Connect with us

CTET

CTET 2022-23: अगली शिफ्ट में देखने को मिल सकते हैं ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ से जुड़े ऐसे प्रश्न!

Published

on

CDP MCQ For CTET 2022
Advertisement

CDP Model MCQ CTET Exam: सीटेट परीक्षा 28 दिसंबर से 7 फरवरी 2023 तक आयोजित की जानी है। जिसके लिए बोर्ड के द्वारा एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं। यदि आप भी इस परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे हैं, तो यहां पर हम परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों के द्वारा दिए गए फीडबैक के आधार पर बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र से जुड़े कुछ ऐसे सवाल लेकर आए हैं, जो कि आपको आगामी शिफ्ट में देखने को मिल सकते हैं। अभ्यर्थियों को इन प्रश्नों का अध्ययन एक बार अवश्य कर लेना चाहिए, ताकि अच्छे अंकों के साथ केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफलता हासिल की जा सके।

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न जो सीटेट परीक्षा में पूछे जा सकते हैं—CDP objective Type Questions CTET Exam

1. आकलन का उद्देश्य क्या है? 

The purpose of assessment is –

Advertisement

1) बच्चों को भययुक्त परिवेश में अध्ययन करने के लिए प्रेरित करना। / to motivate children to study under threat. 

2) बच्चों को ‘धीमी गति से सीखने वाले’, ‘प्रखर’ एवं ‘समस्यात्मक’ रूपों में चिन्हित करना। / to identify children as ‘slow’, ‘bright’ and ‘problematic’. 

3) अधिगम पर विश्वसनीय प्रतिपुष्टि देना। / to provide credible feedback on learning. 

4) कक्षा में प्रतियोगिताओं को प्रोत्साहित करना। / to encourage classroom competition.

Ans- 3 

2. वायगोत्स्की के सिद्धांत के अनुसार ‘निजी संवाद’- 

‘Private speech’ in Vygotsky’s theory-

1) बच्चों के आत्मकेंद्रीयता का द्योतक है। / is indicative of children’s Egocentrism. 

2) बच्चों के क्रियाकलापों और व्यवहार का अवरोधक है । / hinders children’s actions and behaviour. 

3) जटिल कार्य करते समय बच्चे को उनके व्यवहार संचालन में सहायता देता है। / helps children to regulate their behaviour while doing complex tasks. 

4) संकेत देता है कि संज्ञान कभी भी आंतरिक नहीं होता है। / is an indication that cognition is never internalized.

Ans- 3 

3. लेव वायगोत्सकी के ‘समीपस्थ विकास के क्षेत्र’ सिद्धान्त में शब्दावली ‘समीपस्थ’ दर्शाती है कि दी गई सहायता शिक्षार्थी की वर्तमान दक्षता की तुलना में – 

In the concept of Zone of proximal development proposed by Lev Vygotsky, the term ‘Proximal’ indicates that the assistance provided ——————- learners current competence.

1) कुछ नीचे है। / goes just below 

Advertisement

2) कुछ ऊपर है। । goes just beyond

3) उसी स्तर पर है। / is linear with

4) बहुत ऊपर है। / is far beyond

Ans- 2 

4. जीन पियाजे द्वारा दिए गए ज्ञान के क्षेत्रों में निम्नलिखित कथनों में से कौन सा कथन सही है? 

According to the domains of knowledge given by Jean Piaget, which of the following statement is true?

1) संख्याएं भौतिक ज्ञान में आती है क्योंकि बच्चे संख्याओं को वस्तुओं की गणना से संबंधित करके सीखते हैं। Numbers come under physical knowledge as children learn numbers by associating them with counting of objects. 

2) संख्याएं सामाजिक परम्परागत ज्ञान में आती हैं, क्योंकि बच्चे इन्हें वास्तविक दुनिया के अनुभवों से सीखते हैं। / Numbers come under social conventional knowledge as children learn through real world experiences. 

3) संख्याएं तर्कसंगत गणितीय ज्ञान में आती है, क्योंकि संख्याए” वे सम्बन्ध हैं जिनकी रचना बच्चा मन में करता है। Numbers come under logico-mathematical knowledge as numbers are the relationships a child creates mentally. 

4) संख्याएं सामाजिक सांस्कृतिक ज्ञान में आती है, क्योंकि प्रत्येक संस्कृति में संख्याओं को अलग तरीके से दर्शाया जाता है।। Numbers come under socio-cultural knowledge as each culture represents numbers differently.

Ans- 3 

5. निम्न में से किसने सामान्य बुद्धि के विचार को नकारा और बुद्धि को अनेक विशिष्ट संसाधन संक्रियाओं के पदों के रूप में परिभाषित किया है?

Who dismissed the idea of general intelligence and defined intelligence in terms of several distinct set of processing operations?

1) चार्ल्स स्पीयरमैन / Charles Spearman 

2) अल्फ्रेड बिने / Alfred Binet

3) थियोडोर साईमन / Theodore Simon

4) हॉवर्ड गार्डनर / Howard Gardner

Ans- 4 

Advertisement

6. अर्जुन अक्सर, पर्यावरण अध्ययन (EVS) की कक्षा में विद्यार्थियों से, खेल के मैदान से लौटते हुए क्या देखा, उसके विषय में रोचक प्रश्न पूछते हैं। इस प्रकार वे विद्यार्थियों के किस कौशल का आकलन करते हैं –

Mr. Arjun often asks interesting questions in the EVS class regarding what students saw while they were walking down the playground after games class. By this, Mr. Arjun is assessing students’:

1) श्रवण कौशल / listening skills

2) चिन्तन कौशल / thinking skills

3) अवलोकन कौशल / observation skills 

4) संवेगात्मक कौशल / emotional skills

Ans- 3 

7. विद्यार्थियों में पाई जाने वाली वैयक्तिक भिन्नताओं को संबोधित करने के लिए विद्यालयों को किस तरह की शिक्षणशास्त्रीय युक्तियां अपनानी चाहिए? 

What pedagogical strategies should schools adapt to address individual differences among students?

1) सभी विद्यार्थियों के लिए एक समान पाठ्यचर्या और आकलन अपनाना। / Follow uniform curriculum and assessment for all students. 

2) विद्यार्थियों को उनकी संज्ञानात्मक योग्यताओं के आधार पर वर्गीकृत करना और उन्हें पृथक अनुभागों में पढ़ाना। / Categorize children based on their cognitive abilities and teach them in separate sections.

3) लचीलेपन का भाव रखते हुए बच्चों की वैयक्तिक भिन्नताओं को पोषित करना। / Cater to the individual needs of children by being flexible, 

4) यह सुनिश्चित करना कि सभी बच्चों की वैयक्तिक भिन्नताओं को दूर किया जाए। / Ensure that all individual differences among the children are removed.

Ans- 3

8. बहुआयामी बुद्धि का सिद्धांत किसके द्वारा दिया गया है ? 

The theory of multiple intelligence is given by –

1) हावर्ड गार्डनर / Howard Gardner

2) रॉबर्ट स्टर्नबर्ग / Robert Sternberg

Advertisement

3) अल्फर्ड बिने / Alfred Binet 

4) बी. एफ. स्किनर / B. F. Skinner

Ans- 1 

9. निम्नलिखित में से अवधान कमी अतिसक्रियता व्यतिक्रम (ADHD) वाला बच्चा किस तरह की विशेषता दर्शाता है? 

Which characteristic is a student with Attention Deficit hyperactivity Disorder (ADHD) to have?

1) बैठकर चुपचाप काम करने की प्रवृत्ति । / Tendency to sit and do work quietly.

2) आसानी से विचलित होने की प्रवृत्ति। / Tendency to get distracted easily. 

3) दूसरों को ध्यानपूर्वक सुनने की प्रवृत्ति। / Tendency to listen to others carefully for long. 

4) बिना रुके लंबे गद्यांश पढ़ने की क्षमता। / Ability to read long passages without breaks.

Ans- 2 

10. विद्यार्थी निम्न में से किसे नए ज्ञान के निर्माण का आधार बनाते है? 

Children construct new knowledge on the basis of:

1) जो उनके द्वारा पहले से ही समझा और माना जाता है। / what is already understood and believed by them. 

2) जो उनके लिए अस्पष्ट और अप्रासंगिक है। / what is ambiguous and irrelevant for them. 

3) जो उनके लिए पूरी तरह से अपरिचित और अज्ञात है। । what is completely alien and foreign to them. 4) जो उनके वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर से बहुत परे है। । what is extremely beyond their current cognitive level.

Ans- 1  

11. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है? 

Which of the following statement is correct?

Advertisement

1) विकास क्रमबद्ध नहीं होता है। / Development is not sequential.

2) विकास अव्यवस्थित होता है। / Development is disorderly.

3) विकास एक सतत प्रक्रिया है। / Development is a continuous process.

4) विकासात्मक प्रतिमान सांस्कृतिक परिवेश से प्रभावित नहीं होते हैं। / Development milestones are not influenced by the cultural context.

Ans- 3 

12. कथन (A): विद्यालयों को छात्रों में पाठ्य पुस्तकों को याद करके, पुन: पेश करने की योग्यता के स्थान पर उनमें अपनी आवाज़ उठाने, जिज्ञासा शांत करने, क्रियाशील होने, प्रश्न पूछने के बाद वाद-विवाद करने, समूह में कार्य करने की योग्यता विकसित करनी चाहिए। 

तर्क (R) : अधिगम का स्वरूप क्रियाशील एवं सामाजिक है।

सही विकल्प चुनें।

Assertion (A): Schools must enable children to find their voices, nurture their curiosity- to do things, to ask questions, to engage in discussions and do group work-rather than building their ability to reproduce textual knowledge. 

Reason (R) : Learning is active and social in its character.

Choose the correct option.

1) (A) और (R) दोनों सही हे और (R) (A) की सही व्याख्या करता है। / Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). 

2) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) (A) की सही व्याख्या नहीं करता है। / Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A).

3) (A) सही है लेकिन (R) गलत है। / (A) is true but (R) is false.

4) (A) और (R) दोनों गलत है। / Both (A) and (R) are false.

Ans- 1 

13. निम्नलिखित में से कौन सा अभ्यास अधिगम अक्षमता वाले विद्यार्थियों का समावेशन सुनिश्चित करने में प्रभावी होगा? 

Which of the following practice will be effective in ensuring inclusion of students with learning disabilities?

Advertisement

1) अभिव्यक्ति के लिए केवल निश्चित विधा को अनुमति दें। / Allow only fixed mode of expression 

2) विफलता का आरोपण क्षमता की कमी को मानें। / Attribute failure to lack of ability 

3) बहुत लंबे और बारम्बार दत्तकार्य दें। / Give very long and frequent assignments 

4) जानकारी प्राप्त करने के लिए कई विकल्प प्रदान करें। । Provide several alternatives for receiving information

Ans- 4 

14. निम्नलिखित में से कौन-सी गणित में रचनात्मक मूल्यांकन की विधि नहीं हो सकती है?

Which of the following cannot be the methods of formative assessment in mathematics?

1) परियोजना / Project

2) प्रश्नोत्तरी (क्विज़) / Quiz 

3) दैनिकी विवरण (जर्नल एनट्रीज़) / Journal entries

4) सत्रांत परीक्षा / Term-end examination

Ans- 4 

15. एक विद्यालय, लड़कियों को केवल संगीत और नृत्य प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करता है। विद्यालय का यह दृष्टिकोण क्या दर्शाता है? 

A school encourages girls to participate only in music and dance competitions and boys to only take part in sports.

This perspective of the school –

1) जैंडर आधारित रूढ़िवादी धारणा को चुनौती देता है। । would challenge gender stereotyping. 

2) लड़कियों और लड़कों की सहजात योग्यताओं में वृद्धि करने का व्यवहारिक उपागम है। / is a pragmatic approach to foster inmate abilities of boys and girls. 

3) यह जैंडर संबंधी पूर्वाग्रहों को दर्शाता है। / reflects gender bias. 

Advertisement

4) यह प्रशासन के प्रगतिशील दृष्टिकोण को दर्शाता है। / indicates progressive approach of the administration.

