Connect with us

CTET

CTET 2022-23: CDP के ‘कथन एवं निष्कर्ष’ के ये सवाल सीटेट परीक्षा मे जरूर पूछे जाएंगे, अवश्य पढे

Published

on

CTET CDP Statement and Conclusion Based Questions
Advertisement

CTET CDP Statement and Conclusion Based Questions: देश के केंद्रीय विद्यालयों में सरकारी टीचर बनने के लिए अभ्यर्थियों को सबसे पहले केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा से गुजरना पड़ता है। यह परीक्षा सीबीएसई द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित कराई जाती है इस वर्ष सीटेट परीक्षा आने वाले दिसंबर माह से ऑनलाइन माध्यम में कई पालियों मे आयोजित की जाएगी। जिसके लिए आवेदन की प्रक्रिया अभी जारी है अतः अभ्यर्थी 24 नवंबर 2022 तक परीक्षा के लिए  ऑनलाइन आवेदन दे सकेंगे। अगर आप भी इस परीक्षा करने जा रहे हैं तो लेख में दी गई जानकारी आपके लिए बेहद काम की है, यहां हमने सीटेट परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण विषय बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के कथन एवं निष्कर्ष पर आधारित प्रश्न लेकर आए है, जो कि परीक्षा मे जरूर पूछे जाते है जिन्हे आप अपनी बेहतर तैयारी के लिए एक बार जरूर पढ़ ले। 

वाल विकास के कथन एवं निष्कर्ष से पूछे जाने इन सवालों की सीटेट परीक्षा मे पूछे जाने की संभावना है, अभी पढे- Child Development And Pedagogy MCQ For CTET 2022

1. Assertion (A) While teaching, a teacher should use a variety of ways to represent the context of teaching. 

 कथन (A) पढ़ाते समय एक शिक्षक को पाठ्य सामग्री को दर्शाने के विभिन्न तरीके अपनाने चाहिए। 

Advertisement

Reason (R) – Teachers need to adapt their pedagogy to suit the diverse needs of learners.

 कारण (R) – शिक्षक को अधिगमकर्ताओं की विविध आवश्यकताओं हेतु अपने शिक्षाशास्त्र को उनके अनुकूल बनाना चाहिए।

Choose the correct option. / सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). / (A) और  (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्याख्या करता है (A) की। 

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं लेकिन (R) सही व्याख्या नहीं है (A) की।

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है 

(d) Both (A) and (R) are false. / (A) और  (R) दोनों गलत है 

Ans- a 

2. Assertion (A): In a language classroom, teacher should provide audio books along with text materials.

कथन  (A): भाषा शिक्षण के दौरान, एक अध्यापिका को लिखित सामग्री के साथ-साथ श्रवण पुस्तकें भी उपलब्ध करवानी चाहिए।

Reason (R): Multiple options of representation cater to needs of diverse learners such as those with reading related disorders. 

तर्क (R): प्रस्तुतिकरण के विविध विकल्प, विभिन्न अधिगमकर्ताओं की जरूरतों को पूरा कर पाते हैं। (जैसे कि पठन विकारों से जुझते विद्यार्थी)

Choose the correct option. / सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A)./ (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या करता है।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं करता है।

Advertisement

(c) (A) is true and (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false./ (A) और (R) दोनों सही हैं । 

Ans- a 

3. Assertion (A): In a language classroom, teacher should provide audio books along with text materials. 

कथन (A): भाषा शिक्षण के दौरान, एक अध्यापिका को लिखित सामग्री के साथ-साथ श्रवण पुस्तकें भी उपलब्ध करवानी चाहिए।

Reason (R): Multiple options of representation cater to needs of diverse learners such as those with reading related disorders. 

तर्क (R): प्रस्तुतिकरण के विविध विकल्प, विभिन्न अधिगमकर्ताओं की जरूरतों को पूरा कर पाते हैं। (जैसे कि पठन विकारों से जुझते विद्यार्थी)

Choose the correct option. /सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A)./ (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या करता है।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं करता है।

(c) (A) is true and (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false./ (A) और (R) दोनों सही हैं।

Ans- a 

4. Assertion (A): A lot of children’s play in the cities is based on reality T.V. shows that they see. अभिकथन (A): शहरों में बच्चों का बहुत सारा खेल उन रियलिटी टीवी शो पर आधारित होता है जो वो देखते हैं।

Reason (R): Apart from family and peers these days media is becoming an important agency of socialization of children. 

तर्क (R): इन दिनों परिवार और साथियों के अलावा मीडिया बच्चों के समाजीकरण का एक महत्वपूर्ण माध्यम बनता जा रहा है।

Choose the correct options. सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्यख्या करता है (A) की।

Advertisement

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं लेकिन (R) सही व्यख्या नहीं है (A) की ।

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false / (A) और (R) दोनों गलत है।

Ans- a 

5. Assertion (A): Teachers should use a wide variety of assessment tools and technique to assess children. 

अभिकथन (A): शिक्षकों को बच्चों का आकलन करने के लिए विभिन्न प्रकार की आकलन तकनीक और विधियों का प्रयोग करना चाहिए।

Reason (R): No single assessment tool is capable of providing in formation about a child’s progress and learning in different areas of development. 

