Connect with us

CTET

CTET 2022: ‘संस्कृत पेडागोजी’ के इस क्विज टेस्ट को करें हल और जाने सीटेट परीक्षा की अपनी तैयारी का लेबल

Published

on

MCQ on Sanskrit Pedagogy For CTET
Advertisement

CTET Sanskrit Pedagogy Quiz: देश के लाखों अभ्यर्थी हर वर्ष सीटेट परीक्षा की तैयारी करते हैं। इस परीक्षा का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाता है, जिसमें क्वालीफाई अभ्यर्थी देश के विभिन्न राज्यों में होने वाली शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया में आवेदन करने के पात्र होते हैं। अभ्यर्थी जो केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने वाले हैं। उन्हें परीक्षा के लिए अपनी तैयारी को बेहतर बनाने के लिए नियमित रूप से प्रैक्टिस सेट का अभ्यास प्रारंभ कर लेना चाहिए। इसके साथ ही विगत वर्ष पूछे गए प्रश्नों का अध्ययन भी अभ्यर्थियों को परीक्षा में बेहतर परिणाम प्राप्त करने में मददगार साबित हो सकता है। इस आर्टिकल में हम संस्कृत शिक्षण शास्त्र से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न आपके साथ शेयर कर रहे हैं जो कि इस प्रकार है ।

सीटेट परीक्षा में पूछे जा सकते हैं संस्कृत शिक्षण शास्त्र के ऐसे प्रश्न—Sanskrit Pedagogy Important Question Answer For CTET

1. निम्नलिखितेषु अष्टमीकक्षापर्यन्तं शिक्षणमाध्यमविषये ‘शिक्षाधिकार अधिनियम, 2009’ इत्यस्मिन् कासंस्तुतिः विद्यते? 

(a) अष्टमीकक्षापर्यन्तं भवितव्यायथासम्भवं मातृभाषाशिक्षणमाध्यमं

Advertisement

(b) विद्यालये शिक्षणमाध्यमं मातृभाषा एव भवेत् ।

(c) गृहभाषा शिक्षणमाध्यमं भवेत् । 

(d) राज्यस्य भाषा शिक्षणमाध्यमं भवेत्

Ans- a 

2. भारतीय संविधान हिन्दीभाषायाः स्थान विद्यते ।

(a) राजभाषा

(b) भारतीया भाषा 

(c) सह-राजभाषा

(d) विदेशी भाषा

Ans- a

3. शिक्षणे भाषायाः केन्द्रीयतायाः अभिप्रायो ऽस्ति –

(a) अन्येषां विषयाणां शिक्षणे भाषा महत्वपूर्ण योगदानं ददाति ।

(b) भाषाधिगमे अन्तर्वस्तु-विषयाः (Content subject) महत्वपूर्णाः सन्ति । 

(c) भाषाधिगमे विषय-वस्तु-अधिगमः च पृथक्-पृथक् भवतः । 

(d) अन्तर्वस्तु-विषयस्य अध्यापकाय भाषां प्रति अवधानं न आवश्यकम् ।

Advertisement

Ans- a 

4. कवितां पाठयन अध्यापकः निम्नलिखिते ध्यानंप्रयच्छेत् –

(a) कवितायाः रसास्वादने मूल्याङ्कने च ।

(b) शब्दावल्यां शब्दकोशपरामर्शे च । 

(c) व्याकरणे नियमानां प्रयोगे च । 

(d) लेखन – विकासे

Ans- a 

5. परिच्छेदलेखने निबन्धलेखने वा छात्राः विभिन्नासु अवस्थासु गच्छन्ति, यासु ते विचारान सङ्कलयन्ति, रूपरेखां निर्मान्ति, प्रथमं प्रारूपं (Draft) लिखन्ति, एतद् विवर्धन्ते अन्तिमं प्रारूपं लेखितुं च संशोधनं कुर्वन्ति । लेखनस्य इयं प्रक्रिया का कथ्यते ?

(a) लेखनस्य उत्पादन- (Product) प्रक्रिया 

(b) लेखनस्य क्रियान्वयन – (Process) प्रक्रिया

(c) लेखनस्य चिन्तन-प्रक्रिया

(d) लेखनस्य छात्र केन्द्रित प्रक्रिया

Ans- b

6. केषाञ्चिद मतानुसारं कतमं सत्यमस्ति –

(a) भाषाधिग्रहणं स्वाभाविकी अविचारिता च प्रक्रिया भवति 

(b) भाषाधिगमः सप्रयासः विचारितश्च भवति 

(c) भाषाधिगमः स्वाभाविकी अविचारिता च प्रक्रिया  भवति

(d) भाषाधिग्रहणं स्वाभाविकम् अविचारितं च भवति ।

Advertisement

Ans- a 

7.  काचिद अध्यापिका भाषणक्रियार्थं भोजनालयस्य व्यञ्जनसूचीपुस्तिकायाः प्रयोगं करोति सा चतुर्णां विद्यार्थिनां समूहान् निर्माय प्रत्येक समूहं मूल्यमितं (1500) भोजनं प्रेषयितुम् आदेशं दातुं कथयति । तस्याः प्रयोजन छात्रान् भाषण- योग्यताः, त संवाद – योग्यताः च शिक्षणमस्ति । अत्र भोजनालयस्य व्यञ्जनसूचीपुस्तिका कि कथ्यते ? 

(a) भाषाशिक्षणसामग्री 

(b) मुद्रितपत्रम्

(c) कार्यनिर्वाहकसाधनम् (Tool For Manupulation) 

(d) शिक्षणाय अनधिकृतसामग्री

Ans- a 

8. काचिद् अध्यापिका मासान्तराले लेखनकार्य छात्र एकत्रीकरोति तदा सा छात्राणां नामग्रहणं विना त्रुटीनां विवरणं करोति । अर्थ कृताः त्रुटी: अशुद्धीः चप्रयोगः किं कथ्यते

(a) त्रुटि – विश्लेषणम्

(b) पुनर्निवेश-प्रदानम्

(c) लेखन मूल्यानम् 

(d) सम्पूर्ण कक्षा-विवेचनम्

Ans- b 

9. सप्तमीकक्षायाः भाषाशिक्षिका कीर्तिः स्वछात्रान् तेषां पाठ्यपुस्तकस्य कवितानां, गीतानां च समानाः कविताः गीतानि च तेषां भाषायां प्राप्तुम् अकथयत् । तदा सा कविताना अर्थान् विचारान् च विवेचयितुं तान् अकथयत् । सामान्यभाषया चं तुलनां कर्तुमपि सा कथयत्। तदा छात्राः ताः कविताः लेखनपत्रे स्व-स्व भाषासु अलिखन् तदा ते सर्वां प्रादर्शनयन् । अत्र भाषायाः महत्त्वं ज्ञातुं अध्यापिकया का रीतिः प्रयुक्ता ?

(a) भाषाप्रवृद्धिः (Promotion)

(b) बहुभाषीयत्वम् (Polyglotism) 

(c) बहुभाषात्वम् (Multilingualism)

(d) लेखनप्रवृद्धिः  : सप्तमीकक्षायाः

Advertisement

Ans- c

10. योगभाषा अध्ययनम् किं कथ्यते ? 

(a) समाज-भाषाविज्ञानम् (Sociolinguistics) 

(b) मनोवैज्ञानिक भाषाविज्ञानम् (Psycho- linguistics)

(c) लिप्यन्तरणम् (transcription) 

(d) भाषाध्ययनम्

Ans- a 

11. भाषाशिक्षणविषये किं सत्यं नास्ति ? 

(a) बालका विभिन्न अवस्थाभ्यः गच्छन्ति । 

(b) भाषायाः सन्दर्भे अवस्थाः प्रायः समानाः भवन्ति यद्यपि प्रगतिस्तराः भिन्ना भवन्ति । 

(c) सर्वासा भाषाणां सन्दर्भ अवस्थाः समानाः सन्ति । 

(d) छात्राणां त्रुटिशोधनं तत्कालं तत्रैव कर्त्तव्यम् ।

Ans- d 

12. व्याकरणस्यप्रभावि अध्यापन अधिगमविषये किं कथनं सत्यम् ?

(a) प्रथमंछात्रान्व्याकरणस्यनियमाः सोदाहरणंवर्णयितव्याः । 

(b) छात्रान् व्याकरणनियमान् बहुवारं वार्तालापमध्ये द्रष्टुम् अवसरः दातव्यः तत्पश्चात् व्याकरणनियमान् अन्विष्य प्रयोगः कर्त्तव्यः ।

(c) छात्रैः पाठ्यपुस्तके व्याकरणप्रयोगानां निरन्तरम् अभ्यासः करणीयः, तत्पश्चात् व्याकरणस्य नियमाना’ शिक्षकेणव्याख्या करणीया, प्रयोगोऽपि कर्त्तव्यः । 

(d) छात्रान् व्याकरणनियमाः कदापि न पाठयितव्याः यतः छात्राः व्याकरणनियमान् स्वयमेव शिक्षन्ति ।

Advertisement

Ans- a 

13. आदर्श भाषा पाठ्यक्रमे निम्नलिखिताः भवन्ति

(a) उद्देश्यानि, अन्तर्वस्तु, प्रक्रियाः, भाषाध्यापन- अधिगम मूल्याङ्कनम् ।

(b) लक्ष्यानि, प्रविधि: (methodology) भाषाशिक्षणस्य मूल्याङ्कनम्

(c) भाषाशिक्षण-अधिगमार्थं मूल्यानि प्रक्रियाः परीक्षणम च ।

(d) विद्यालयार्थं, शिक्षण-अधिगमार्थं, परीक्षार्थं च विचाराः ।

Ans- a 

14. काचिद् अध्यापिका छात्रान् युग्मेषु परिच्छेदात् वाक्यान्तराणि वारक्रमात् पठितुं कथयति । एकः छात्रः वाक्यानि लिखति तस्य सहभागी च पठति । तदा सा लिखितानि वाक्यानि मुद्रितैः वाक्यैः सह मेलयितुं कथयति एषा क्रिया का कथ्यते ? 

(a) अन्योऽन्यैः श्रुतलेखनम् ।

(b) समूहकार्यम्।

(c) युग्मकार्यम् । 

(d) योग्यतानां संयोजनम् ।

Ans- a 

15. पठनम् अस्ति –

(a वर्णानां शब्दानां च उद्वाचनम् (Decoding) 

(b) दत्तापाठ्यस्य अर्थग्रहणम् । 

(c) कठिनशब्दानां अर्थग्रहणम् । 

(d) ध्वनीनां शब्दानां च व्यवहारः ।

Advertisement

Ans- b 

ये भी पढे:-

CTET Sanskrit Practice Set: परीक्षा हॉल में जाने से पहले ‘संस्कृत भाषा’ पर आधारित इस प्रैक्टिस सेट का अभ्यास जरूर करें! 

CTET 2022: ‘बाल विकास’ से जुड़े कुछ ऐसे प्रश्न ही पूछे जाते हैं सीटेट परीक्षा में अभी पढ़ें

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए ”संस्कृत पेडागोजी” पर आधारित महत्वपूर्ण सवालों (CTET Sanskrit Pedagogy Quiz) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

CTET Result 2023: सीटेट Answer Key तथा Result जारी होने की डेट निश्चित, नॉर्मलाइजेशन को लेकर बड़ा अपडेट

Published

on

By

CTET Result 2023
Advertisement

CBSE द्वारा केंद्र सरकार के माध्यम से संचालित स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए आयोजित की जाने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा 7 फरवरी को समाप्त हो चुकी है. अब इस परीक्षा में शामिल हुए परीक्षार्थी अपनी Answer Key तथा Result जारी होने का इंतजार कर रहे हैं. 

ज़ी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक सीटेट परीक्षा की प्रोविजनल Answer Key तथा CTET Result 2023 जारी होने की तिथि निश्चित की जा चुकी है तथा जल्द ही अभ्यर्थियों का इंतजार खत्म होने वाला है.

 पहले जारी होगी प्रोविजनल Answer Key

सीबीएसई द्वारा पहले प्रोविजनल Answer Key जारी की जाएगी, जिस पर परीक्षार्थियों को ऑब्जेक्शन दर्ज करने का मौका दिया जाएगा, हालांकि अभ्यर्थियों को आपत्ति दर्ज करने के लिए प्रति प्रश्न ₹1000 शुल्क देना होगा. यदि अभ्यर्थी की आपत्ति सही पाई जाती है तो ऑब्जेक्शन शुल्क अभ्यर्थी को लौटा दिया जाएगा. प्रोविजनल Answer Key पर प्राप्त हुई सभी आपत्तियों का निराकरण सीबीएसई द्वारा गठित एक्सपर्ट टीम द्वारा किया जाएगा, जिसके पश्चात Final Answer Key तथा Result जारी होगा.

Advertisement

6 सप्ताह में आएगा रिजल्ट

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का परीक्षा परिणाम जारी होने में अमूमन 6 सप्ताह का समय  लगता है, सीबीएसई की इस बार कोशिश है कि वे तय समय के भीतर परीक्षा परिणाम जारी कर दें. सूत्रों के मुताबिक सीटेट प्रोविजनल Answer Key अगले सप्ताह तक जारी हो जाएगी तो वही सीटेट परीक्षा का Result 21 मार्च 2023 तक अधिकारी वेबसाइट ctet.nic.in पर जारी कर दिया जाएगा.

नॉर्मलाइजेशन को लेकर असमंजस में अभ्यर्थी

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) में शामिल हुए अभ्यर्थी नॉर्मलाइजेशन को लेकर असमंजस में है. आपको बता दें कि सीबीएसई द्वारा साल 2021 में पहली बार सीटेट परीक्षा ऑनलाइन सीबीटी मोड में आयोजित की थी. चूकी परीक्षा अलग-अलग दिन शिफ्ट में आयोजित की गई थी लिहाजा परीक्षा में नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया अपनाई गई थी इस बार भी परीक्षा ऑनलाइन ही आयोजित हुई है ऐसे में नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया इस बार भी लागू होगी.