Ans- 3

Read More:-

CTET 2022-23: सीटेट परीक्षा में ‘गणित पेडागोजी’ से जुड़े यह सवाल दिलाएंगे आपको बेहतर परिणाम!

CTET 2022-23: ‘पर्यावरण NCERT’ पर आधारित इन रोचक सवालों से करें सीटेट परीक्षा की फाइनल तैयारी!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए ”बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र”’ से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (CDP Model MCQ CTET Exam) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

इन उम्मीदवारों को मिलेगी एंट्री

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET 2023: ‘पक्षियों’ से जुड़े बेहद रोचक सवाल, जो सीटेट की सभी शिफ्ट में पूछे जा रहे हैं!

Published

on

By

EVS MCQ on Birds For CTET
Advertisement

EVS MCQ on Birds For CTET: शिक्षक के रूप में कैरियर बनाने की चाहत लिए लाखों अभ्यर्थी प्रतिवर्ष सीबीएसई के द्वारा संचालित सिटी परीक्षा में शामिल होते हैं। इस वर्ष किस परीक्षा का आयोजन 28 दिसंबर से किया जा रहा है। अगर आप भी इस परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं, तो यहां पर हम आपके लिए पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत पक्षियों पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न लेकर आए हैं। इस टॉपिक से पेपर में एक से दो प्रश्न पूछे जा रहे हैं अभ्यर्थियों को इन प्रश्नों का अध्ययन एक बार अवश्य कर लेना चाहिए।

Read More:- UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

CTET Environment MCQ on Birds—पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत पक्षियों पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न

1) किस प्रकार के पक्षी की चोंच मीट को काटने और खाने के काम आती है?

Advertisement

1. तिकोने आकार की चोंच

2. सीधी और पतली चोंच

3. हुक जैसी चोंच

4. लम्बी पतली सुई जैसी चोंच

Ans- 3

2) पक्षियों की एक स्पीशीज (प्रजाति) ऐसी है, जिसका नर पक्षी सुन्दर सुन्दर घोंसले बुनता है। मादा पक्षी उन सभी पोसलों को देखती है। उनमें से वह उसे चुनती है जो उसे सबसे अच्छा लगता है और उसी में अंडे देती है। पक्षियों की इस स्पीशीज का नाम है.

1. कोयल

2. वीवर पक्षी

3. शक्कर खोरा

4. वसंत गौरी

Ans- 2

3) अपनी गर्दन को पीछे तक घुमा सकने वाला पक्षी है.

1. कबूतर 

2. तोता

3. उल्लू 

Advertisement

4. मैना

Ans- 3

4) अपनी गर्दन को झटके से आगे पीछे कर सकने वाला पक्षी है.

1. कबूतर (कपोत)

2. तोता

3. उल्लू

4. मैना

Ans- 4

5) तीन पक्षियों का वह समूह जिसका प्रत्येक सदस्य वस्तुओं को हमारी तुलना में, चार गुना अधिक दूरी स्पष्ट देख सकता है, जो वस्तु हमें दो मीटर की दूरी से दिखाई देती है उसे ही ये पक्षी आठ मीटर दूरी से देख लेते हैं) कौन सा है

1 बाज़, कौआ, कबूतर

2 बाज़, चील, गिद्ध

3 कबूतर, तोता, चील 

4 कोआ, चील, बुलबुल

Ans- 2

6) पक्षियों की उस प्रजाति का नाम क्या है जिसमें नर पक्षी अनेक सुन्दर घोंसले बनाते हैं और मादा पक्षी उनमें से केवल एक घोंसला चुनते हैं और उसमें अण्डे देते हैं? 

1. कलचिड़ी

2. शकरखोरा

3. दर्जिन चिड़िया 

Advertisement

4. बया (वीवर)

Ans- 4

7. उस पक्षी का नाम जिसकी आंखें मानवों की तरह सामने की तरफ होती हैं:

1. चील

2. बाज

3. गिद्ध

4. उल्लू

Ans- 4

8) तीन पक्षियों का वह समूह जिसका प्रत्येक सदस्य वस्तुओं को हमारी तुलना में, चार गुना अधिक दूरी स्पष्ट देख सकता है, जो वस्तु हमें दो मीटर की दूरी से दिखाई देती है उसे ही ये पक्षी आठ मीटर दूरी से देख लेते हैं) कौन सा है

1 बाज़, कौआ, कबूतर

2 बाज़, चील, गिद्ध 

3 कबूतर, तोता, चील 

4 कोआ, चील, बुलबुल

Ans- 2

9) निम्नलिखित में से कौन सा सबसे छोटा प्रवासी पक्षी है जो उत्तरध्रुवीय क्षेत्र से भारत आता है:

1. सीखपर बत्तख (पिनटेल डक)

2. छोटी मतस्यकुररी (ऑस्प्रे) 

3. हंसावर (फ्लेमिंगो) 

Advertisement

4. छोटी जलरंक (स्टिंट)

Ans- 4

10) एक छोटे से पेड़ या झाड़ी की शाखा से लटकने वाला घोंसला बनाने वाला पक्षी है। 

1. सूर्यपक्षी / शक्कर खोरा

2. कौवा 

3. बारबेट / बसंतगौरी

4. भारतीय रॉबिन / कलचिड

Ans- 1

Read More:-

CTET 2023: ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ के इस लेवल के सवाल पूछे जा सकते हैं आने वाली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

CTET Exam: परीक्षा हॉल में बहुत काम आने वाले हैं ‘हिंदी पेडागॉजी’ के यह प्रश्न!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए ”पक्षियों” से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (EVS MCQ on Birds For CTET) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Published

on

By

Albert Bandura's Social Learning Theory for CTET AND TET Exams
Advertisement

Albert Bandura Theory Based Questions CTET: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन सीबीएसई बोर्ड के द्वारा 28 दिसंबर 2022 से किया जा रहा है। परीक्षा वर्तमान समय में जारी है, जो कि 7 फरवरी 2023 तक जारी रहेगी। अगर आप भी इस परीक्षा में शामिल होने वाले हैं, तो यहां पर हम आपके लिए अल्बर्ट बंडूरा के द्वारा दिए गए सिद्धांत पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न लेकर आए हैं। जो कि आपको परीक्षा में बेहद काम आने वाले हैं। विगत शिफ्ट में इस टॉपिक से प्रश्न पूछे जा रहे हैं। ऐसे में आगामी चरण में भी यहां से प्रश्न पूछे जाने की प्रबल संभावना है।

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न—MCQ on Albert Bandura Social Learning Theory For CTET Exam

1. अल्बर्ट बंडूरा ने प्रयोग किया?

A- कुत्ते पर

Advertisement

B-गुड़िया पर

C-जोकर पर

D-B और C दोनों पर

Ans- D 

2. सामाजिक अधिगम का सिद्धांत किसने दिया?

A- वाइगोत्सकी

B-जीन पियाजे

C- अल्बर्ट बंडूरा

D-कोहलबर्ग

Ans- C 

3. बंडूरा के अनुसार अनुकरण की प्रक्रिया के कितने चरण हैं?

A- पांच

B- सात

C- चार

D-दस

Advertisement

Ans- C 

4. अल्बर्ट बंडूरा ने अपना सिद्धान्त कब दिया?

A-1994

B-1977

C-1897

D-1920

Ans- B 

5. जिस माध्यम से बच्चा अनुकरण के द्वारा सीखता है उसे अल्बर्ट बंडूरा ने क्या कहा?

A-उत्पाद

B-मॉडल

C-स्की मा

D- पुनर्बलन

Ans- B

6. Social Foundations of Thought and Action पुस्तक किसकी है

A- जीन पियाजे

B-अरस्तू

C- अल्बर्ट बंडूरा

D-कोहलबर्ग

Advertisement

Ans- C 

7. …………… के अनुसार, बच्चों के चिंतन के बारे में सामाजिक प्रक्रियाओं तथा सांस्कृतिक संदर्भ के प्रभाव को समझना आवश्यक है।

A-लॉरेंस कोलबर्ग

B-जीन पियाजे

C-लेब वायगोट्स्की

D-अलबर्ट बैन्डुरा

Ans- C 

8. – बच्चों को संकेत देना तथा आवश्यकता पड़ने पर सहयोग प्रदान करना निम्नलिखित में से किसका उदाहरण है?

A-प्रबलन

B-अनुबंधन

C-मॉडलिंग

D-पाड़ (ढाँचा)

Ans- D

9. अल्बर्ट बैन्ड्यूरा के सामाजिक अधिगम सिद्धांत के अनुसार निम्न में से कौन-सा सही है?

A-बच्चों के सीखने के लिए प्रतिरूपण (मॉडलिंग) एक मुख्य तरीका है

B-अनसुलझा संकट बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है

C-संज्ञानात्मक विकास सामाजिक विकास से स्वतंत्र है

D-खेल अनिवार्य है और उसे विद्यालय में प्राथमिकता दी जानी चाहिए

Advertisement

Ans- A 

10. कोहलबर्ग के अनुसार, शिक्षक बच्चों में नैतिक मूल्य का विकास कर सकता है-

A-” कैसे व्यवहार किया जाना चाहिए ” इस पर कठोर निर्देश देकर

B-धार्मिक शिक्षा को महत्त्व देकर

C- व्यवहार के स्पष्ट नियम बनाकर

D-नैतिक मुद्दों पर आधारित चर्चाओं में उन्हें शामिल करके

Ans- D

11. लारिंस कोहलबर्ग विकास के क्षेत्र में शोध के लिए जाने जाते हैं।

A-संज्ञानात्मक

B-शारीरिक

C-नैतिक

D- गामक

Ans- C 

12. कोहलबर्ग के अनुसार सही और गलत प्रश्नों के बारे में निर्णय लेने में शामिल चिंतन प्रक्रिया को कहा जाता है

A-सहयोग की नैतिकता

B-नैतिक तर्कणा

C-नैतिक यथार्थवाद

D-नैतिक दुविधा

Advertisement

Ans- B

13. लॉरेंस कोहलबर्ग के द्वारा प्रस्तावित निम्नलिखित चरणों में से प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे किन चरणों का अनुसरण करते हैं?

(1) आज्ञापालन और दंड – – उन्मुखीकरण

(2) वैयक्तिकता और विनिमय

(3) अच्छे अंत : वैयक्तिक संबंध

(4) सामाजिक अनुबंध और व्यक्तिगत अधिकार

A-2 और 1

B-2 और 4

C-1 और 4

D-1 और 3

Ans- A 

14. करनैल सिंह कानूनी कार्यवाही तथा खर्चों के बावजूद आय कर नहीं देते। वे सोचते हैं कि वे एक भ्रष्ट सरकार को समर्थन नहीं दे सकते, जो अनावश्यक बाँधों के निर्माण पर लाखों रुपये खर्च करती हैं । वे संभवतः कोहलबर्ग के नैतिक विकास की किस अवस्था में हैं?

A-परंपरागत

B-पश्च परंपरागत

C-पूर्व परंपरातगत

D-परा-परंपरागत

Ans- B

15. एक शिक्षिका अपनी कक्षा से कहती है, ‘सभी प्रकार के प्रदत्त’ कार्यों का निर्माण इस प्रकार किया गया है कि प्रत्येक विद्यार्थी अधिक प्रभावशाली ढंग से सीख सके, अतः सभी विद्यार्थी बिना किसी अन्य की सहायता से अपना कार्य पूर्ण करें। वह कोहलबर्ग के किस नैतिक विकास के चरण की ओर संकेत दे रही है?

Advertisement

A-पूर्व औपचारिक चरण 2 वैयक्तिकता और विनिमय

B-औपचारिक चरण 4 कानून और व्यवस्था

C-पर – औपचारिक चरण 5 सामाजिक संविदा

D- पूर्व – औपचारिक चरण 1 दंड परिवर्जन

Ans- B

Read More:-

CTET 2023: ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ के इस लेवल के सवाल पूछे जा सकते हैं आने वाली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

CTET Exam 2023: ‘पर्यावरण’ के इन सवालों को परीक्षा हॉल में जाने से पहले एक बार जरूर पढ़ें!

Advertisement

Continue Reading

Trending