Connect with us

CTET

CTET 2023: ‘गणित’ के इस प्रैक्टिस सेट को करे हल चके करे CTET परीक्षा की तैयारी का लेबल!

Published

on

MCQ on Math For CTET Exam
Advertisement

MCQ on Math For CTET Exam: सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट याने सीटेट के 16 वे संस्करण का आयोजन दिसंबर माह की 28 तारीख से किया जा रहा है, जोकि 7 फरवरी 2023 तक जारी रहेगा, ऑनलाइन मोड में आयोजित इस शिक्षक पात्रता परीक्षा में यदि आप भी शामिल होने वाले हैं, तो यहां पर हम गणित के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न आपके साथ शेयर कर रहे है। जो कि इस प्रकार है ।

Math Practice Set For CTET Exam

1. Naresh is a visually challenged student of his class. He identifies and count edges, corners and faces of various three dimensional (3D) shapes by touching them. How many edges, corners and faces will he identify in a triangular prism? 

नरेश अपनी कक्षा का एक दृष्टिबाधित विद्यार्थी है। वह त्रि-आयामी (उडी) आकारों को छूकर उनके किनारों, कोनों और फलकों को पहचानता और गिनता है। एक त्रिभुजाकार प्रिज्म में कितने किनारे, कोने और फलक होंगे?

Advertisement

(a ) Edges = 6, Corners = 8, Faces = 6/ किनारे = 6, कोने = 8, फलक = 6 

(b) Edges = 9. Corners = 6, Faces = 5 / किनारे = 9, कोने = 6, फलक = 5

(c) Edges = 4, Corners =4, Faces = 4/ किनारे 4, कोने 4, फलक = 4

(d) Edges = 6 Corners =4, Faces = 5/ किनारे = 6, कोने = 4, फलक = 5

Ans- b 

2. I am greater than half of 100. I am more than 5 tens and less than 6 tens. 

My ones digit is three less then tens’ digit. Who am I?

मैं सौ के आधे से अधिक है। मैं पाँच दहाई से अधिक और छह दहाई से कम हूँ। मेरा इकाई का अंक दहाई के अंक से तीन कम है। 

मैं कौन हूँ?

(a) 51

(b) 52

(c) 58

(d) 59

Ans- b 

3. If the side of square is halved, the perimeter of the square so obtained will be and the area will be ————–. 

Advertisement

यदि एक वर्ग की भुजा को आधा कर दिया जाए, तो इस प्रकार प्राप्त वर्ग की परिमाप ————– और क्षेत्रफल हो जाएगा।

(a) halved, halved / आधा-आधा

(b) halved, one-fourth / आधा, एक-चौथाई

(c) one-fourth, halved / एक-चौथाई, आधा

(d) one-fourth one-fourth / एक चौथाई एक-चौथाई

Ans- b  

4. Which of the following group of number has least prime numbers? 

निम्नलिखित में से किस संख्याओं के समूह में सबसे कम अभाज्य संख्याएँ हैं?

(a) From 20 to 40/20 40 तक 

(b) From 30 to 50/30 50  तक 

(c) From 40 to 60/40 60 तक 

(d) From 60 to 80/60 80 तक 

Ans- a 

5. Which one of the following is the best approximation of  9.2×4.9×3.1

                                                                                              5.06×2.84

निम्नलिखित में से  9.2×4.9×3.1 का सबसे उत्तम सन्निकरण कौन सा है?

                         5.06×2.84

(a) (9 x 4 x 3)/(5 × 2)

Advertisement

(b) (9×5×3)/(5 × 2)

(c) (9x5x3)/(5 × 3)

(d) (9 x 4 x 3)/(5×3)

Ans- c

6. निम्नलिखित गतिविधियों में से कौन-सी प्राथमिक स्तर के अधिगमकर्ताओं में दिक-स्थान संबंधित समझ के विकास के लिए अति उपयुक्त है ? करना।

(a) Representing numbers on a number line. / संख्या रेखा पर संख्याओं को निरूपित

(b) Drawing a map of their homes showing relative sizes and positions of rooms/ उनके घरों के कक्षों के सापेक्ष आकारों और स्थितियों को दर्शाति हुए मानचित्र रेखांकित करना

(c) Measuring the distance between two cities on a map/ एक मानचित्र पर दो शहरों के बीच की दूरी को मापना ।

(d) Recalling the names of geometrical figures ज्यामितीय आकृतियों के नामों को पुनः स्मरण करना।

Ans- b 

7. As per NCERT. which of the following is NOT one of the expected learning outcomes from grade III learners ?

 एन.सी.ई.आर.टी. के अनुसार कक्षा 3 विद्यार्थियों के लिए कौन-से अधिगम प्रतिफल अपेक्षित नहीं हैं? के

(a) What is the place value of 4 in 543? / संख्या 543 में 4 का स्थानीय मान ज्ञात कीजिए।

(b) Identify the next shape in a given pattern of shapes. / पहचानें कि दी गई आकृतियों की श्रृंखला में अगली आकृति क्या होगी।

(c) Solve ⅓ +¼ / ⅓ + ¼  को हल करें।

(d) Show that 2 x 5 is the same as 5 x 2 दर्शाएँ कि 2 x 5 और 5 x 2 समान हैं।

Ans- c 

8. श्री गोविंद अपने कक्षा 3 के छात्रों में पैटर्न पहचानने का कौशल विकसित करना चाहते हैं। निम्नलिखित में से कौन- सी गतिविधि इसके लिए सबसे अधिक सहायक सिद्ध होगी?

Advertisement

(a). / छात्रों को अपना वंशवृक्ष बना कर उसकी तुलना अपने मित्र के वंशवृक्ष से करने के लिए कहना ।

(b) छात्रों से रात को ध्यान से आसमान देखकर उन्होंने जो देखा अगले दिन उसका वर्णन कक्षा में करने के लिए कहना ।

(c) छात्रों को उनकी सभी पठ्यपुस्तकों में भारत के राष्ट्रीय चिन्ह को खोजने के लिए कहना। 

(d) छात्रों को बिल्डिंग ब्लॉक देकर बढ़ती ऊँचाई के क्रम में रखने को कहना

Ans- d 

9. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2005 के अनुसार गणित में, आकलन में ————— को सम्मिलित करना चाहिए।

(a) छात्रों को उनके प्राप्तांकों के आधार पर श्रेणीबद्ध करने।

(b) / छात्रों की संकल्पनात्मक समझ और समस्या समाधान के कौशल की अर्जन संबंधित प्रगति।

(c) कार्यविधियों और सूत्रों के ज्ञान की परख ।

(d) छात्रों की त्रुटि मुक्त परिकलन करने की क्षमता की परख ।

Ans- b 

10. माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में ऐसा देखा गया है कि गणित में लड़के, लड़कियों से बेहतर प्रदर्शन करते हैं। इस परिस्थिति का समालोचनात्मक विश्लेषण इस हो सकता है ओर इशारा करता है कि इसका कारण

(a) लड़कियाँ गणितीय तर्क-वितर्क करने में असमर्थ होती हैं।

(b) गणित का ज्ञान लड़कियों के लिए नहीं है। 

(c) समाजीकरण की प्रक्रिया में अधिकतर लड़कियों को यह बोध करवाया जाता है कि गणित एक ‘पुरुष का क्षेत्र’ है अतः कठिन है।

(d) /लड़कों को लड़कियों की तुलना में गणित में स्वाभाविक रूचि होती है।

Ans- c 

11. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2005 के अनुसार निम्नलिखित में से कौन- सा प्राथमिक स्तर पर गणित की पाठ्य पुस्तक की एक वांछनीय विशेषता को निरूपित करता है?

