Connect with us

CTET

CTET Mathematics Pedagogy: ‘गणित शिक्षण शास्त्र’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल जो आपको सीटेट परीक्षा में जरूर पूछे जाएंगे!

Published

on

Advertisement

Mathematics Pedagogy Model MCQ For CTET: हर साल लाखों अभ्यर्थी शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होते हैं । अगर आप ही शिक्षक के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आपके लिए सीटेट परीक्षा को क्वालीफाई करना बेहद आवश्यक हो जाता है। वर्ष 2022 के लिए परीक्षा का आयोजन जल्द ही किया जाएगा। जिसमें बेहतर परिणाम प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों को एक रणनीति के तहत पढ़ाई करनी होगी। ताकि अच्छे अंकों के साथ सफलता हासिल की जा सके यहां पर सीटेट परीक्षा में शामिल होने वाले लाखों अभ्यर्थियों के लिए गणित शिक्षण शास्त्र पर आधारित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न लेकर आए हैं जो कि इस प्रकार है ।

सीटेट परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है गणित पेडागोजी के यह प्रश्न—Top 15 MCQ Based on Mathematics Pedagogy CTET Exam 2022

1. ‘वैन हिले के ज्यामितीय स्तर के अनुसार जो विद्यार्थी आकृतियों को दिखावट के अनुसार वर्णित और वर्गीकृत कर सकते हैं, वे हैं –

A. स्तर 1- विश्लेषण

Advertisement

B. स्तर 2- अनौपचारिक निगमन

C. स्तर 3 – औपचारिक निगमन

D. स्तर 0-मानसिक चित्रण

Ans- D

2. वैल हिले की ज्यामितीय सोच के विकास के स्तर के अनुसार, निम्न में से कौन स्तर -2 (संबंध पहचानना) को दर्शाता है ?

A. एक बच्चा समान दिखने वाली विभिन्न आकृतियों को वर्गीकृत कर सकता है। 

B. बच्चा आकार या अभिविन्यास के आधार पर नहीं बल्कि गुणों के आधार पर आकृतियों की पहचान और वर्गीकरण करता है।

C. बच्चा किसी दिए गए ज्यामितीय आकार के सामान्य गुणों को अनौपचारिक रूप से निकाल सकता है और इन गुणों के बीच संबंधों को देखने में सक्षम होता है।

D. एक छात्र ज्यामिति के निगनात्मक स्वयंसिद्ध प्रणालियों का अनुसरण कर सकता है।

Ans- C

3. निम्न में, वैन हिले सिद्धांत के अनुसार कौन-सा क्रम ज्यामितीय स्तर के लिए सही है

A. पहचान करना, संबंध बनाना, विश्लेषण, निगमन, स्वयंसिद्धता । 

B. पहचान करना, विश्वलेषण, संबंध बनाना, निगमन, स्वयंसिद्धता । 

C. विश्लेषण, पहचान करना, निगमन, संबंध बनाना, स्वयंसिद्धता।

D. विश्लेषण, निगमन, पहचान करना, संबंध बनाना, स्वयंसिद्धता ।

Advertisement

Ans- B

4. वैन हिले के ज्यामिति तर्क के स्तरों को नीचे दिया गया है। वे यादृच्छिक रूप से व्यवस्थित की गई हैं।

i. आकृतियों में संबंध पहचानना

ii. आकृतियों को पहचानना

iii. स्वयंसिद्ध तर्क

iv. निगमन तर्क और औपचारिक उत्पत्ति

v. आकृतियों के भागों का विश्लेषण

सही क्रम चुनें :

A. ii, i, v, iv, iii 

B. I, ii, v, iv, ill

C. ii, v, i, iv, ill 

D. iv, iii, ii, v, i

Ans- C 

5. वैने हैले के सिद्धांत के अनुसार ज्यामितीय चिंतन के बारे में सही कथन / कथनों का चयन कीजिए

a) दृश्यीकरण एक आधारभूत स्तर है।

b) निगमन स्तर, विश्लेषण स्तर से पहले आता है।

c) संबंध स्तर, विश्लेषण स्तर से बाद आता है।

कूट :

Advertisement

A. a और b

B. a और c

C. b और c

D. केवल c 

Ans- B

6. वैन हिले के ज्यामिति विवेचन के सिद्धांत के प्रतिमान के अनुसार, निम्न में से कौन – सा स्तर विश्लेषण स्तर का उदाहरण है?

A. सीमा जानती है कि एक समद्विबाहु त्रिभुज की दो बराबर भुजाएं और दो बराबर कोण होते हैं।

B. सीमा एक त्रिभुज के रूप एक एक आकृति की पहचान करती है जो तीन सीधी रेखाओं से बंद होती है।

C. सीमा जानती है, इसलिए इसके आधार कोण बराबर होने चाहिए।

D. सीमा मानती है कि सभी समद्विबाहु त्रिभुज त्रिभुज हैं, लेकिन सभी त्रिभुज समद्विबाहु त्रिभुज नहीं हैं।

Ans-A 

7. गणित की प्रकृति के विषय में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य नहीं है ?

A. प्राथमिक स्तर पर गणित प्रत्यक्ष है और कल्पना की आवश्यकता नहीं है।

B. गणित में विचारों के सही संचारण के लिए विशेष शब्दावली का प्रयोग होता है। 

C. गणितीय ज्ञान की संरचना में तर्क कौशल महत्वपूर्ण है।

D. गणितीय संकल्पनाओं की प्रकृति श्रेणीबद्ध है।

Ans- A 

8. निम्नलिखित में से कौन-सा गणित की प्रकृति के बारे में सहीं नहीं है?

Advertisement

A. गणितीय संकल्पनाएं पदानुक्रम के अनुसार होनी चाहिए।

B. गणित आगमनिक विवेचन पर आधारित है।

C. गणितीय संकल्पनाएं प्रकृति में अमूर्त है।

D. गणित का अपना चिह्नों, शब्दों और भाषा का समुच्चय है।

Ans- B

9. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2005 के अनुसार, कक्षा में गणित-अधिगम की वृद्धि के लिए निम्नलिखित में से कौन-सा सबसे कम प्रभावी है ?

1) अवधारणाओं को वास्तविक जीवन की परिस्थितियों से जोड़ना

2) निरंतर परीक्षाएं देना

3) गणितीय खेल और पहेलियों का उपयोग करना

4) अधिगमकर्ताओं में प्रतिस्पर्द्धा का सृजन करना ।

सही विकल्प का चुनाव कीजिए ।

A. 1 और 3

B. 2 और 4

C. 1, 3 और 4

D. केवल 3

Ans- B

10. राष्ट्रीय पाठ्यचर्चा रूपरेखा 2005 के अनुसार, गणित पाठ्यचर्चा का के महत्वपूर्ण लक्षण/रूपक है/हैं?

a) इसे महत्वाकांक्षी एवं सुसंगत होना चाहिए।

Advertisement

b) इसे क्रिया-कलाप / गतिविधियों पर केंद्रित होना चाहिए।

c) इस में अधिक संख्या में योगात्मक आकलन को सम्मिलित करना चाहिए।

d) इसे समझ / बोध से अधिक (से ऊपर) क्रिया-विधियों और सूत्रों के ज्ञान पर बल देना चाहिए।

सही विकल्प चुनिए :

A. a और C

B. केवल b

C. a और b

D. c और d

Ans- C 

11. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2005 के अनुसार, निम्नलिखित में से किसे गणित शिक्षण को आनंदमयी और रुचिकर बनाने के लिए माना जाता है ?

A. रंगो और चित्रों से भरी पाठ्यपुस्तक का उपयोग करना

B. स्मृति – सहायक तकनीकों का उपयोग करके गणित के सूत्रों को रटवाकर याद कराना

C. दैनिक पाठ में पहेलियों, कहानियों और गणितीय युक्तियों को सम्मिलित करना । 

D. शिक्षण के लिए पर आधारित साधनों का उपयोग करना

Ans- C 

12. हस्त कौशल सामग्री (मेनिपुलिटिव) का उपयोग प्राथमिक स्तर पर गणित के शिक्षण अधिगम का अभिन्न अंग है क्योंकि – –

A. वार्षिक निरीक्षण के दौरान विद्यालय को बेहतर प्राप्तांक प्रदर्शित करने में सहायता करता है।

B. यह प्राथमिक पाठ्यचर्या में अन्य विषयों के साथ संबंध बनाने में सहायता करता है। 

Advertisement

C. शिक्षक/शिक्षिका को समस्याओं को श्यामपट्ट पर हल करने की आवश्यकता नहीं पड़ती इसलिए यह उनका समय बताता है।

D. यह शिक्षार्थी को गणितीय अवधारणा को समझने में करता है।

Ans- D

13. गणितीय संचार से तात्पर्य है –

A. समस्याओं को हल करने की क्षमता

B. गणित प्रश्नोत्तरी में भाग लेने के लिए कौशल

C. गणित कक्षा में बोलने की क्षमता

D. गणितीय सोच को मजबूत करने और व्यवस्थित करने की क्षमता

Ans- D

14. गणितीय संचार किसे संदर्भित करता है –

A. गणितीय सोच को मजबूत और व्यवस्थित करने की क्षमता

B. समस्याओं को हल करने की क्षमता

C. गणित प्रश्नोत्तरी में भाग लेने के लिए कौशल

D. गणित की कक्षा में बोलने की क्षमता

Ans- A

15. आप एक ऐसे विद्यार्थी की आवश्यकताओं को कैसे पूरा करेंगे, जिसे आपकी कक्षा में गणितीय दुश्चिन्ता है –

A. उसे उच्च उपलब्धि प्राप्त करने वालों के साथ बैठाएंगे।

B. पाठ्यचर्या के बाहर शिक्षण करेंगे।

Advertisement

C. सुनिश्चित करेंगे कि आपके विद्यार्थियों ने गणित के बारे में किसी भी असतय कथन पर विश्वास नहीं किया है।

D. उसको सजा देंगे।

Ans- C 

ये भी पढे:-

CTET 2022: परीक्षा हॉल में जाने से पहले ‘पर्यावरण अध्ययन’ के इन सवालों का अध्ययन जरूर करें!

CTET Exam 2022: ‘संस्कृत पेडागोजी’ से जुड़े इन स्कोर बूस्टर प्रश्नों को एक बार अवश्य पढ़ें!

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए ”गणित शिक्षण शास्त्र” पर आधारित महत्वपूर्ण सवालों (Mathematics Pedagogy Model MCQ For CTET) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *