Guthrie Theory of Learning in Hindi || गुथरी का सिद्धान्त 

Guthrie Theory of Learning in Hindi || गुथरी का समीपता अनुबन्धन सिद्धान्त

दोस्तो, इस पोस्ट मे हम गुथरी का समीपता अनुबंधन का सिद्धांत (Guthrie Theory of Learning in Hindi ) का अध्ययन करेंगे। समीपता अनुबंध सिद्धांत का प्रतिपादन अमेरिकी मनोवैज्ञानिक एडविन रे गुथरी (Edwin Ray Guthrie) ने किया। गुथरी ने माना कि उद्दीपक अनुक्रिया के बीच समीपता के आधार पर इसके बीच अनुबंधन स्थापित होता है। गुथरी के सिद्धांत को उद्दीपन अनुक्रिया समीपता सिद्धांत भी कहा जाता है।

सिद्धांत –  स्थापनापन्नता का सिद्धांत

अन्य नाम-  एकल प्रयास सिद्धांत

प्रतिपादक-  एडविन गुथरी (जन्म – 1886 , मृत्यु-1959 ई.)

निवासी-  अमेरिका

प्रयोग –  खरगोश

गुथरी का समीपता अनुबंधन का सिद्धांत (Guthrie Theory of Learning in Hindi)

  • इस सिद्धांत के अनुसार उद्दीपक तथा अनुक्रिया के बीच अनुबंध पुनर्बलन के द्वारा नहीं बल्कि यह उद्दीपक वा अनुक्रिया के बीच समीपता के आधार पर होता है। इसीलिए इसे उद्दीपक अनुक्रिया समीप का सिद्धांत कहते हैं।  
  • इस सिद्धांत में ‘उत्तेजना’  तथा ‘अनुक्रिया’  के मध्य संबंध स्थापित करने पर बल दिया जाता है। 
  •  गुथरी  के अनुसार सीखना उद्दीपक व अनुक्रिया के मध्य पुनर्बलन के आधार पर नहीं बल्कि समीपता के आधार पर होता है। 
  • सीखना एक ही प्रयास का परिणाम होता है। 
  • गुथरी के अनुसार सीखना अनुक्रिया  को उत्तेजको की तरफ प्रतिस्थापित करने की प्रक्रिया है।
  • इसके अनुसार सीखने के लिए कई प्रयासों की जरूरत नहीं  व्यक्ति एक ही प्रयास में सीख जाता है। इसे इन्होंने इकहरा प्रयास सीखना भी कहा है।  जैसे पेंसिल पकड़ना।  परंतु जटिल क्रियाओं में अभ्यास की जरूरत होती है।  जैसे साइकिल चलाना। 
  • इस सिद्धांत में प्रयोग –  3 साल का बालक पीटर पर किया गया जिसमें पहले पीटर उत्तेजको के विशेष गुड मैत्रीपूर्ण मिसेज जोन्स व पसंद वाले भोजन के प्रति प्रतिक्रिया उत्पन्न की अनुबंधन  की क्रिया द्वारा वे प्रतिक्रियाएं एक नए उत्तेजक खरगोश की  तरफ प्रतिस्थापित हो गई। 

Principle of Theory

1. समीपता का सिद्धांत –  उद्दीपन और अनुक्रिया के बीच समीपता होने के कारण अनुबंध होता है। 

2. प्रतिस्थापन का सिद्धांत –  अनुक्रियाओं को उत्तेजको की तरफ विस्थापित किया जाता है। 

3. एकल प्रयास का सिद्धांत –  उद्दीपन तथा अनुक्रिया के बीच संबंध प्रथम प्रयास में अधिक होता है। 

शैक्षिक महत्व

 पहले विद्यार्थियों को एक विशेष प्रकार से कार्य संपादन करने को कहें, फिर जब वह इसे कर रहा है। उसको वह उत्तेजक दे जो आप उस व्यवहार के साथ संबंधित करना चाहते हैं।

For more updates please follow our social media handle

Leave a Comment