Advertisement

(a) अवधारणाओं को अमूर्त से मूर्त की ओर प्रस्तुत किया जाना चाहिए। 

(b) पाठ्य पुस्तक के आवरण को आकर्षक और रंगीन होना चाहिए। 

(c) इसमें सूत्रों और कलन विधियों पर आधिरित गणितीय समस्याएँ सम्मिलित होनी चाहिए।

(d) इसमें गणितीय समस्याएँ जोकि संदर्भात्मक और बच्चों के जीवन के अनुभवों से संबंधित हों उनको प्रस्तुत करना चाहिए।

Ans- d 

12. Identify the correct sequence of geometrical thinking levels as per Van Hieles ‘theory of geometrical development’

वैन हैले के ज्यामितीय विकास के सिद्धांत के अनुसार, ज्यामितीय चिंतन के स्तरों के सही क्रम की पहचान कीजिए ।

(a) Visualisation–analysis–Deduction-Relationships/ दृश्यीकरण विश्लेषण-निगमन-संबंध – पहचानना

(b) Relationships–Deduction–Analysis- Visualisation / संबंध-पहचानना-निगमन-विश्लेषण- दृश्यीकरण

(c) Visualisation–Analysis–Relationships – Deduction / दृश्यीकरण- विश्लेषण-संबंध- पहचानना-निगमन

(d) Analysis–Relationships-Deduction- Visulisation/ विश्लेषण- संबंध-पहचानना-निगमन- दृश्यीकरण

Ans- c 

13. एक कक्षा में अधिकांश छात्र कहते हैं कि 270+34 होता है,

 270

+34  

2104

इस भ्राँति को दूर करने के लिए कौन-सी अवधारणा दोहराना सबसे उपयुक्त होगा?

(a) Addition with regrouping/ जोड़ने के समय पुनर्समूहीकरण

Advertisement

(b) 3 digit addition / 3 अंक की संख्याओं का जोड़ / योग

(c) Forward counting/ सीधी गिनती

(d) Place value of three digit numbers 3 अंकों वाली संख्याओं का स्थानीय मान

Ans- a

14. A train Started from New Delhi railway station at 3:15 pm on Tuesday and reached Mumbai central at 9:40 am on the next day. What is the time taken by the train for the whole journey?

एक रेलगाड़ी नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से मंगलवार को 3:15 pm पर चली तथा मुंबई सेंट्रल पर अगले दिन 9:40 am पर पहुँची। उस रेलगाड़ी द्वारा पूरी यात्रा में लिया गया समय क्या है?

(a) 17 hours 35 minutes / 17 घंटे 35 मिनट

(b) 17 hours 25 minutes / 17 घंटे 25 मिनट

(c) 18 hours 25 minutes / 18 घंटे 25 मिनट

(d) 19 hours 15 minutes / 19 घंटे 15 मिनट

Ans- c 

15 The distance from place A to place B is 8.7 cm on a map. If 1.5 cm on the map is equal to 2 km on the ground, then what is the distance (in metres) between these two places?

एक स्थान A से स्थान B की दूरी एक मानचित्र पर 8.7cm है। यदि मानचित्र पर 1.5 cm की दूरी भूमि पर 2 km के बराबर है, तो दोनों स्थानों के बीच की दूरी (मीटर में) कितनी होगी?

(a) 12300 metres / 12300 मीटर

(b) 11900 metres / 11900 मीटर

(c) 11600 metres / 11600 मीटर

(d) 10600 metres / 10600 मीटर

Ans- c 

Advertisement

Read More:-

CTET Math Memory Based MCQ: सीटेट परीक्षा में पूछे गए ‘गणित’ के मेमोरी बेस्ड सवाल यहां पढ़ें

CTET 2023: ‘हिंदी भाषा’ से जुड़े ऐसे सवाल जो ऑनलाइन मोड में होने वाली सीटेट परीक्षा में पूछे जा सकते हैं अभी पढ़ें

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए गणितसे जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (MCQ on Math For CTET Exam) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

CTET-UPTET पास कर सकेंगें आवेदन

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे. जिसके बाद अप्रैल महीने में ऑनलाइन मोड में UPTET परीक्षा आयोजित की जाएगी.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET Answer Key 2023: शिक्षक पात्रता परीक्षा की आंसर की करें डाउनलोड, जानें कब तक आयेगा परीक्षा परिणाम 

Published

on

By

Advertisement

CTET Answer Key 2023: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड याने CBSE द्वारा आयोजित की जाने वाली CTET परीक्षा आज 7 फ़रवरी को पूरी हो चुकी है, यह परीक्षा 28 दिसंबर अग़ल-अलग दिन दो शिफ्ट में आयोजित की जा रही है जिसमें शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी शामिल हुए है। अब परीक्षा की समाप्ति के बाद अभ्यर्थी अपनी आंसर की जारी होने का इंतज़ार कर रहे है, बता दें कि परीक्षा समाप्ति के कुछ दिन के भीतर ही CBSE द्वारा आंसर की जारी कर दी जाती है।

इस दिन जारी होगी आंसर की 

CTET परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों का इंतज़ार जल्द ही ख़त्म होने वाला है मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ CBSE द्वारा 11 फ़रवरी 2023 को आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर CTET पेपर 1 तथा पेपर 2 की आंसर की जारी कर दी जाएगी। इसके बाद मार्च माह में फाइनल आंसर-की तथा परीक्षा परिणाम जारी किया जा सकता है।

बता दें आंसर की लिंक ऐक्टिव होने के बाद उम्मीदवार अपने रजिस्ट्रेशन नंबर तथा जन्म तारीख़ की सहायता से आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन कर अपनी उत्तर कुंजी डाउनलोड कर पाएँगें।

Advertisement

परीक्षा में लागू होगा नॉर्मलिज़ेशन

सीबीएसई द्वारा दिसंबर 2021 में पहली बार CTET परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की गई थी, तथा इस बार भी यह परीक्षा ऑनलाइन ही आयोजित हुई है। चुकी परीक्षा का आयोजन अलग- अगल दिन कई शिफ़्टों में किया गया है लिहाज़ा परीक्षार्थियों के मध्य समान प्रतिस्पर्द्धा क़ायम रखने के लिए नॉर्मलिज़ेशन व्यवस्था को लागू किया गया है। बता दें कि परीक्षा में नॉर्मलिज़ेशन होने की जानकारी CBSE द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर पहले ही दे दी गई थी। 

CTET Exam Cut Off 2023

सीटीएटी परीक्षा में कैटेगरी वाइज कटऑफ़ निर्धारित किया गया है। पेपर 1 तथा पेपर 2 के लिए कट ऑफ अंक समान है। सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी को इस परीक्षा में पास होने के लिए 60 प्रतिशत अंक याने 150 नंबर के पेपर में 90 अंक लाना होगा, जबकि आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को 55 प्रतिशत अंक यानें 150 अंक के पेपर में 82 अंक लाना होगा।

CategoryMinimum qualifying percentageMinimum qualifying Marks
Schedule Caste (SC)55%82 out of 150
Schedule Tribe (ST)55%82 out of 150

CTET Exam 2023 Important FAQs

क्या सीटीईटी परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है?

नहीं, CBSE द्वारा आयोजित सीटीईटी परीक्षा में किसी भी प्रकार की नकारात्मक मार्किंग नहीं की जाती है।

सीटीईटी सर्टिफिकेट की वैद्यता कितने वर्ष होती है?

आजीवन, CTET परीक्षा पास करने वालों अभ्यर्थियों को मिलने वाले सर्टिफिकेट की वैद्यता लाइफ टाइम कर दी गई है जो पहले 7 वर्ष थी।

सीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए आयु सीमा क्या है?

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकतम उम्र सीमा निर्धारत नहीं है, हालाकि न्यूनतम आयु 18 वर्ष होना चाहिए।

सीटीईटी परीक्षा कितने बार दे सकते है?

उम्मीदवार जीतने बार चाहे उतने बार सीटीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते है, जो अभ्यर्थी इस परीक्षा में पास हो चुके है वे अपने स्कोर को सुधार के लिए दुबारा परीक्षा दे सकते है।

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET 2022-23: लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से परीक्षा में पूछे जा रहे है ये सवाल, अभी पढ़ें

Published

on

Lev Vygotsky's Theories Based MCQ For CTET
Advertisement

Lev Vygotsky’s Theories Based MCQ For CTET: शिक्षक बनने के लिए जरूरी सीटेट यानी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन 7 फरवरी 2023 तक ऑनलाइन सीबीटी मोड में किया  जा रहा है.  यह परीक्षा 29 दिसंबर 2023 से शुरू हुई थी तथा अब 3, 4, 6  तथा 7 फरवरी को परीक्षा का आयोजन होना बाकी है.  यदि आप भी आगामी सीटेट परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो इस आर्टिकल में दी गई जानकारी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं.

