Connect with us

CTET

CTET 2022: ‘पर्यावरण पेडागॉजी’ के यह सवाल पिछले वर्ष हुई ऑनलाइन परीक्षा में पूछे जा चुके हैं अभी पढ़े!

Published

on

CTET Previous Year EVS Pedagogy Questions
Advertisement

CTET Previous Year EVS Pedagogy Questions: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी कर रहे देश की 30 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के लिए अब महज कुछ ही दिनों का समय शेष रह गया है। परीक्षा का आयोजन दिसंबर से जनवरी माह के बीच में किया जाएगा। जिसके लिए बोर्ड के द्वारा प्री एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं। अगर आप भी शिक्षक के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, और इस परीक्षा में शामिल होने वाले हैं, तो इस आर्टिकल में हम आपके लिए पिछली परीक्षा में पूछे गए पर्यावरण शिक्षण शास्त्र के कुछ चुनिंदा सवाल (CTET Previous Year EVS Pedagogy Questions) लेकर आए हैं। जिसका अध्ययन आपको एक बार अवश्य कर लेना चाहिए। ताकि आप जान पाए कि पेपर में किस लेवल की प्रश्न पूछे जाते हैं।

सीटेट परीक्षा में पूछे गए पर्यावरण शिक्षण शास्त्र के ऐसे प्रश्न—Previous Year EVS Pedagogy Questions For CTET Exam 2022

1. In Environment studies the thematic approach has been adopted instead of topics because-/पर्यावरण अध्ययन में प्रकरण के स्थान पर उपविषय (थीम) गत उपागम को स्वीकार किया गया है, क्योंकि-

A) It enables a connected and interrelated understanding/यह संयुक्त और परस्पर संबंधित समझ को सक्षम बनाता है।

Advertisement

B) It enables easier teaching and understanding/यह शिक्षण और समझाने को आसान बनाता है। 

C) It enables delimiting the content for a particular class/यह किसी निश्चित कक्षा की विषयवस्तु को सीमित करता है।

D) It enables students to learn from experiences/यह विद्यार्थियों को उनके अनुभवों से सीखने में सक्षम बनाता है।

1) A, B & C

2) A & D

3) A, B & D

4) B & D

Ans- 2 

2. Nature of Environmental studies is-/पर्यावरण अध्ययन की प्रकृति है?

1) More a noun than a verb/क्रिया की अपेक्षा संज्ञा अधिक 

2) More a verb than a noun/संज्ञा की अपेक्षा क्रिया अधिक

3) Both noun and verb/संज्ञा एवं क्रिया दोनों

4) Neither noun nor verb/ना तो संज्ञा ना ही क्रिया

Ans- 2 

3. While planning to teach’ Pollution’ in her next class, Nivedita found that students from rural background have not heard of term “Pollution” and hence will have difficulty in understanding it. Which method should Nivedita use to introduce this concept?/अपनी अगली कक्षा में “प्रदूषण पढ़ाने के लिए योजना बनाते समय, निवेदिता पाती है कि ग्रामीण पृष्ठभूमि के विद्यार्थियों ने प्रदूषण शब्द नहीं सुना है और इसलिए उन्हें इसे समझने में कठिनाई होगी । निवेदिता को इस सम्प्रत्यय की शुरूआत करने के लिए कौन सी विधि का उपयोग करना चाहिए?

Advertisement

A) Lecture/ व्याख्या

B) Brain Storming/विचार मंथन

C) Play through Puppets/कठपुतली द्वारा नाटक

D) Field visit/क्षेत्र भ्रमण

1) C & D only

2) A & C only 

3) B & C only

4) B & D only 

Ans- 1

4.  After completing a chapter on “Family and Friends” Chetan decides to take a Unit test of students. Which of the following statements is the most suitable objective of taking this test?/“परिवार एवं मित्र” (पीठ के पूर्ण होने पर चेतन विद्यार्थियों को इकाई परीक्षण लेने का निर्णय लेता है। निम्नलिखित में से कौन सा कथनइस परीक्षण का सर्वाधिक उपयुक्त उद्देश्य है ? 

