CTET 2022: जल्द आयोजित होगी सीटेट परीक्षा पूछे जा सकते हैं ‘हिंदी पेडागॉजी’ से जुड़े ऐसे प्रश्न

Advertisement

CTET Hindi Pedagogy Practice Set: हर साल लाखों की संख्या में अभ्यर्थी सीटेट परीक्षा में शामिल होते हैं।  वर्ष में दो बार आयोजित होने वाली देश की सबसे बड़ी शिक्षक पात्रता परीक्षा में से एक केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन इस वर्ष दिसंबर से जनवरी माह के बीच में होने जा रहा है।  जिसके लिए आवेदन की प्रक्रिया का क्रम पूर्ण हो चुका है, जल्द ही बोर्ड के द्वारा परीक्षा की तिथि जारी कर दी जाएगी।  

यदि आप भी शिक्षक के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, और इस परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे हैं तो आपके लिए यहां पर हम परीक्षा में पूछे जाने वाले हिंदी पेडगॉजी से जुड़े ऐसे महत्वपूर्ण सवाल लेकर आए हैं, जो की परीक्षा की दृष्टि से बेहद ही महत्वपूर्ण है, अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह इन प्रश्नों को परीक्षा में शामिल होने से पूर्व एक बार अवश्य पढ़ें जिससे कि परीक्षा में बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके

परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है हिंदी शिक्षण शास्त्र के यह प्रश्न—Hindi Pedagogy objective Questions For CTET Exam

1. इनमें कौन-सा पढ़ने का उप-कौशल नहीं है –

Advertisement

(a) ऊँचे स्वर में पढ़ना और अर्थ बताना 

(b) पाठ्य सामग्री को सूचना हेतु ध्यान से देखना 

(c) निष्कर्ष निकालने के लिए

(d) बेहतर उच्चारण हेतु पढ़ना पढ़ना

Ans- d 

2. एक शिक्षक श्यामपट्ट पर एक अनुच्छेद लिखता है/ लिखती है और बीच में कुछ जगह खाली छोड़ देता देती है। बाद में कुछ शब्द अलग से / लिखता लिखती है और विद्यार्थियों से कहता / कहती है कि दिए गए शब्दों की सहायता से एक कहानी को पूरा करें जो इस अनुच्छेद में उचित स्थान पर प्रयुक्त किए जा सकते हैं। इस प्रकार की लघु परीक्षा जानी जाती है

(a) उपलब्धि परीक्षण 

(b) बुद्धि परीक्षण

(c) बोध परीक्षण

(d) क्लोज़ परीक्षण

Ans- d 

3. यह विचार कि ‘हम अपने आस-पास के परिवेश के बारे में क्या सोचते हैं। और कैसे उसे देखते हैं, यह भाषा द्वारा सुनिश्चित होता है’, किससे संबंधित है ? 

(a) सापिर बॉर्फ परिकल्पना

(b) भाषिक सम्बद्धता

(c) भाषा समाजीकरण

Advertisement

(d) भाषा अर्जन

Ans- a 

4. अतिरिक्त द्वितीय भाषा में निर्देश पढ़ाते हुए किसी अकादमिक विषयवस्तु के शिक्षण के लिए शिक्षार्थी की घर की भाषा का इस्तेमाल करना क्या कहलाता है?

(a) बुनियादी

(b) बहुभाषिकता

(c) द्विभाषिक

(d) सटीकता

Ans- c 

5. द्विभाषिक शिक्षा एक शैक्षिक प्रक्रिया है जिसमें शिक्षण अधिगम प्रक्रिया में ……………..

(a) केवल एक भाषा का प्रयोग किया जाता है।

(b) तीन से अधिक भाषाओं का प्रयोग किया जाता है

(c) दो भाषाओं का प्रयोग किया जाता है 

(d) किसी भी भाषा का प्रयोग नहीं किया जाता है।

Ans- c 

6. पशु एवं मानवीय संप्रेषण के मध्य महत्वपूर्ण अंतर कौन-सा है? 

(a) पशु भावनाएँ संप्रेषित कर सकते हैं। 

(b) मानव भावनाएँ संप्रेषित कर सकते हैं।

(c) पशु अपनी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए संप्रेषित करते हैं। 

Advertisement

(d) मनुष्य अपनी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए संप्रेषित करते हैं।

Ans- c 

7. द्विभाषी शिक्षण अधिगम प्रक्रिया में शिक्षार्थी की घर की भाषा के साथ- साथ और किसका प्रयोग किया जाता है? 

(a) प्रथम भाषा में निर्देश दिए जाते हैं।

(b) द्वितीय भाषा में अतिरिक्त निर्देश दिए जाते हैं।

(c) संकेत भाषा सिखाई जाती है।

(d) सार्वभौमिक व्याकरण सिखाई जाती है।

Ans- b 

8. बच्चों की मौखिक भाषा को विकसित करने में सहायता करने के लिए उनसे बातचीत करना …………..का एक महत्त्वपूर्ण घटक है।

(a) प्रक्रिया लेखन उपागम

(b) गहन पठन

(c) उत्पाद लेखन उपागम

(d) प्रारंभिक साक्षरता

Ans- d 

9. भाषा अधिगम में ‘बोधगम्य निवेश’ का क्या अर्थ है ? 

(a) बच्चों को ऐसे भाषायी अवसर उपलब्ध कराना जो उनकी भाषा से एक स्तर ऊपर हैं।

(b) बच्चों को लक्ष्य भाषा के अधिकतम अवसर उपलब्ध कराना । 

(c) कहानी सुनाने के माध्यम से भाषा अधिगम को रोचक बनाना ।

Advertisement

(d) कक्षा की दीवारों पर बच्चे की रचनाएँ प्रदर्शित करना।

Ans- a 

10. कक्षा 1 का कबीर ‘शान्ति’ शब्द सुनकर ‘फान्ति’, ‘डान्ति’, ‘मान्ति’ जैसे निरर्थक शब्द बोलकर मजे लेती है। यह प्रदर्शित करता है कि- 

(a) उसने गलत संकल्पना विकसित कर ली है।

(b) वह ध्वन्यात्मक जागरूकता विकसित कर रहा है। 

(c) उसे इस तथ्य को भूलने तथा दुबारा से सही याद करने की आवश्यकता है। 

(d) उसे स्वयं को सुधारने के लिए और अधिक अभ्यास की आवश्यकता है।

Ans- b 

11. भाषा का व्याकरण कब सबसे अच्छा सीखा जा सकता है? 

(a) पठन सामग्री तथा संरचनाओं की पहचान को एकीकृत करके। 

(b) व्याकरणिक संकल्पनाओं का अलग से अभ्यास करके। 

(c) व्याकरणिक संरचनाओं को कंठस्थ करके।

(d) संरचनात्मक उपागम को अपनाकर।

Ans- a 

12. एक शिक्षिका कक्षा V में ‘अच्छा’, ‘सुन्दर’, ‘बुरा’, ‘रंगीन’, ‘बूढ़ा’,’युवा’ आदि शब्दों वाले बहुत से वाक्य देती है और जब शिक्षार्थी इन शब्दों पर ध्यान देते हैं जिन्हें वह विशेषता बताने वाले शब्द’ का नाम देती है। बाद में वह उन्हें और अधिक शब्द देती है तथा उनमें इन विशेषता बताने वाले शब्दों को प्रयोग करने के लिए कहती है। अंत में शिक्षार्थियों का ध्यान आकर्षित करती है तथा कहती है कि ये शब्द विशेषण’ कहलाते हैं। यह रणनीति क्या कहलाती है?

(a) व्याकरण शिक्षण रणनीति

(b) सचेतना में वृद्धि

(c) विशेषण शिक्षण

Advertisement

(d) विषय वस्तु आधारित व्याकरण

Ans- b 

13. कौन-सी विधि दोहराव वाले अभ्यास को एक बड़ी प्रविधि मानती है। 

(a) व्याकरण अनुवाद विधि

(b) समूह भाषा शिक्षण

(c) संपूर्ण भाषा दृष्टिकोण 

(d) श्रव्य भाषावाद

Ans- d 

14. अपने आरंभिक वर्षों में बच्चे दीवार, फर्श, और कॉपी / उत्तरपुस्तिका में आड़ी तिरछी रेखाएँ बनाते हैं। 

भाषा सीखने में यह अवस्था क्या कहलाती है?

(a) क्रिब्लिंग

(b) प्रारंम्भिक साक्षरता

(c) लेखन कौशल

(d) ग्राफिक विकास

Ans- b 

15. यदि एक बालक किसी एक भाषा का अच्छा पाठक/अच्छी पाठिका है तो वह दूसरी अथवा किसी अन्य भाषा का अच्छा पाठक हो सकती / सकता है ( जब वह दूसरी / अन्य भाषा सीखता है) इसे जाना जाता है।

(a) पठन क्षमता

(b) पढ़ने की रणनीति

Advertisement

(c) कौशल का अन्तरण

(d) उच्च स्तरीय कौशल

Ans- c 

ये भी पढे:

CTET 2022: सीटेट परीक्षा में पूछे जाएंगे ‘गणित पेडागोजी’ के कुछ इस लेबल के सवाल अभी पढ़ें!

CTET 2022: यदि आप भी शामिल होने वाले हैं सीटेट परीक्षा में तो ‘गणित पेडागोजी’ के इन सवालों का अभ्यास जरूर करें!

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए हिंदी पेडगॉजी से संबंधित महत्वपूर्ण सवालों (CTET Hindi Pedagogy Practice Set) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Leave a Comment