यहां पर हम नियमित रूप से सीटेट परीक्षा के लिए प्रैक्टिस सेट शेयर करते रहे हैं। इसी श्रृंखला में आज हम लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत पर आधारित कुछ ऐसे सवाल लेकर आए हैं, जो की परीक्षा में पूछे जा सकते हैं। तो लिए जाने इन महत्वपूर्ण सवालों को जो की इस प्रकार हैं।

Read More: CTET 2023: हर शिफ्ट में पूछे जा रहे है ‘जीन पियाजे’ के सिध्दांत से ये सवाल, इन्हें पढ़ कर पक्के करे नंबर

Advertisement

 लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से जुड़े संभावित प्रश्न—CTET Exam Lev Vygotsky’s Theories Related Questions

1. लेव वाइगोत्स्की के अनुसार, निम्न में से किसके लिए “समीपस्थ विकास क्षेत्र” का इस्तेमाल करना चाहिए?

1. अध्यापन और मूल्याँकन

2. केवल अध्यापन

3. केवल मूल्यांकन

4. प्रवाही बौद्धिकता की पहचान

Ans- 1 

2. एक विशिष्ट संप्रत्यय को पढ़ाने हेतु एक अध्यापिका बच्चे को आधा हल किया हुआ उदाहरण देती है। लेव वायगोत्सकी के अनुसार अध्यापिका किस रणनीति का इस्तेमाल कर रही है?

1. अवलोकन अधिगम

2. पाड़

3. द्वंद्वात्मक अधिगम

4. अनुकूलन

Ans- 2 

3. ‘समीपस्थ विकास के क्षेत्र का संप्रत्यय किसने प्रतिपादित किया है?

1. जेरोम ब्रूनर

2. डेविड ऑसबेल

Advertisement

3. रोबर्ट एम. गायने

4 लेव व्यागोत्सकी

Ans- 4

4. रश्मि अपनी कक्षा में विद्यार्थियों के सीखने की क्षमता को ध्यान में रखकर विभिन्न प्रकार के कार्यकलापों का उपयोग करती है और सहपाठियों द्वारा अधिगम को बढ़ावा देने के लिए समूह भी बनाती है। निम्नलिखित में से कौन-सा इसका समर्थन करता है?

1. सिग्मंड फ्रॉयड का मनो यौनिक सिद्धांत

2. लेव वायगोत्सकी का सामाजिक सांस्कृतिक सिद्धांत

3. लॉरेंस कोहलबर्ग का नैतिक विकास का सिद्धांत

4. बी. एफ. स्किनर का व्यवहारवादी सिद्धांत

Ans- 2 

5. वायोगात्सकी के सिद्धांत के अनुसार ‘निजी संवाद’ 

1. बच्चों के आत्मकेंद्रीयता का घोतक है।

2. बच्चों के क्रियाकलापों और व्यवहार का अवरोधक है।

3. जटिल कार्य करते समय बच्चे को उसके व्यवहार संचालन में सहायता देता है।

4. यह संकेत देता है कि संज्ञान कभी भी आंतरिक नहीं होता।

Ans- 3 

6. कौन सा कथन लेव व्यागोत्सकी के मूल सिद्धांत को सही मायने में दर्शाता है?

1. अधिगम एक अन्तमन प्रक्रिया है।

2. अधिगम एक सामाजिक क्रिया है।

Advertisement

3. अधिगम उत्पतिमूलक क्रमादेश है। 

4. अधिगम एक अक्रमबद्ध प्रक्रिया है जिसके चार चरण है।

Ans- 2 

7. इनमें से कौन-सा अध्यापक द्वारा पाड़ का उदाहरण नहीं है?

1. अनुकरण के लिए कौशलों का प्रदर्शन करना

2. रटना

3. इशारे एवं संकेत

4. सहपाठियों संग साझा शिक्षण

Ans- 2 

8. लेव वायगोत्सकी के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत को ……….. कहा जाता है क्योंकि वे तर्क देते हैं कि बच्चों का सीखना संदर्भ में होता है।

1. मनोगतिशील

2. मनोलैंगिक

3. सामाजिक सांस्कृतिक

4. व्यवहारात्मक

Ans- 3 

9. जब कोई अध्यापिका किसी विद्यार्थी को उसके विकास के निकटस्थ क्षेत्र पर पहुंचाने के लिए सहायता को उसके निष्पादन के वर्तमान स्तर के अनुरूप है, तो अध्यापिका किस नीति का प्रयोग कर रही है। कर रही है।

1. सहयोगात्मक अधिगम का प्रयोग

2. अंतर पक्षता का प्रदर्शन

Advertisement

3. पाड़

4. विद्यार्थी में संज्ञानात्मक द्वंद पैदा करना

Ans- 3

10. लेव वायगोत्सकी द्वारा दिए बच्चों के विकास का सिद्धांत किस पर आधारित है ?

1. भाषा और संस्कृति

2. भाषा और परिपक्वता

3. भाषा और भौतिक जगत

4. परिपक्वता और संस्कृति

Ans- 1

11.समीपस्थ विकास के क्षेत्र’ की संरचना किसने प्रतिपादित की थी?

1. लॉरेंस कोहल

2. लेव वायगोत्स्की

3. ज़ोरोंन ब्रूनर

4. जीन पियाजे

Ans- 2 

12. निम्न में से कौन-सा कथन बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के विषय में जीन पियाजे और लेव वायगोत्सकी के विचारों के बीच मुख्य अंतर दर्शाता है?

1. पियाजे बच्चों के स्वतंत्र प्रयासों द्वारा जगत को अनुभव करने पर जोर देते हैं, जबकि वायगोत्स्की संज्ञानात्मक विकास को सामाजिक मध्यस्थ प्रक्रिया के रूप में देखते हैं। 

2. पियाजे बच्चों को सक्रिय स्वतंत्र जीव के रूप में देखते हैं, जबकि वायगोत्स्की उन्हें मुख्यतः वातावरण द्वारा नियंत्रित जीव के रूप में देखते हैं।

Advertisement

3. पियाजे भाषा को बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं, जबकि विकास पर बल देते हैं।

4. पियाजे के अनुसार बच्चे अपने मार्गदर्शन के लिए स्वयं से बात कर सकते हैं, जबकि वायगोत्सकी के लिए बच्चों की बात आत्मकेन्द्रीयता का द्योतक है।

Ans- 1 

13. एक अध्यापिका शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में विद्यार्थियों को सहपाठियों से अंतः क्रिया कराकर एवं सहारा देकर अध्यापन करती है। यह शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया किस पर आधारित है ?

1. लॉरेंस कोहलबर्ग के नैतिक विकास सिद्धांत पर 

2. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास सिद्धांत पर

3. लेव वायगोत्स्की के सामाजिक-सांस्कृतिक सिद्धांत पर

4. हावर्ड गार्डनर के बहुआयामी बुद्धि सिद्धांत पर

Ans- 3 

14. वायगोत्स्की के सिद्धान्त के अनुसार ‘सहायक खोज’ किस में सहायक है।

1. संज्ञानात्मक द्वंद्व

2. उत्प्रेरक-प्रतिक्रिया सहचर्य

3. पुनर्बलन

4. सहपाठी- सहयोग

Ans- 4 

15. कक्षा में विद्यार्थियों को त्यौहारों को मनाने के अपने अनुभवों को साझा करने के देना और उसके आधार पर सूचना निर्मित करने को बढ़ावा देना किसका उदाहरण है। ?

1. व्यवहारवाद

2. पाठ्यपुस्तक आधारित अध्यापन

Advertisement

3. सामाजिक संरचनावाद

4. प्रत्यक्ष निर्देशन

Ans- 3

ये भी पढे:-

CTET 2022: सीटेट परीक्षा के लिए बुद्धि परीक्षण पर आधारित इन सवालों से करे अपनी अंतिम तैयारी!

CTET 2022: हिन्दी भाषा शिक्षण के इन सवालों से करे अपनी बेहतर तैयारी

Advertisement

Continue Reading

Trending