CTET

CTET परीक्षा में नॉर्मलाइजेशन से फायेदा होगा या नुकसान? क्या रहेगा Cut-off Marks

Advertisement

Normalization in CTET Exam 2021-22: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 1 फ़रवरी 2022 को CTET परीक्षा की Answer-Key जारी कर दी है परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थी अधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जा कर अपनी Answer-key की जाँच कर सकते है। चूकी इस बार CTET परीक्षा ऑनलाइन CBT Mode में आयोजित की गई थी इसीलिए इस बार बोर्ड द्वारा परीक्षा में नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया को अपनाया जाएगा।

CTET में लागू होगा नॉर्मलाइजेशन, अभ्यर्थियों को फायेदा होगा या नुकसान?

सीबीएसई द्वारा यह पहले ही बता दिया गया है कि इस बार सीटेट परीक्षा में नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया को अपनाया जाएगा। ऐसे में यह सवाल उठता है कि यह व्यवस्था अभ्यर्थियों के लिए फायदेमंद है या इसके नुकसान भी है? इस पर एक्सपर्ट्स द्वारा बताया गया है कि ऑनलाइन एग्जाम में किसी शिफ्ट में सरल, तो किसी शिफ्ट में कठिन सवाल पूछे जाना लाजमी है। ऐसे में परीक्षा में निष्पक्षता को सुनिश्चित करने के लिए नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया अपनाना बेहद जरूरी है।

एक्स्पर्ट्स द्वारा बताया गया कि नॉर्मलाइजेशन की व्यवस्था में एक फार्मूले के तहत जिस शिफ्ट में कठिन प्रश्न आते हैं उस शिफ्ट के अभ्यर्थियों को कुछ एक्स्ट्रा नंबर दिए जाते हैं और जिस शिफ्ट में आसान प्रश्न आते हैं उस शिफ्ट के अभ्यर्थियों के कुछ नंबर काट लिए जाते हैं ताकि अभ्यर्थियों को समान रूप से मौका मिल सके।

Advertisement

CTET 2021-22 कटऑफ नीचे दी गई बातों पर निर्भर करेगा :
1. CTET परीक्षा में कितने उम्‍मीदवारों ने हिस्‍सा लिया है.
2. CTET परीक्षा का न्‍यूनतम क्‍वालिफाइंग मार्क्‍स क्‍या है.
3. परीक्षा के लिये रजिस्‍टर्ड उम्‍मीदवारों की संख्‍या.
4. पेपर 1 और पेपर 2 का डिफिकल्‍ट‍ि लेवल क्‍या है

CategoryMinimum Qualifying PercentagePassing Marks
General60%90 Out Of 150
OBC/SC/ST55%82.50 Out Of  150

CBSE द्वारा जारी किया जा चुका है नॉर्मलाइजेशन को लेकर पब्लिक नोटिस

Normalization in CTET exam 2021

DOWNLOAD OFFICIAL NOTIFICATION HERE

आपको बता दें कि केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा CTET का आयोजन सीबीएसई द्वारा वर्ष में दो बार किया जाता है इसमें दो पेपर लिए जाते हैं जो अभ्यर्थी कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक बनना चाहते हैं उन्हें paper-1 जबकि कक्षा 6 से 8 तक के शिक्षक बनने के लिए पेपर 2 पास करना आवश्यक है सीटेट परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थियों को सीबीएसई द्वारा सीटेट सर्टिफिकेट दिया जाता है जिसकी वैधता हाल ही में आजीवन कर दी गई है सीक्रेट सर्टिफिकेट धारी अभ्यर्थी केंद्र सरकार के अधीन विभिन्न स्कूलों तथा शिक्षण संस्थाओं में शिक्षकों के पद पर आवेदन के लिए पात्र हो जाते हैं

ये भी पढ़ें…

CTET 2022: Answer-Key मिलाने में अभ्यर्थी हो रहें है परेशान, क्या गलत है आन्सर की?

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button