A) Assessment of students progress/ विद्यार्थियों की प्रगति का आकलन करना ।

B) Assessment of students learning/विद्यार्थियों के अधिगम का आकलन करना ( विद्यार्थियों की कठिनाइयों का निदान करना)।

C) Informing about students progress/अभिभावकों को विद्यार्थियों की प्रगति के बारे में बताना। 

D) Declaring students pass or fail/ विद्यार्थियों को उत्तीर्ण अथवा अनुतीर्ण घोषित करना।

1) A, B & D

2) A, B & C

3) B, C & D

4) A, C & D

Advertisement

Ans- 2 

5. William, a teacher wants to set up a Bird watching club for his class. Whom should he appoint as leader of this club?/ विलियम, एक शिक्षक, अपनी कक्षा के लिए पक्षी अवलोकन क्लब की स्थापना करना चाहता है। उसे इस क्लब का नेता किसे बनाना चाहिए?

1) To the student who gains highest marks in class./कक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी को

2) To most notorious student of class./कक्षा के सबसे शरारती विद्यार्थी को 

3) Form small groups and ask them to select leaders./छोटे छोटे समूह बनाकर, उन्हें नेता चुनने के लिए कहेंगे

4) He should declare himself leaders/वह स्वयं अपने आप को नेता घोषित करेगा.

Ans- 3 

6. While discussing chapter ‘Food’, Gurpreet asks questions to students, such as “Who eats last in your family? Who buys the vegetables? Who cooks the food in your family?” She is trying to discuss on which of the following issue of EVS?/“भोजन’ पाठ पर चर्चा करते हुए गुरूप्रीत विद्यार्थियों से प्रश्न करती है, कि आपके परिवार में सबसे बाद में भोजन कौन करता है? सब्ज़ियां कौन खरीदता है? आपके परिवार में खाना कौन बनाता है? वह ई.वी.एस. के निम्नलिखित में से किस मुद्दे पर चर्चा करने का प्रयास कर रही है?

A) Eating habits of family/परिवार की खानपान की आदतें

B) Family should eat together/परिवार को एक साथ मिलकर खाना चाहिए

C) Role of family members in cooking food/परिवार के सदस्यों की भोजन पकाने में भूमिका

D) Challenge gender roles in family/परिवार में जेंडर भूमिका को चुनौती

1) A & D only/केवल A और D 

2) B & C only/ केवल B और C

3) C & D only/केवल C और D

4) A, B, & C only/केवल A, B, और C

Ans- 3 

7. Shyam informs his teacher in an online class that he was asked by his father to provide food to the neighbouring poor children during Covid lockdown. This behaviour of Shyam will be recorded in which of the following tools to assess co- scholastic aspect?/श्याम ने ऑनलाइन कक्षा के दौरान अपने अध्यापक को बताया कि कोविड लॉकडाउन के दौरान उसके पापा ने उसको पड़ोस के गरीब बच्चों को भोजन खिलाने के लिए कहा। श्याम का यह व्यवहार निम्नलिखित में से सहशैक्षिक पक्ष का आकलन करने वाले किस उपकरण में दर्ज किया जाएगा? 

Advertisement

1) Observation schedule/ अवलोकन अनुसूची

2) Rating scale/रेटिंग स्केल

3) Record/वृतांत रिकॉर्ड

4) Portfolio/पोर्टफोलियो

Ans- 3 

8. Iqbal, a student of Geeta’s class is visually impaired. Geeta observes that he is not coming to school since past few days. On talking to his parents, she finds that Iqbal is finding difficulty to see what is written on the board and also not able to participate in classroom processes. What should Geeta do to motivate Iqbal to attend school?

गीता की कक्षा का एक विद्यार्थी इकबाल (दृष्टिबाधित) है। गीता देखती है कि वह पिछले कुछ दिनों से विद्यालय नहीं आ रहा है। उसके अभिभावक से बात करने पर पता चलता है कि उसे बोर्ड को पढ़ने में कठिनाई होती है और वह कक्षा प्रक्रियाओं में भी भाग नहीं ले पा रहा है। गीता को इकबाल को विद्यालय आने के लिए अभिप्रेरित करने हेतु क्या करना चाहिए?

1) Allow him to learn from home /उसे घर से पढ़ने की स्वीकृति देनी चाहिए। 

2) Ask his parents to consult a doctor/ उसके अभिभावकों को डॉक्टर से सलाह लेने के लिए कहना चाहिए।

3) Plan a classroom play with a role to play for Iqbal/ कक्षा नाटक की योजना बनाकर इकबाल के लिए भूमिका निर्मित करनी चाहिए। 

4) Make Iqbal sit in the front seat/ इकबाल को आगे की सीट पर बिठाना चाहिए।

Ans- 3 

9. Rishi is planning to teach, “Things that we make and do”. He wants to discuss how silk is produced. Which of the following is the most suitable strategy for this?/ ऋषि “चीजें हम जो बनाते हैं और करते हैं” पढ़ाने की योजना बना रहा है। वह रेशम कैसे बनता है, इसपर चर्चा करना चाहता है। इसके लिए निम्नलिखित में से सबसे उपयुक्त युक्ति कौन-सी होगी?

1) Classroom discussion/कक्षा चर्चा

2) Inviting expert lecture/ विशेषज्ञ वार्ता 

3) Documentary presentation/वृतचित्र प्रस्तुतिकरण

4) Visit to a sericulture Unit/ रेशमपालन इकाई भ्रमण

Ans- 4 

Advertisement

10. An EVS Teacher must-/ पर्यावरण अध्ययन के अध्यापक को करना चाहिए?

1) construct curriculum/पाठ्यचर्या का निर्माण

2) follow curriculum/पाठ्यचर्या का पालन

3) transmit curriculum/पाठ्यचर्या का हस्तांतरण

4) implement curriculum/पाठ्यचर्या का क्रियान्वयन

Ans- 1 

11. There are no text books of EVS for classes I & II This is because – /कक्षा पहली एवं दूसरी के लिए पर्यावरण EVS अध्ययन की कोई पाठ्य पुस्तक नहीं है, ऐसा 5) इसलिए है क्योंकि-

1) Environmental concepts are difficult to teach students of these classes/ इन कक्षाओं के विद्यार्थियों को पर्यावरणीय अवधारणाएँ पढ़ाना कठिन है।

2) Environmental components have been integrated with Language and Mathematics/पर्यावणीय घटकों को भाषा और गणित के साथ समाहित किया गया है।

3) This has been done to reduce the burden of teachers and students/ऐसा शिक्षकों और विद्यार्थियों का बोझ कम करने के लिए किया गया है।

4) The curriculum lays emphasis on moving beyond the text books./पाठ्यचर्या पाठ्यपुस्तकों से परे जाने पर ज़ोर देती है।

Ans- 2 

12. Ramesh plans a play for the class V as the method for teaching ‘Animals’What should he do?/ रमेश कक्षा-5 में ‘जंतुओं’ को पढ़ाने के लिए नाटक का उपयोग करना चाहता है, उसे क्या करना चाहिए?

1) Select an already written play & direct/ पहले से लिखित नाटक का चयन कर निर्देशित करें।

2) Write the play himself & direct it/ स्वयं नाटक लिखकर निर्देशित करें।

3) Ask students to write the play & enact/ विद्यार्थियों से नाटक लिखने और अभिनय करने को कहें।

4) Search for an already enacted play/ पहले से मंचित एवं अभिनित नाटक को खोजें।

Ans- 3 

Advertisement

13. During discussing ‘water’, Shivangi asked her students of class I to draw sky. Sam coloured sky green. On asking why he has chosen this colour, he replied the pond near his home is green and since water comes from sky, sky must be green. Shivangi must-/जल पर चर्चा करते हुए शिवांगी कक्षा I के विद्यार्थियों से आकाश का चित्र बनाने को कहती है। सैम ने आकाश में हरा रंग भरा। उसनेइस रंग को क्यों चुना यह पूछने पर वह जवाब देता है कि उसके घर के पास तालाब का रंग हरा है क्योंकि पानी आकाश से आता है, इसलिए आकाश हरा होगा। शिवांगी को-

1) Appreciate his creativity/उसकी सृजनात्मकता की सराहना करनी चाहिए। 

2) Tell him that the sky is blue/ उसे बताना चाहिए कि आकाश नीला होता है।

3) Arrange sky observation /विद्यार्थियों के आकाश का अवलोकन की व्यवस्था करनी चाहिए। 

4) Tell him that the sky is black/उसे बताना चाहिए कि आकाश काला होता है।

Ans- 3 

14. Formativee assessment for EVS is-/ई.वी.एस. के लिए रचनात्मक आकलन है-

A) Assessment for learning/अधिगम के लिए आकलन

B) Assessment of learning/अधिगम का आकलन

C) Assessment as learning/आकलन के साथ अधिगम

D) Assessment about learning/अधिगम के बारे में आकलन

1) A & C Only /केवल A और C

2) A, B & C/केवल A, B और C

3) B and C only/केवल B और C

4) B, C & D/केवल B, C और D

Ans- 1 

Read More:-

CTET 2022: सीटेट परीक्षा में में सबसे ज्यादा पूछे गए प्रश्न ‘अनुवांशिकता और पर्यावरण’ से जुड़े प्रश्न

Advertisement

CTET 2022: परीक्षा में हर बार पूछे जाते हैं ‘लैब वाइगोत्सकी सिद्धांत’ पर आधारित एक से दो प्रश्न अभी पढ़ें

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए ‘पर्यावरण पेडागॉजी’ पर आधारित महत्वपूर्ण सवालों (CTET Previous Year EVS Pedagogy Questions) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

CTET-UPTET पास कर सकेंगें आवेदन

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे. जिसके बाद अप्रैल महीने में ऑनलाइन मोड में UPTET परीक्षा आयोजित की जाएगी.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET Answer Key 2023: शिक्षक पात्रता परीक्षा की आंसर की करें डाउनलोड, जानें कब तक आयेगा परीक्षा परिणाम 

Published

on

By

Advertisement

CTET Answer Key 2023: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड याने CBSE द्वारा आयोजित की जाने वाली CTET परीक्षा आज 7 फ़रवरी को पूरी हो चुकी है, यह परीक्षा 28 दिसंबर अग़ल-अलग दिन दो शिफ्ट में आयोजित की जा रही है जिसमें शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी शामिल हुए है। अब परीक्षा की समाप्ति के बाद अभ्यर्थी अपनी आंसर की जारी होने का इंतज़ार कर रहे है, बता दें कि परीक्षा समाप्ति के कुछ दिन के भीतर ही CBSE द्वारा आंसर की जारी कर दी जाती है।

इस दिन जारी होगी आंसर की 

CTET परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थियों का इंतज़ार जल्द ही ख़त्म होने वाला है मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ CBSE द्वारा 11 फ़रवरी 2023 को आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर CTET पेपर 1 तथा पेपर 2 की आंसर की जारी कर दी जाएगी। इसके बाद मार्च माह में फाइनल आंसर-की तथा परीक्षा परिणाम जारी किया जा सकता है।

बता दें आंसर की लिंक ऐक्टिव होने के बाद उम्मीदवार अपने रजिस्ट्रेशन नंबर तथा जन्म तारीख़ की सहायता से आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन कर अपनी उत्तर कुंजी डाउनलोड कर पाएँगें।

Advertisement

परीक्षा में लागू होगा नॉर्मलिज़ेशन

सीबीएसई द्वारा दिसंबर 2021 में पहली बार CTET परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की गई थी, तथा इस बार भी यह परीक्षा ऑनलाइन ही आयोजित हुई है। चुकी परीक्षा का आयोजन अलग- अगल दिन कई शिफ़्टों में किया गया है लिहाज़ा परीक्षार्थियों के मध्य समान प्रतिस्पर्द्धा क़ायम रखने के लिए नॉर्मलिज़ेशन व्यवस्था को लागू किया गया है। बता दें कि परीक्षा में नॉर्मलिज़ेशन होने की जानकारी CBSE द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर पहले ही दे दी गई थी। 

CTET Exam Cut Off 2023

सीटीएटी परीक्षा में कैटेगरी वाइज कटऑफ़ निर्धारित किया गया है। पेपर 1 तथा पेपर 2 के लिए कट ऑफ अंक समान है। सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी को इस परीक्षा में पास होने के लिए 60 प्रतिशत अंक याने 150 नंबर के पेपर में 90 अंक लाना होगा, जबकि आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को 55 प्रतिशत अंक यानें 150 अंक के पेपर में 82 अंक लाना होगा।

CategoryMinimum qualifying percentageMinimum qualifying Marks
Schedule Caste (SC)55%82 out of 150
Schedule Tribe (ST)55%82 out of 150

CTET Exam 2023 Important FAQs

क्या सीटीईटी परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है?

नहीं, CBSE द्वारा आयोजित सीटीईटी परीक्षा में किसी भी प्रकार की नकारात्मक मार्किंग नहीं की जाती है।

सीटीईटी सर्टिफिकेट की वैद्यता कितने वर्ष होती है?

आजीवन, CTET परीक्षा पास करने वालों अभ्यर्थियों को मिलने वाले सर्टिफिकेट की वैद्यता लाइफ टाइम कर दी गई है जो पहले 7 वर्ष थी।

सीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए आयु सीमा क्या है?

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकतम उम्र सीमा निर्धारत नहीं है, हालाकि न्यूनतम आयु 18 वर्ष होना चाहिए।

सीटीईटी परीक्षा कितने बार दे सकते है?

उम्मीदवार जीतने बार चाहे उतने बार सीटीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते है, जो अभ्यर्थी इस परीक्षा में पास हो चुके है वे अपने स्कोर को सुधार के लिए दुबारा परीक्षा दे सकते है।

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET 2022-23: लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से परीक्षा में पूछे जा रहे है ये सवाल, अभी पढ़ें

Published

on

Lev Vygotsky's Theories Based MCQ For CTET
Advertisement

Lev Vygotsky’s Theories Based MCQ For CTET: शिक्षक बनने के लिए जरूरी सीटेट यानी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन 7 फरवरी 2023 तक ऑनलाइन सीबीटी मोड में किया  जा रहा है.  यह परीक्षा 29 दिसंबर 2023 से शुरू हुई थी तथा अब 3, 4, 6  तथा 7 फरवरी को परीक्षा का आयोजन होना बाकी है.  यदि आप भी आगामी सीटेट परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो इस आर्टिकल में दी गई जानकारी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं.

यहां पर हम नियमित रूप से सीटेट परीक्षा के लिए प्रैक्टिस सेट शेयर करते रहे हैं। इसी श्रृंखला में आज हम लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत पर आधारित कुछ ऐसे सवाल लेकर आए हैं, जो की परीक्षा में पूछे जा सकते हैं। तो लिए जाने इन महत्वपूर्ण सवालों को जो की इस प्रकार हैं।

Read More: CTET 2023: हर शिफ्ट में पूछे जा रहे है ‘जीन पियाजे’ के सिध्दांत से ये सवाल, इन्हें पढ़ कर पक्के करे नंबर

Advertisement

 लेव वाइगोत्सकी के सिद्धांत से जुड़े संभावित प्रश्न—CTET Exam Lev Vygotsky’s Theories Related Questions

1. लेव वाइगोत्स्की के अनुसार, निम्न में से किसके लिए “समीपस्थ विकास क्षेत्र” का इस्तेमाल करना चाहिए?

1. अध्यापन और मूल्याँकन

2. केवल अध्यापन

3. केवल मूल्यांकन

4. प्रवाही बौद्धिकता की पहचान

Ans- 1 

2. एक विशिष्ट संप्रत्यय को पढ़ाने हेतु एक अध्यापिका बच्चे को आधा हल किया हुआ उदाहरण देती है। लेव वायगोत्सकी के अनुसार अध्यापिका किस रणनीति का इस्तेमाल कर रही है?

1. अवलोकन अधिगम

2. पाड़

3. द्वंद्वात्मक अधिगम

4. अनुकूलन

Ans- 2 

3. ‘समीपस्थ विकास के क्षेत्र का संप्रत्यय किसने प्रतिपादित किया है?

1. जेरोम ब्रूनर

2. डेविड ऑसबेल

Advertisement

3. रोबर्ट एम. गायने

4 लेव व्यागोत्सकी

Ans- 4

4. रश्मि अपनी कक्षा में विद्यार्थियों के सीखने की क्षमता को ध्यान में रखकर विभिन्न प्रकार के कार्यकलापों का उपयोग करती है और सहपाठियों द्वारा अधिगम को बढ़ावा देने के लिए समूह भी बनाती है। निम्नलिखित में से कौन-सा इसका समर्थन करता है?

1. सिग्मंड फ्रॉयड का मनो यौनिक सिद्धांत

2. लेव वायगोत्सकी का सामाजिक सांस्कृतिक सिद्धांत

3. लॉरेंस कोहलबर्ग का नैतिक विकास का सिद्धांत

4. बी. एफ. स्किनर का व्यवहारवादी सिद्धांत

Ans- 2 

5. वायोगात्सकी के सिद्धांत के अनुसार ‘निजी संवाद’ 

1. बच्चों के आत्मकेंद्रीयता का घोतक है।

2. बच्चों के क्रियाकलापों और व्यवहार का अवरोधक है।

3. जटिल कार्य करते समय बच्चे को उसके व्यवहार संचालन में सहायता देता है।

4. यह संकेत देता है कि संज्ञान कभी भी आंतरिक नहीं होता।

Ans- 3 

6. कौन सा कथन लेव व्यागोत्सकी के मूल सिद्धांत को सही मायने में दर्शाता है?

1. अधिगम एक अन्तमन प्रक्रिया है।

2. अधिगम एक सामाजिक क्रिया है।

Advertisement

3. अधिगम उत्पतिमूलक क्रमादेश है। 

4. अधिगम एक अक्रमबद्ध प्रक्रिया है जिसके चार चरण है।

Ans- 2 

7. इनमें से कौन-सा अध्यापक द्वारा पाड़ का उदाहरण नहीं है?

1. अनुकरण के लिए कौशलों का प्रदर्शन करना

2. रटना

3. इशारे एवं संकेत

4. सहपाठियों संग साझा शिक्षण

Ans- 2 

8. लेव वायगोत्सकी के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत को ……….. कहा जाता है क्योंकि वे तर्क देते हैं कि बच्चों का सीखना संदर्भ में होता है।

1. मनोगतिशील

2. मनोलैंगिक

3. सामाजिक सांस्कृतिक

4. व्यवहारात्मक

Ans- 3 

9. जब कोई अध्यापिका किसी विद्यार्थी को उसके विकास के निकटस्थ क्षेत्र पर पहुंचाने के लिए सहायता को उसके निष्पादन के वर्तमान स्तर के अनुरूप है, तो अध्यापिका किस नीति का प्रयोग कर रही है। कर रही है।

1. सहयोगात्मक अधिगम का प्रयोग

2. अंतर पक्षता का प्रदर्शन

Advertisement

3. पाड़

4. विद्यार्थी में संज्ञानात्मक द्वंद पैदा करना

Ans- 3

10. लेव वायगोत्सकी द्वारा दिए बच्चों के विकास का सिद्धांत किस पर आधारित है ?

1. भाषा और संस्कृति

2. भाषा और परिपक्वता

3. भाषा और भौतिक जगत

4. परिपक्वता और संस्कृति

Ans- 1

11.समीपस्थ विकास के क्षेत्र’ की संरचना किसने प्रतिपादित की थी?

1. लॉरेंस कोहल

2. लेव वायगोत्स्की

3. ज़ोरोंन ब्रूनर

4. जीन पियाजे

Ans- 2 

12. निम्न में से कौन-सा कथन बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के विषय में जीन पियाजे और लेव वायगोत्सकी के विचारों के बीच मुख्य अंतर दर्शाता है?

1. पियाजे बच्चों के स्वतंत्र प्रयासों द्वारा जगत को अनुभव करने पर जोर देते हैं, जबकि वायगोत्स्की संज्ञानात्मक विकास को सामाजिक मध्यस्थ प्रक्रिया के रूप में देखते हैं। 

2. पियाजे बच्चों को सक्रिय स्वतंत्र जीव के रूप में देखते हैं, जबकि वायगोत्स्की उन्हें मुख्यतः वातावरण द्वारा नियंत्रित जीव के रूप में देखते हैं।

Advertisement

3. पियाजे भाषा को बच्चों के संज्ञानात्मक विकास के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं, जबकि विकास पर बल देते हैं।

4. पियाजे के अनुसार बच्चे अपने मार्गदर्शन के लिए स्वयं से बात कर सकते हैं, जबकि वायगोत्सकी के लिए बच्चों की बात आत्मकेन्द्रीयता का द्योतक है।

Ans- 1 

13. एक अध्यापिका शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में विद्यार्थियों को सहपाठियों से अंतः क्रिया कराकर एवं सहारा देकर अध्यापन करती है। यह शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया किस पर आधारित है ?

1. लॉरेंस कोहलबर्ग के नैतिक विकास सिद्धांत पर 

2. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास सिद्धांत पर

3. लेव वायगोत्स्की के सामाजिक-सांस्कृतिक सिद्धांत पर

4. हावर्ड गार्डनर के बहुआयामी बुद्धि सिद्धांत पर

Ans- 3 

14. वायगोत्स्की के सिद्धान्त के अनुसार ‘सहायक खोज’ किस में सहायक है।

1. संज्ञानात्मक द्वंद्व

2. उत्प्रेरक-प्रतिक्रिया सहचर्य

3. पुनर्बलन

4. सहपाठी- सहयोग

Ans- 4 

15. कक्षा में विद्यार्थियों को त्यौहारों को मनाने के अपने अनुभवों को साझा करने के देना और उसके आधार पर सूचना निर्मित करने को बढ़ावा देना किसका उदाहरण है। ?

1. व्यवहारवाद

2. पाठ्यपुस्तक आधारित अध्यापन

Advertisement

3. सामाजिक संरचनावाद

4. प्रत्यक्ष निर्देशन

Ans- 3

ये भी पढे:-

CTET 2022: सीटेट परीक्षा के लिए बुद्धि परीक्षण पर आधारित इन सवालों से करे अपनी अंतिम तैयारी!

CTET 2022: हिन्दी भाषा शिक्षण के इन सवालों से करे अपनी बेहतर तैयारी

Advertisement

Continue Reading

Trending