CTET

CTET Hindi PYQ: विगत वर्षो में पूछे गए हिन्दी शिक्षाशास्त्र जुड़े इन सवालों से करे अंतिम तैयारी!

Advertisement

CTET Hindi Pedagogy PYQ: इस वर्ष आयोजित होने वाली सिरप परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया कल 24 नवंबर 2022 को समाप्त हो जाएगी इसलिए अभ्यर्थी को यह सलाह दी जाती है कि अपना रजिस्ट्रेशन परीक्षा के लिए शीघ्र ही करवा ले। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा सीबीएसई द्वारा इस बार दिसंबर माह से ऑनलाइन माध्यम से आयोजित कराई जाएगी जो कि कई चरणों में चलेगी। अतः परीक्षा में शामिल होने वाले  देश के लाखों उम्मीदवार परीक्षा के लिए अपने अंतिम तैयारी के रूप में व्यस्त हैं 

यदि आप भी सीटेट परीक्षा का हिस्सा बनने जा रहे हैं तो यहां पर दी गई जानकारी आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस लेख में विगत वर्षों मे पूछे गए हिंदी पेडगॉजी से जुड़े सवाल शेयर किए हैं  जिनका अध्ययन अभ्यर्थियों को परीक्षा में जाने से पूर्व एक बार अवश्य कर लेना चाहिए जिससे कि उच्चतम अंकों के साथ सफलता अर्जित की जा सके।

Hindi Pedagogy Previous Year Question For CTET Exam

1. प्राथमिक स्तर पर भाषा सीखने-सिखाने की सबसे पहली शर्त है-

Advertisement

(1) सरल पाठ्य पुस्तक

(2) निवेश – समृद्ध संप्रेषण का वातावरण

(3) बाल साहित्यकारों का साहित्य

(4) चार्ट, पोस्टर से सुसज्जित कक्षा

Ans- 2

2. संयुक्त परिवारों में बच्चों का भाषा विकास अपेक्षाकृत बेहतर होता है। इसका आधार है

(1) बड़ों की परिपक्व भाषा

(2) बच्चे   द्वारा बड़ों का अनुकरण

(3) परस्पर अंतः क्रिया 

(4) परस्पर प्रश्नोत्तर

Ans- 3

3. पढ़ने की कुशलता में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है-

(1) शब्द पढ़ना

(2) अर्थ-निर्माण

(3) तीव्र गति

Advertisement

(4) उच्चारणगत शुद्धता

Ans- 2

4. पहली दूसरी कक्षा में अनेक बच्चे हिंदी भाषा सीखते समय अपनी मातृभाषा का प्रयोग करते हैं। यह-

(1) स्वीकार्य है। 

(2) अस्वीकार्य है।

(3) वैध नहीं है।

(4) बहुत गलत है।

Ans- 1 

5. बच्चों के भाषा- विकास के लिए ज़रूरी है, बच्चों को.

(1) अनुकरण के लिए प्रोत्साहित करना ।

(2) भाषा प्रयोग के अवसर देना ।

(3) व्याकरण सीखने के लिए प्रोत्साहित करना ।

(4) साहित्य पढ़ने के लिए पुरस्कृत करना ।

Ans- 2

6. प्राथमिक स्तर पर भाषा – शिक्षण के संदर्भ में कौन-सा कथन सर्वाधिक उचित है ?

(1) बच्चों को क्रम से भाषा कौशल सिखाए जाने चाहिए।

(2) बच्चों को केवल भाषा की पाठ्य पुस्तक ही दी जाए। 

(3) सभी बच्चों की प्रगति समान रूप से ही होनी चाहिए।

Advertisement

(4) बच्चों को विभिन्न प्रकार का बाल साहित्य पढ़ने के अवसर दें।

Ans- 4 

7. रूपा चौथी कक्षा को पढ़ाती हैं। उन्होंने गुजराती लोक कथा ‘मुफ़्त ही मुफ़्त’ पढ़ाने के बाद बच्चों से पूछा कि उनकी भाषा आदर के लिए किन शब्दों का प्रयोग किया जाता है, जैसे गुजराती भाषा में ‘भाई’ ‘बेन’ का प्रयोग किया जाता है। रूपा का उद्देश्य है-

(1) अन्य भाषाओं को 

(2) सभी बच्चों को अवसर देना

(3) बहुभाषिकता को संबोधित करना 

(4) अभ्यास प्रश्न को करवाना

Ans- 3

8. माया अकसर शब्दों को लिखते समय अक्षरों को छोटा-बड़ा लिखती है या उनके बीच समान दूरी नहीं रख पाती माया संभवतः ——— के कारण ऐसा करती है।

(1) लापरवाही

(2) अज्ञानता

(3) डिस्ग्राफ़िया

(4) अरुचि

Ans- 3

9. पोर्टफोलियो ——– में मदद करता है।

(1) कार्य को संचित करने

(2) बच्चों को भययुक्त वातावरण देने 

(3) समस्त क्षमताओं की जानकारी देने 

Advertisement

(4) क्रमिक प्रगति का आकलन करने 

Ans- 4

10. बच्चों की लेखन क्षमता का आकलन करने की दृष्टि से कौन-सा प्रश्न सर्वाधिक बेहतर है? 

(1) ‘बहादुर बित्तो’ शीर्षक कहानी लिखिए।

(2) ‘बहादुर बित्तो’ कहानी का अंत बदलकर लिखिए।

(3) ‘बहादुर वित्तो’ में संज्ञा शब्दों को चिह्नित कीजिए।

(4) ‘बहादुर वित्तो’ कहानी को शीर्षक दीजिए।

Ans- 2 

11. ‘भाषा अर्जन क्षमता’ सिद्धांत ———— से संबंधित है।

(1) चॉम्स्की

(2) पियाजे

(3) स्किनर

(4) वाइगोत्स्की

Ans- a

12. भाषा का मनुष्य की ———— और मनुष्य के ————– के साथ गहरा संबंध होता है।

(1) अस्मिता, व्यापार

(2) व्यावहारिकता, व्यवहार

Advertisement

(3) अस्मिता, विचार

(4) वैचारिकता, व्यापार

Ans- 3

13. गद्य शिक्षण में अपेक्षित नहीं है- 

(1) भाषा की बारीकियाँ समझना

(2) कल्पनाशीलता का विकास

(3) तार्किक शक्ति का विकास

(4) अनुकरण क्षमता का विकास

Ans- 4 

14. प्राथमिक स्तर पर पढ़ाने वाली सुनीता अपनी कक्षा के बच्चों को प्रतिदिन एक कहानी पढ़कर सुनाती हैं और उस पर चर्चा करती हैं। आप इस कक्षा के बारे में क्या कहेंगे?

(1) कहानी सुनाने से समय नष्ट हो रहा है।

(2) कहानी पर चर्चा भाषा विकास को अवरुद्ध करती है। 

(3) पढ़ने और मौखिक अभिव्यक्ति का विकास हो रहा है। 

(4) सुनीता अपने शिक्षक प्रशिक्षण की रीतियों को निभा रही है।

Ans- 3

15. ज़्यादातर बच्चे, स्कूल की शिक्षा की शुरुआत से पहले ही भाषा की ———— और ————  को आत्मसात कर पूर्ण भाषिक क्षमता रखते हैं।

(1) चुनौतियों, अवसरों

(2) जटिलताओं, मानकों

Advertisement

(3) चुनौतियों, प्रचलन

(4) जटिलताओं, नियमों

Ans- 4

Read More:-

EVS PEDAGOGY CTET 2022: परीक्षा के अंतिम दिनों में ‘पर्यावरण पेडगॉजी’ के इस प्रैक्टिस सेट का अभ्यास जरूर करें!

CTET 2022: ‘बुद्धि के सिद्धांत’ से जुड़े एक से 2 सवाल जरूर पूछे जाएंगे दिसंबर में होने वाली सीटेट परीक्षा में अभी पढ़ें!

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button