Read More: CTET परीक्षा क्वालीफाई होने के बाद इन स्कूलों में बन सकते हैं सरकारी शिक्षक!

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET परीक्षा क्वालीफाई होने के बाद इन स्कूलों में बन सकते हैं सरकारी शिक्षक!

Published

on

By

After Qualifying CTET Exam Career Options
Advertisement

After Qualifying CTET Exam Career Options: CTET शिक्षण क्षेत्र में करियर बनाने के लिए भारत में एक प्रतिष्ठित परीक्षा है। यह उन उम्मीदवारों के बीच सबसे लोकप्रिय परीक्षा है, जो शिक्षण क्षेत्रों में अपना करियर विकसित करना चाहते हैं। तो उनके लिए यहां पर हम सीटेट परीक्षा में उत्तीर्ण होने के पश्चात अगले चरण की रणनीति पर चर्चा कर रहे हैं। 

केंद्रीय शिक्षक पात्रता (CTET) सरकारी स्कूलों या सरकारी निकायों / संस्थानों द्वारा चलाए जा रहे स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए पात्रता परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा का आयोजन साल में दो बार सीबीएसई बोर्ड के द्वारा किया जाता है । इस वर्ष यह परीक्षा 28 दिसंबर 2022 से 7 फरवरी 2023 तक आयोजित की गई थी। जिसमें देशभर से लाखों की संख्या में अभ्यर्थी शामिल हुए।

एक बार जब आप CTET परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं, तो आप केंद्र सरकार के स्कूलों जैसे केंद्रीय विद्यालय, DSSSB और नवोदय समिति स्कूलों में प्राथमिक शिक्षकों, TGT और PGT पदों के लिए आवेदन करने के पात्र हो जाते हैं।

Advertisement

केंद्रीय विद्यालय (KVS School Teacher)

केंद्रीय विद्यालय में सरकारी शिक्षक बनने का सपना हर किसी का होता है। वर्तमान समय में केंद्र सरकार के द्वारा 1248 केंद्रीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। जिसमें शिक्षकों की भर्ती के लिए सीटेट परीक्षा क्वालीफाई होना अनिवार्य होता है।

जवाहर नवोदय विद्यालय (NVS School Teacher)

मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा संचालित जवाहर नवोदय विद्यालय जो कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 के तहत शुरू किए गए थे। इन स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती हेतु लगभग हर वर्ष टीचिंग एवं नॉन टीचिंग भर्तियां निकाली जाती है। जिसमें टीजीटी पदों पर होने वाली भर्ती के लिए सीटेट परीक्षा क्वालिफाई होना अनिवार्य होता है। हालांकि पीजीटी तथा अन्य पदों के लिए नॉन सीटेट उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं।

यूपी सुपर टेट (Super TET Vacancy)

उत्तर प्रदेश में शिक्षकों की भर्ती हेतु सुपर टेट परीक्षा आयोजित की जाती है जिसमें सी टेट सर्टिफिकेट प्राप्त उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाती है।

आर्मी पब्लिक स्कूल (Army Public School Teacher)

देश में 137 आर्मी पब्लिक स्कूल संचालित किए जा रहे हैं। जोकि आर्मी वेलफेयर एजुकेशन सोसाइटी के द्वारा संचालित किए जा रहे हैं जिसमें लगभग हर वर्ष बड़ी संख्या में पीजीटी तथा टीजीटी एवं पीआरटी शिक्षकों की भर्ती की जाती है। जिसमें सीटेट परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों को आवेदन करने का मौका मिलता है ।

DSSSB vacancy

दिल्ली के शासकीय विद्यालयों में शिक्षकों की भर्ती हेतु दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड द्वारा शिक्षकों की भर्ती की जाती है। जिसमें टीजीटी तथा पीआरटी पदों पर भर्ती के लिए सीटेट परीक्षा पास अभ्यर्थियों को आवेदन करने का मौका प्राप्त होता है।

Read More:

CTET Answer Key 2023: शिक्षक पात्रता परीक्षा की आंसर की करें डाउनलोड, जानें कब तक आयेगा परीक्षा परिणाम 

Advertisement

Continue Reading

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

CTET-UPTET पास कर सकेंगें आवेदन

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे. जिसके बाद अप्रैल महीने में ऑनलाइन मोड में UPTET परीक्षा आयोजित की जाएगी.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

Trending