Connect with us

CTET

CTET 2022: ऑनलाइन मोड में आयोजित सीटेट परीक्षा में पूछे जा सकते हैं ‘पर्यावरण अध्ययन’ के कुछ ऐसे प्रश्न!

Published

on

Advertisement

CTET Paryavaran Adhyayan MCQ: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तिथि जल्द ही सीबीएसई बोर्ड के द्वारा जारी होने वाली है।  कयास लगाए जा रहे हैं, कि इसी सप्ताह में परीक्षा की तिथि एवं एडमिट कार्ड को लेकर ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है।  परीक्षा से 10 दिन पहले एडमिट कार्ड जारी कर दिए जाएंगे।  अगर आप भी सीटेट परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे हैं, तो परीक्षा में अब कुछ ही दिनों का समय शेष रह गया है। संभवतः जनवरी माह में परीक्षा प्रारंभ हो जाएगी। 

अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह अंतिम दिनों में अधिक से अधिक प्रैक्टिस सेट का अभ्यास करें।  जिससे कि परीक्षा में उत्तम परिणाम प्राप्त हो सके।  यहां पर हम सीटेट परीक्षा के लिए नियमित रूप से प्रैक्टिस सेट शेयर करते आ रहे हैं, इसी श्रंखला में आज हम पर्यावरण अध्ययन से संबंधित  प्रैक्टिस सेट आपके साथ साझा कर रहे हैं जिसका अभ्यास आपको परीक्षा में अच्छे अंक दिलाने में मददगार साबित हो सकता है. 

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने से पूर्व पर्यावरण के इन सवालों को जरूर पढ़ें—Paryavaran Adhyayan objective questions For CTET Exam 2022

1. माताएँ आदर्श अध्यापिकाएँ हैं और घर द्वारा दी जाने वाली अनौपचारिक शिक्षा सबसे प्रभावशाली और स्वाभाविक है ?

Advertisement

(a) फ्रोबेल की शिक्षण विधि

(b) माण्टेसरी कि शिक्षण विधि

(c) किलपैट्रिक की शिक्षण विधि 

(d) इनमें से कोई नहीं ।

Ans- a 

2. भोजन पकाने का तरीका नही है.

(a) भूनकर

(b) सेंककर

(c) गूंथकर

(d) उबालकर

Ans- c 

3. असत्य जोड़े की पहचान करें-

(a) गुजरात              लाल चीटी की चटनी

(b) केरल                     मिश्रित सब्जी, टैपियोका

(c) पंजाब                    सरसों का साग, मक्के की रोटी

Advertisement

(d) झारखण्ड                        मशरुम

Ans- a 

4. पर्यावरण अध्ययन की कक्षा में अवधारणाओं को स्पष्ट करने के लिए कविताओं और कहानी कथन का प्रयोग करना – 

(a) बच्चों में विद्यमान भाषिक एवं सांस्कृति विविधता को ध्यान में रखता है 

(b) उचित दिशा में बच्चों की ऊर्जा की संकेन्द्रित करता है 

(c) पाठ को आनन्ददायक और रोचक बनाने में मदद करता है 

(d) स्थानीय एवं विश्व स्तर पर संसार की प्रकृति को खोजने और कल्पना करने की योग्यता का विकास करने में मदद करता है 

Ans- c 

5. दत्तकार्य के सम्बन्ध में निम्न मे से कौन-सा कथन सही है ?

(a) दत्तकार्य बच्चों को सूचना खोजने, अपने विचारों का निर्माण करने के और उन्हें उच्चारित करने का अवसर प्रदान करता है 

(b) दत्तकार्य अभिभावकों, भाइयों या बहनों द्वारा अपनी क्षमता के अनुसार किया जा सकता हैं 

(c) प्रतिदिन विविधता और अभ्यास कराने के लिए कक्षा-कार्य और फिर गृह- कार्य के रूप में दत्तकार्य देने की आवश्यकता हैं 

(d) दत्तकार्य आकलन का एकमात्र तरीका हैं

Ans- a 

6. खेल विधि से शिक्षा देने वाले स्कूलों में शिक्षा- 

(a) पर कोई व्यय नहीं होता है 

(b) बहुत महँगी पड़ती है

(c) देने वाले शिक्षक की भूमिका समाप्त हो जाती है

Advertisement

(d) पर्यावरण का एक भाग बन जाती हैं

Ans- d 

7. बाल केन्द्रित शिक्षण विधि का उद्देश्य होता है- 

(a) छात्रों में मुक्त ढंग से सीखने की योग्यताओं का विकास करना 

(b) छात्रों में स्वतंत्र कौशलों का विकास करना 

(c) छात्रों में आत्मविश्वास एवं आत्मनिर्भरता का विकास करना 

(d) उपरोक्त सभी

Ans- d

8. सूक्ष्म-शिक्षण के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही है ? 

(a) छोटे पैमाने पर पढ़ाना ताकि अधिगम सुसाध्य हो सके 

(b) ऐसे स्तर पर पढ़ाना ताकि विद्यार्थी पर पाठ्यचर्या का बोझ कम हो 

(c) बहुत कम शिक्षण करना 

(d) कोई नहीं

Ans- a 

9. खेल विधि का सही अर्थ है –

(a) बालक की मनोरंजन की इच्छा की पूर्ति मात्र 

(b) बालकों को खेल की पूर्ण स्वाधीनता मात्र 

(c) बालकों की खेल प्रवृत्ति को सन्तुष्ट करते हुए लाभप्रद शैक्षिक परिणाम निकालना 

Advertisement

(d) उपरोक्त सभी

Ans- c 

10. विचार-विनिमय सम्बन्धी क्रिया-कलाप है –

(a) चित्रण

(b) सेमिनार

(c) प्रोजेक्ट

(d) प्रदर्शनियाँ

Ans- b 

11. पाठ योजना में शिक्षण विचारणीय है कि – 

(a) पाठ्य-पुस्तक के शब्दों एवं वाक्यों को प्रयोग किया जाए 

(b) बालकों को प्रश्न के उत्तर देने के लिए तैयार होने को कहा जाए 

(c) छात्रों को प्रश्न के उत्तर स्वयं सोचकर देने को कहा जाए 

(d) छात्रों के स्वैच्छिक उत्तरों पर आश्रित रहा जाए 

Ans- c 

12. आपके विद्यालय में ऐसे छात्र भी पढ़ते हैं जो अपने घरवालों का धनार्जन में हाथ बँटाते है इसलिए ये छात्र पढ़ाई, गृह कार्य आदि पर यथोचित ध्यान नही दे पाते –

(a) आप कक्षा में उन्हें प्रताडित करेंगें व उनके सम्मुख उके माता- पिता को भी बुरा-भला कहेंगे जो उनके लिए शिक्षा का व्यय नही जुटा पाते

(b) उनके सामाजिक व आर्थिक स्तर का उपहास करते हुए उन्हें पढ़ाई छोड़ने के लिए कहेंगे

(c) उनकी क्षमता पर सन्देह करेंगें व उन्हें हतोत्साहित करते रहेगें 

Advertisement

(d) मानवीय दृष्टिकोण अपनाएँगे और प्रोत्साहन एवं सहायता देकर उनका मनोबल बढ़ाते रहेंगे

Ans- d 

13. वाद-विवाद पद्धति से छात्रों में किस प्रकार का विकास होता है ? 

(a) तर्कशक्ति का विकास 

(b) निर्णय लेने की क्षमता का विकास 

(c) आलोचनात्मक चिन्तन का विकास 

(d) ये सभी

Ans- d 

14. एक शिक्षक पाठ को पढ़ाने के बाद अपने छात्रों को गृहकार्य देता हैं क्योंकि-

(a) गृह-कार्य देने से छात्र पढ़ेगें

(b) गृह-कार्य से छात्रों की प्रगति की जाँच की जा सकेगी

(c) छात्रों को व्यस्त रखना आवश्यक हैं

(d) गृह कार्य करने से छात्रों में स्वध्याय की आदत की विकास हो सकेगा

Ans- d

15. विद्यार्थियों में खेलकूद की भावना का विकास तीव्र हो सकता है यदि –

(a) खेलकूद पर भी विद्यार्थियों को परीक्षा में अंक दिए जाए 

(b) खेलने के बाद विद्यार्थियों को फल आदि खाने को दिया जाएँ 

(c) स्कूल में भी विद्यार्थियों को खेलकूद के पर्याप्त अवसर दिए जाएँ और उसे अभिप्रेरणा के नियमों से जोडा जाए (d) इनमें से कोई नहीं

Advertisement

Ans- c 

Read More:-

CTET Sanskrit Practice Set: परीक्षा हॉल में जाने से पहले ‘संस्कृत भाषा’ पर आधारित इस प्रैक्टिस सेट का अभ्यास जरूर करें! 

CTET Exam 2022: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में पूछे जा चुके हैं ‘हिंदी शिक्षण शास्त्र’ के यह प्रश्न

यहां पर हमने दिसंबर में आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए ”पर्यावरण अध्ययन” पर आधारित महत्वपूर्ण सवालों (CTET Paryavaran Adhyayan MCQ) का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *