CTET Psychology MCQ: ‘मनोविज्ञान’ पर आधारित ऐसे सवाल जो दिसंबर में होने वाली सीटेट परीक्षा में अवश्य पूछे जाएंगे!

Advertisement

Psychology MCQ For CTET: सीबीएसई के द्वारा आने वाले दिसंबर महीने से सीटेट परीक्षा का आगाज किया जाएगा जो कि लगभग 1 महीने तक कई शिफ्टों में चलेगी। अगर आप भी परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे हैं तो आपके लिए इस आर्टिकल में हमने मनोविज्ञान पर आधारित अत्यंत महत्वपूर्ण प्रश्नों को लेकर आए हैं जिनकी सहायता से आप परीक्षा में उच्च अंक हासिल कर सकेंगे, अतः आप इन सवालों को परीक्षा में सम्मिलित होने से पूर्व एक बार अवश्य पढ़ ले। 

बता दे यह एक पात्रता परीक्षा है जिसमें उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थियों को आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा में अभिनय करने का मौका मिलता है,  परीक्षा के लिए अभी आवेदन प्रक्रिया जारी है जो कि 24 नवंबर 2022 तक चलेगी।

सीटेट परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है मनोविज्ञान के प्रश्न—Psychology objective Questions and Answers For CTET Exam

1. दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम (2016) के अनुसार, निम्न में से किस शब्दावली का प्रयोग उपयुक्त है ?

Advertisement

A. छात्र जिसका अशक्त शरीर है।

B. मंदित छात्र

C. विकलांग छात्र

D. छात्र जिसे शारीरिक दिव्यांगता है।

Ans- D

2. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत में, पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था में विकास का मुख्य गुण क्या होता है ?

A. संरक्षण और पदार्थों को क्रमबद्ध करने का क्षमता

B. अमूर्त सोच का विकास

C. विचार/सोच में केंद्रीकरण

D. परिकल्पित-निगमनात्मक सोच

Ans- C

3. “जीन पियाजे अपने संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत में, संज्ञानात्मक संरचनाओं को ———-  के रूप में वर्णित करते हैं।

A. स्कीमा/मनोबंध

B. मनोवैज्ञानिक उपकरणों

C. उद्दीपक-अनुक्रिया संबंध 

Advertisement

D. विकास का समीपस्थ क्षेत्र

Ans- A

4. जन्म से किशोरावस्था तक बच्चों में विकास किस क्रम में होता है ?

A. अमूर्त, मूर्त, सांवेदिक

B. सांवेदिक, मूर्त, अमूर्त 

C. अमूर्त, सांवेदिक, मूर्त

D. मूर्त, अमूर्त, सांवेदिक

Ans- B

5. समस्या समाधान क्षमताओं को किस प्रकार किया जा सकता है ?

A. विद्यार्थियों में डर की भावना पैदा कर ।

B. लगातार अभ्यास और कार्यान्वयन पर जा देकर ।

C. समस्याओं के हल हेतु अटल प्रक्रिया के इस्तेमाल को बढ़ावा देकर।

D. समरूपों के इस्तेमाल को बढ़ावा देकर।

Ans- D

6. एक समावेशी कक्षा में ———- पर जोर होना चाहिए।

A. हर बच्चे के सामर्थ्य को अधिकतम करने के लिए अवसर प्रदान करने

B. प्रदर्शन- अभिमुखी लक्ष्यों

C. अविभेदी/समरूपी निर्देशों 

Advertisement

D. सामाजिक पहचान के आधार पर छात्रों के अलगाव

Ans- A

7. एक प्रगतिशील कक्षा में व्यक्तिगत विभिन्नताओं को किस प्रकार देखा जाना चाहिए ?

A. अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया की परियोजना के लिए महत्त्वपूर्ण । 

B. अधिगम की प्रक्रिया में बाधा

C. अध्यापक के पक्ष पर असफलता।

D. योग्यता-आधारित समूह बनाने का मापदंड ।

Ans- A

8. अधिगम कठिनाइयों से जूझते छात्रों की जरूरतों को संबोधित करने के लिए, एक अध्यापक को क्या नहीं करना चाहिए ?

A. शिक्षाशास्त्र और आकलन की जटिल संरचनाओं का . प्रयोग।

B. दृश्य-श्रव्य सामग्रियों का इस्तेमाल

C. संरचनात्मक शिक्षाशास्त्रीय उपागमों का इस्तेमाल 

D. शैक्षिक योजना बनाना।

Ans- A

9. विविध पृष्ठभूमियों के अधिगमकर्ताओं को संबोधित करने हेतु, एक अध्यापक को –

A. ऐसे कथनों का इस्तेमाल करना चाहिए जा नकारात्मक रूढिबद्ध धारणाओं का मजबूत करें।

B. विविधता संबंधी मुद्दों पर बातचीत टालनी चाहिए। 

C. विविध विन्यासों से उदाहरण लेने चाहिए।

Advertisement

D. सभी के लिए मानकीकृत आंकलनों का इस्तेमाल करना चाहिए।

Ans- C

10. परिपक्वता का संबंध है। ?

A. विकास

B. बुद्धि

C. सृजनात्मकता

D. रूचि

Ans- A

11. सर्जनात्मकता की पहचान का प्रमुख लक्षण क्या है ?

A. असतर्कता

B. कम परिज्ञानता / बोधगम्यता

C. अपसारी चिंतन

D. अतिसक्रियता

Ans- C

12. एक अध्यापिका को, दिये गए किसी कार्यकलाप में छात्रों की विभिन्न त्रुटियों का विश्लेषण करना चाहिए, क्योंकि

A. अधिगम केवल त्रुटियों के शोधन पर निर्भर है।

B. इसके आधार पर वह दंड की मात्रा निर्धारित कर सकती है।

C. त्रुटियों की समझ, अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया के लिए अर्थपूर्ण है।

Advertisement

D. इसके आधार पर वह ज्यादा त्रुटियाँ करने वाले छात्रों को दूसरे छात्रों से अलग कर सकती है।

Ans- C

13. निम्न में से अध्यापन-अधिगम का सबसे प्रभावशाली माध्यम कौन सा है ?

A. अनुकरण/नकल और दोहराना

B. विषय-वस्तु को यंत्रवत याद करना

C. संकल्पनाओं के बीच संबंध खोजना

D. बिना विश्लेषण के अवलोकन करना

Ans- C

14. शर्मिंदगी ————-

A. के भाव को अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया में बारंबार पैदा करना चाहिए।

B. का संज्ञान से कोई संबंध नहीं है। 

C. का संज्ञान पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

D. बच्चों को अधिगम हेतु अभिप्रेरित करने के लिए बहुत प्रभावशाली है।

Ans- C

15. अधिगम की अभिप्रेरणा को किस प्रकार कायम रखा जा सकता है

A. यंत्रवत याद करने पर जोर देकर।

B. बच्चे को दंड देकर

C. प्रवीणता अभिमुखी लक्ष्यों पर जोर देकर।

Advertisement

D. बच्चों को बहुत आसान क्रियाकलाप देकर ।

Ans- C 

Read More:-

CTET Exam 2022: बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के इन सवालों से करें सीटेट परीक्षा की अंतिम तैयारी

CTET CDP PYQ: विगत वर्ष मे पूछे गए ‘बाल विकास और शिक्षाशास्त्र’ से जुड़े सवाल आपको बेहतर परिणाम दिलाएंगे, अवश्य पढे

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए मनोविज्ञान से संबंधित महत्वपूर्ण सवालों (psychology MCQ For CTET) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Leave a Comment