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह परीक्षा के अंतिम दिनों में रिवीजन के साथ-साथ प्रैक्टिस सेट का अभ्यास करें जिससे कि अच्छे अंको से सफलता हासिल की जा सके।

यहां पर हम नियमित रूप से सीटेट परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न करते आ रहे हैं। इसी श्रंखला में आज हम  बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के अंतर्गत पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण टॉपिक सृजनात्मकता से संबंधित ऐसे महत्वपूर्ण प्रश्न आपके साथ शेयर कर रहे हैं, जो की परीक्षा की दृष्टि से बेहद ही महत्वपूर्ण है इस टॉपिक से पेपर में एक से दो प्रश्न पूछे जाते हैं।

  सृजनात्मकता (CREATIVIY)

Advertisement

“सृजानात्मकता का मतलब कुछ नया कार्य करना, नए विचार लाना नयी वस्तु बनाना, नवीन अनुसंधान करना आदि सृजनात्मकता के अंतर्गत आता है।” पूर्व की वस्तु, विचार, ज्ञान, कार्य आदि को पुनः व्यवस्थित कर नया रूप प्रदान करना ही सृजनात्मकता कहलाती है।

                                सृजनात्मकता = मौलिकता + उपयोगिता

प्रमुख कथन

क्रो एंड क्रो के अनुसार “सृजनत्मकता मौलिक परिणामों को व्यक्त करने की मानसिक प्रक्रिया है ।” 

जेम्स ड्रेवर के अनुसार “सृजनत्मकता मुख्यतः नवीन रचना उत्पाद मे होती है ।”

कोल एंड ब्रूस के अनुसार “सृजनात्मकता एक मौलिक उत्पादन के रुप में मानव मन की ग्रहण करके अभिव्यक्त करने और गुणांकन करने की योग्यता एवं प्रक्रिया है ।” 

 सृजनात्मकता की विशेषता-

1. जोखिम उठाना

2. कठिन कार्यों को करना

3. अन्यों के प्रति जागरुक

4. सदैव अग्रशील रहना

 Note- सृजनशील बालक जरुरी नहीं की प्रतिभाशाली हो 

 प्रतिभाशाली बालक हो सकता सृजनशील लेकिन सभी नहीं

सृजनात्मकता की प्रकृति- जन्मजात / अर्जित दोनों

सृजनात्मकता में कौन सा चिंतन- अपसारी चिंतन

Advertisement

• अभिसारी चिंतन (Convergent Thinking) :- केवल एक ही बिंदु पर केंद्रित होकर चिंतन करना अभिसारी चिंतन कहलाता है | इसमें अधिक विकल्पों और विचारों के फैलाव को स्थान नहीं होता है |

• अपसारी चिंतन (Divergent Thinking) :- जब किसी बालक को चिंतन के अनेक विकल्प और विचारों को अलग – अलग दिशाओ में फैलाने का अवसर दिया जाता है तो इसे अपसारी चिंतन कहते हैं ।

जैसे – आउट ऑफ द बोक्स चिंतन

सृजनशीलता के तत्व (Element of Creativity) :-

सृजनशीलता के कुछ समानार्थी यह विभिन्न संप्रत्यय वैज्ञानिक अनुसंधान, कलाकृतियों, संगीत, रचना, लेखन व काव्य कला, चित्रकल, भवन निर्माण आदि सृजशीलता के चार प्रमुख तत्व होते हैं ।

1. प्रवाह (Fluency) 

2. विविधता (Flexibility)                      

3. मौलिकता (Originality)

4. विस्तारण (Elaboration)

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में पूछे जाने वाले सृजनात्मकता से संबंधित प्रश्न— Questions related to creativity asked in Central Teacher Eligibility Test 2022

1. निम्न में से कौन-सी परिस्थिति सृजनात्मकता को बढ़ाने में सहायक होगी?

(1) सीखने हेतु सीमित अवसर हो

(2) बच्चों को उत्तर याद करने के लिए कहा जाए 

(3) किसी समस्या का समाधान बता दिया जाए

(4) जब बच्चों को स्वयं करके सीखने के लिए अधिक-से-अधिक अवसर दिए जाएँ

Ans- 4 

2. बच्चे तब सर्वाधिक सृजनशील होते हैं, जब वे किसी गतिविधि में भाग लेते हैं

(1) शिक्षक की डाँट से बचने के लिए

(2) दूसरों के सामने अच्छा करने के दबाव में आकर

Advertisement

(3) अपनी रुचि से

(4) पुरस्कार के लिए

Ans- 3 

3. निम्न में से कौन-सी सृजनात्मकता की विशेषता नहीं है?

