Connect with us

CTET

CTET 2022: मनोविज्ञान के अंतर्गत ‘जीन पियाजे के सिद्धांत’ से जुड़े परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न यहां पढ़ें

Published

on

Advertisement

Psychology MCQ on Jean Piaget Theory For CTET: शिक्षक के रूप में अपना कैरियर बनाने के लिए लाखों अभ्यर्थी प्रतिवर्ष सीटेट परीक्षा में शामिल होते हैं। साल में दो बार आयोजित होने वाले इस पात्रता परीक्षा का आयोजन इस वर्ष दिसंबर माह में किया जाना संभावित है। यदि आप भी सरकारी शिक्षक अपनी सेवा देना चाहते हैं। और इस शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने वाले हैं, इस आर्टिकल में हम मनोविज्ञान के अंतर्गत जीन पियाजे के सिद्धांत से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बहुविकल्पीय प्रश्न आपके लिए लेकर आए हैं , जो कि आपको परीक्षा में बहुत काम आने वाले हैं। इस टॉपिक से लगभग हर बार सवाल पूछे जाते हैं, ऐसे में अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह इन प्रश्नों को एक नजर जरूर पढ़ ले ।

जीन पियाजे के सिद्धांत से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न— Jean Piaget Theory Related Question

1. नई सूचनाओं को शामिल करने के लिए वर्तमान योजनाओं परिवर्तित करने की प्रक्रिया को क्या कहते है:

(1) आत्मसातकरण 

Advertisement

(2) आत्मकेन्द्रिता

(3) सामंजस्य

(4) अनुकूलन

Ans- 3 

2. वह कौनसी अवस्था है जिसमें बालक वस्तुओं और घटनाओं के बारे में तार्किकता के साथ विचार करना शुरू कर देता है ? 

(1) पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था

(2) मूर्त संक्रियात्मक अवस्था

(3) सेंसरी मोटर अवस्था

(4) औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था

Ans- 2 

3. जैन ने स्वयं चम्मच से खाना सीख लिया है। जब उसकी माँ ने उसे चम्मच दी उसने तुरंत स्वयं खाना शुरू कर दिया। जेन ने बर्तनों हेतु अपने स्कीमा में चम्मच को ………. कर लिया।

(1) समायोजित

(2) विनियोजित

(3) आत्मसात

(4) प्रारंभ

Advertisement

Ans- 3 

4. एक स्कीमा है ?

(1) ज्ञान की एक श्रेणी जो हमें विश्व को समझने और उसका वर्णन  करने की अनुमति देती है।

(2) नई सूचनाओं और अनुभवों को ग्रहण करने की प्रक्रिया  

(3) पुराने ज्ञान और नई सूचनाओं में संतुलन बनाने की प्रक्रिया 

(4) उपरोक्त में से कोई नहीं

Ans- 1 

5. निम्न में से कौनसा मूर्त संक्रियात्मक अवस्था का एक गुण है?

(1) तार्किक चिंतन और चिंतन अमूर्त

(2) तर्क, मूर्त तर्कशक्ति का परिचय देना 

(3) स्मृति और कल्पना विकसित करना

(4) वस्तु स्थायित्व और लक्ष्य उन्मुख व्यवहार

Ans- 2 

6. मूर्त संक्रियात्मक अवस्था के संबंध में निम्न कथनों में से कौन सा सत्य है ?

(1) यह 7 से 11 वर्ष के मध्य होत है 

(2) यह 11 वर्ष के बाद होती है।

(3) बच्चा तार्किक, मूर्त और अमूर्त तर्कशक्ति का प्रदर्शन करता है 

(4) यह 11 से 13 वर्ष के मध्य होती है।

Advertisement

Ans-  1 

7. भाषा विकास में किस कारक का अवमूल्यन करने हेतु पियाजे की आलोचना की जाती है ?

(I) जीवविज्ञान

(2) बौद्धिकता

(3) सामाजिक अन्तःक्रिया

(4) जीवविज्ञान और बौद्धिकता

Ans- 3 

8. पियाजे के अनुसार, विकास की प्रथम अवस्था (जन्म से 2 वर्ष)  के दौरान बच्चा सबसे बेहतर क्या सीखता है। 

(1) संवेदनाओं का प्रयोग करना

(2) तटस्थ शब्दों को समझना

(3) अमूर्त तरीके से सोचना

(4) नए सीखे  गए भाषा ज्ञान का प्रयोग करना 

Ans- 1 

9. पियाजे के अनुसार, 2 से 7 वर्ष के मध्य का एक बालक बौद्धिक विकास की …………. अवस्था में होता है।

(1) पूर्व संक्रियात्मक

(2) औपचारिक संक्रियात्मक

(3) मृत सक्रियात्मक

(4) संवेदी-गामक अवस्था

Advertisement

Ans- 1 

10. निम्न में से कौन सा पहले चरण-संवेदी गतिक (जन्म से 2 साल )  का एक गुण है:

(1) तार्किक, मूर्त तर्कशक्ति का प्रदर्शन करना

(2) तार्किक और अमृतं सोच

(3) वस्तुओं को उनके समान गुणों के आधार समूह में रखने की योग्यता 

(4) वस्तु स्थायित्व और लक्ष्य उन्मुख व्यवहार

Ans- 4 

11. औपचारिक सक्रियात्मक अवस्था के संबंध में निम्न में  से कौन सा सत्य है ?

(I) यह तार्किक सोच और अमृतं सोच को रोकती है। 

(2) यह 11 वर्ष के बाद होती है

(3) यह 7 से 11 वर्ष के मध्य होती है।

(4) बच्चा तार्किक, मूर्त तर्कशक्ति का प्रदर्शत करने में सक्षम नहीं  होता है

Ans- 2 

12. पूर्व संक्रियात्मक अवस्था के संबंध में निम्न में से कौन सा कथन सत्य है ? 

(1) बच्चे तार्किक और प्रत्यक्ष तर्कशक्ति का प्रदर्शन करते है 

(2) यह 2 से 7 वर्ष तक चलती है 

(3) बच्चा स्मृति और कल्पनाशक्ति का विकास करती है 

(4) इसकी अवधि 7 से 12 वर्ष है

Advertisement

Ans- 2 

13. पिधाने के अधिगम की संज्ञानात्मक अवधारणा के अनुसार, वह प्रक्रिया जिसके द्वारा बौद्धिक संरचना परिवर्तित हो जाती है, उसे कहते है?

(1) आत्मसात्करण

(2) स्कीमा 

(3) प्रत्यक्षीकरण 

(4) समाविष्टिकरण 

Ans- 4 

14. समस्याओं को सोच-विचार करके और व्यवस्थित रूप में हल करने को योग्यता किसके दौरान सामने आती है ?

(1) मूर्त संक्रियात्मक अवस्था

(2) सेंसरीमोटर अवस्था

(3) औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था 

(4) पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था

Ans- 3 

15. जेन की मां के पास बराबर आकार के दो पटाखे हैं। उन्होंने एक पटाखे को चार हिस्सों में तोड़ दिया है। जैन कहती है कि उसे सबसे अधिक संख्या में चाहिए और वह तुरंत ही चारों टुकड़े उठा लेती है, जबकि दोनों समान मात्रा के है। जैन का विकल्प पियाजे की किस अवधारणा को व्यक्त करता है:

(1) समाविष्टीकरण 

(2) आत्मकेन्द्रिता

(3) इटा विश्वास

(4) संरक्षण

Advertisement

Ans- 4 

Read More:-

CTET 2022 NEP 2020 MCQ: ‘नई शिक्षा नीति 2020’ से जुड़े परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न!

CTET EXAM 2022 CDP: सीटेट परीक्षा में बेहतर परिणाम दिला सकते हैं ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ से जुड़े यह सवाल!

इस आर्टिकल में हमने आगामी सीटेट परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए ‘जीन पियाजे’ (Psychology MCQ on Jean Piaget Theory For CTET) से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तरों को साझा किया है. सीटीईटी से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *