Rajasthan current affairs

Rajasthan Sports Awards || राजस्थान के प्रमुख खेल पुरस्कार

Rajasthan Sports Awards

राजथान  राज्य  क्रीड़ा  परिषद,  राजस्थान  संस्था  पंजीकरण  अधिनियम,  1958  के  अंतर्गत  एक  पंजीकृत  संस्था  है,  जो  देश  में  युवा मामले  एवं  खेल  विभाग  के  नियंत्रण-  में  राज्य  में  खेल  के  विकास  की  सर्वोच्च  संस्था  है।

राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय खेलों में देश का नाम रोशन करने वाली खिलाडियों को केंद्र सरकार के अतिरिक्त राज्य सरकार भी अपने स्तर पर भी पुरुस्कृत करके प्रोत्साहित करती है।
खिलाडियों के लिए महाराणा प्रताप पुरस्कार तथा प्रशिक्षकों के लिए गुरु वशिष्ठ पुरुस्कार राज्य में सर्वोच्च स्थान रखते है।
महाराणा प्रताप पुरुस्कार के अंतर्गत सम्मानित होने वाले खिलाडियों को ₹100000 नगद प्रशस्ति पत्र 19 किलो 800 ग्राम भार वाली महाराणा प्रताप की ताम्र प्रतिमा, ब्लेजर तथा टाई भेंट जाते हैं। अब तक इस पुरुस्कार से कुल 122 खिलाडियों को सम्मानित किया जा चुका है।
इस पुरस्कार से सर्व प्रथम सम्मानित होने वाले खिलाडियों में श्री गोपाल सैनी (एथलेटिक्स), डॉ करनी सिंह (शूटिंग) तथा श्री रघुवीर सिंह (घुड़सवारी) शामिल है जिने 1982-83 में इस पुरस्कार द्वारा नवाजा गया।
इस पुरस्कार का अंतिम समारोह मई 2017 में जयपुर में आयोजित किया गया जिसमें कुल 41 खिलाडियों को सम्मानित किया गया। इन खिलाड़ियों ने 2008 से 2016 तक पुरस्कार जीता था।-
खिलाडियों के नाम निम्न प्रकार है
सतीश  जोशी,  राकेश  कुमार,  विशाखा  विजय,  नारायण  सिंहमाला  सुखवाल,  किरण  टांक,  गिरिराज,  जगसीर,  नरेंद्र सिंह ,  ओम  प्रकाश,  समरजीत,  दयालाराम,  रवि  राठौड़, बलविंदर सिंह,  कमलेश  कुमार  शर्मा,  शेखर  सिंह  यादव,  राकेश  रलिया,  दयालाराम  साहरण,  मनीषा  राठौड़,  अपूर्वी  चंदेला,  रमेश  सिंह,  महेंद्र  रावल,  संदीप  सिंह  मान,  घमंडा  राम,  पाना  चौधरी,  दिलीप खोईवाल,  मंजू  बाला,  सुरेश  विश्नोई,  संदीप  कुमार,  राजेंद्र विश्नोई,  रजत  चौहान,  लवमीत  कटारिया,  सुमित्रा  शर्मा,  महेश  नेहरा,  विनीत  सक्सेना,  अजय  सिंह,  मुकेश  चौधरी  वुशू,  सीमा  पूनिया,  स्वाति दूधवाल,  सोनम  गोबा,  अभिनव।

गुरु वशिष्ठ पुरुस्कार

Advertisement
गुरु वशिष्ठ पुरुस्कार के अंतर्गत सम्मानित होने वाले प्रशिक्षकों को ₹100000 नगद, प्रशस्ति पत्र 8 किलो 800 ग्राम भार वाली गुरु वशिष्ठ की ताम्र प्रतिमा, ब्लेजर तथा टाई भेंट जाते हैं। इस पुरुस्कार से अब तक 25 प्रशिक्षकों को सम्मानित किया जा चुका है।
इस पुरस्कार से सर्व प्रथम सम्मानित होने वाले प्रशिक्षकों में श्री पोकरमल (एथलेटिक्स), तथा श्री रामदेव शर्मा (साइकिलिंग) शामिल है जिने 1985-86 में इस पुरस्कार द्वारा नवाजा गया।
उपरोक्त वर्णित समारोह के दौरान कुल 13 प्रशिक्षकों को इस पुरस्कार से नवाजा गया था।
इनके नाम निम्न प्रकार हैं-
  • वीरेंद्र  पूनिया
  • अमित  असावा
  • अमृतलाल  कल्याणी
  •   महिपाल  ग्रेवाल
  • करण  सिंह
  • जयंती  लाल  ननोमा
  • राजेश  टेलर
  • रामप्रसाद  टेलर
  • धनेश्वर  मईडा
  • अशोक  चौधरी
  • सागरमल धायल
  • यादवेन्द्र  सिंह
  • श्रवण  भांभु
राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद के द्वारा वर्ष 2016-17 2017-18 के लिए महाराणा प्रताप एवं गुरु वशिष्ठ पुरस्कार की घोषणा कर दी गई है।

महाराणा प्रताप पुरस्कार 2016-17

  • सपना पूनिया- एथलेटिक्स
  • खेताराम -एथेलेटिक्स 
  • सर्वेश पारीक -तिरंदाजी

महाराणा प्रताप पुरस्कार 2017-18

  • सुमन ढाका -पैरा एथलीट 
  • सुंदर सिंह गुर्जर- पैरा एथलीट 
  • मनोहर लाल -साइकिलिंग 
  • अभिषेक पाराशर -जिमनास्ट

गुरु वशिष्ठ पुरस्कार

  • महेश कुमार रंगा -साइकिलिंग 
  • रमेश सिंह- रोल बॉल
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button