(1) मौलिकता

(2) उत्पादकता

(3) अपरिवर्तनशीलता

(4) नवीन ज्ञान की खोज

Ans- 3 

4. निम्नलिखित में क्या, बच्चों की सृजनात्मकता के विकास में सहायक नहीं है? 

(1) खेल

(2) भाषण

(3) कहानी लेखन

(4) निर्माण सम्बन्धी क्रियाएँ

Ans- 2 

5. ‘सीखने का वह मॉडल’ जो बच्चों की सृजनात्मकता को उत्प्रेरित करता है

(1) बैंकिंग मॉडल

(2) रचनावादी मॉडल

Advertisement

(3) प्रोग्रामिंग मॉडल

(4) इनमें से कोई नहीं

Ans- 2 

6. एक मेधावी छात्र अध्ययन में बेहतर उपलब्धि हासिल नहीं कर पा रहा है। शिक्षक को निम्न में से उसके लिए कौन-सी गतिविधि अपनानी चाहिए?

(1) उसके बेहतर प्रदर्शन की प्रतिज्ञा

(2) उसकी कम उपलब्धि का कारण पता करना

(3) उसे परीक्षा में कृपांक देना

(4) उसके अभिभावक से कहना कि वह उसे स्कूल से निकाल लें.

Ans- 2 

7. निम्न में से कौन-सा शिक्षार्थियों में सृजनात्मकता का पोषण करता है? 

(1) अच्छी शिक्षा के व्यावहारिक मूल्यों के लिए विद्यार्थी का शिक्षण

(2) प्रत्येक शिक्षार्थी की अन्तर्जात प्रतिभाओं का पोषण करने एवं प्रश्न करने के अवसर उपलब्ध कराना

(3) विद्यालयी जीवन के प्रारम्भ से उपलब्धि के लक्ष्यों पर बल देना 

(4) परीक्षा में अच्छे अंकों के लिए विद्यार्थियों की कोचिंग करना

Ans- 2 

8. सृजनात्मक बालक में निम्नलिखित में से कौन-सा गुण नहीं पाया जाता है ?

(1) खोजपूर्ण प्रवृत्ति 

(2) अच्छी अन्तर्दृष्टि

Advertisement

(3) क्रियाशीलता 

(4) सीमित रुचियाँ

Ans- 4

9. बुद्धि एवं सृजनात्मकता में किस प्रकार का सह-सम्बन्ध पाया जाता है ?

(1) धनात्मक

(2) ऋणात्मक

(3) शून्य

(4) सभी

Ans- 1 

10. सृजनात्मकता की विशेषता होती है—

(1) मौलिकता

(2) प्रवाहशीलता

(3) लचीलापन

(4) उपर्युक्त सभी

Ans- 4 

11. सृजनात्मकता शिक्षार्थी (Creative Learner) वह है जो- 

(q) ड्राइंग और पेंटिंग में बहुत विलक्षण है 

(2) बहुत बुद्धिमान है

Advertisement

(3) परीक्षा में प्रत्येक बार अच्छे अंक प्राप्त करने के योग्य है

(4) पार्श्व (लेट्रल) चिन्तन और समस्या समाधान में अच्छा है

Ans- 4 

12. निम्न में कौन शिक्षार्थियों में सृजनात्मकता का पोषण करता है?

(1) विद्यालयी जीवन के प्रारम्भ करने से उपलब्धि के लक्ष्यों पर बल देना 

(2) परीक्षा में अच्छे अंकों के लिए विद्यार्थियों की कोचिंग करना

(3) अच्छी शिक्षा के व्यावहारिक मूल्यों के लिए विद्यार्थियों का शिक्षण 

(4) प्रत्येक विद्यार्थी की अन्तर्जात प्रतिभाओं का

Ans- 4 

Read More:-

CTET Bal Vikas MCQ: सीटेट परीक्षा में बेहतर परिणाम प्राप्त करने के लिए ‘बाल विकास’ के इन प्रश्नों का अध्ययन अवश्य करें

CTET Exam 2022: सीटेट परीक्षा की फाइनल तैयारी में शामिल करें ‘हिंदी पेडागॉजी’ के इन सवालों को

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए सृजनात्मकतापर आधारित महत्वपूर्ण सवालों (CDP MCQ Based on Creativity For CTET) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Leave a Comment