तर्क (R): कोई भी एक मूल्यांकन तकनीक बच्चे की प्रगति और विकास के क्षेत्रों के बारे में जानकारी प्रदान करने में सक्षम नहीं है।

Choose the correct option./ सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्यख्या करता है (A) की।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं लेकिन (R) सही व्यख्या नहीं है (A) की

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false / (A) और (R) दोनों गलत है।।

Ans- a 

6. Assertion (A): Participation in the social life of the school is significant for learning to occur.  

अभिकथन (A) अधिगम के लिए विद्यालय के सामाजिक अवसरों में भागीदारी महत्वपूर्ण है।

Reason (R): Learning is primarily a social activity. 

तर्क (R) : अधिगम मुख्य रूप से एक सामाजिक क्रिया है।

Advertisement

Choose the correct option. / सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्यख्या करता है (A) की।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं लेकिन (R) सही व्यख्या नहीं है (A) की ।

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false / (A) और (R) दोनों गलत है।

Ans- a 

7. Assertion (A): A teacher should connect content to be taught with students’ daily life experiences. 

 अभिकथन (A): एक शिक्षक द्वाटा पढ़ाए जाने वाले विषयवस्तु को छात्रों के दैनिक जीवन के अनुभवों से जोड़ना चाहिए। 

Reason (R) : Children come to school with valuable life experiences that teachers need to pay attention to.

तर्क (R): बच्चे स्कूल में जीवन के बहुत से महत्वपूर्ण अनुभव लेकर आते हैं जिसपर शिक्षिका को ध्यान देना चाहिए।

Choose the correct option. / सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्याख्या करता है (A) की।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A)/(A) और (R) दोनों सही हैं लेकिन (R) सही व्याख्या नहीं है (A) की।

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false / (A) और (R) दोनों गलत है।।

Ans- a 

8. Assertion (A) Schools must enable children to find their voices, nurture their curiosity to do things to ask questions, to engage in discussions and do group work. Rather than building their ability to reproduce testual knowledge. 

कथन (A) विद्यालयों को छात्रों में पाठ्य पुस्तकों को याद करके, पुनः उगल देने की योग्यता के स्थान पर उनमें अपनी आवाज़ उठाने, जिज्ञासा शांत करने, क्रियाशील होने, प्रश्न पूछने के बाद विवाद करने, समूह में कार्य करने की योग्यता विकसित करनी चाहिए।

Advertisement

Reason (R) Learning is active and social in its character. 

कारण (R) अधिगम का स्वरुप क्रियाशील एवं सामाजिक है। 

Choose the correct option. / सही विकल्प का चयन करें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). (A) और (R) दोनों सही है और सही व्याख्या करता है (A) की

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं और सही व्याख्या नहीं करता है (A) की

(c) (A) is true but (R) is false. (A) सही है लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false. (A) और (R) दोनों गलत है

Ans- a 

9. Assertion (A) Education fails the child when children are expected to reproduce knowledge in more or less the same way it was received. 

कथन (A) शिक्षा असफल हो जाती है जब बच्चों से यह अपेक्षा की जाती है कि वे प्राप्त ज्ञान को ज्यों का त्यों पुनः उत्पादित करें। 

Reason (R) Reproduction of information is a meaningful indicator of children’s learning.

 कारक (R) जानकारी का पुनः उत्पादन बच्चों के सीखने का अर्थपूर्ण घोतक है।

Choose the correct option/सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A). / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्याख्या करता है (A) की।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A) . / (A) और (R) दोनों सही हैं, लेकिन (R) सही व्याख्या नहीं करता है (A) की।

(c) (A) is true but (R) is false. / (A) सही है, लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false. / (A) और (R) दोनों गलत हैं।

Ans- a 

Advertisement

10. Assertion (A) Teachers should provide diverse learning opportunities to facilitate meaningful learning for all children 

अभिकथन (A) शिक्षकों को सभी बच्चों के अर्थपूर्ण सीखने के लिए अधिगम के विविध मौके मुहैया कराने चाहिए।

Reasons (R) All children have the potential to learn. 

तर्क (R) सभी बच्चों में सीखने की क्षमता होती है। 

सही विकल्प चुनें।

(a) Both (A) and (R) are true and (R) is the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं और (R) सही व्याख्या करता है (A) की।।

(b) Both (A) and (R) are true but (R) is not the correct explanation of (A) / (A) और (R) दोनों सही हैं, लेकिन (R) सही व्याख्या नहीं है (A) की ।

(c) (A) is true but (R) is false सही है, लेकिन (R) गलत है।

(d) Both (A) and (R) are false (A) और (R) दोनों गलत हैं।

Ans- a 

Read More:-

CTET Exam 2022: ‘बाल विकास और शिक्षाशास्त्र’ के इन सवालों से करे अपनी बेहतर तैयारी!

CTET Exam 2022: हर वर्ष पूछे जाते हैं ‘NCF 2005’ से जुड़े सवाल यहां पढ़े संभावित प्रश्न!

उपरोक्त आर्टिकल में हमने ‘बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के कथन एवं निष्कर्ष ” के (CTET CDP Statement and Conclusion Based Questions) सवालों का अध्ययन किया। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) से जुड़ी नवीनतम अपडेट और प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य बने, जॉइन लिंक नीचे दी गई है

Advertisement

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CTET

UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

Published

on

By

Advertisement

UP Shikshak Bharti 2023 (UPDATED): उत्तर प्रदेश में लंबे समय से शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद (UPBEB) जल्द ही शिक्षक के 51 हजार से अधिक रिक्त पदों पर बंपर भर्ती निकालने वाला है. नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार प्रदेश में  माध्यमिक व राजकीय विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती करने जा रही है.

इतने पदों पर होगी भर्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग में टीजीटी/ पीजीटी शिक्षकों के लगभग 51 हजार से अधिक पद रिक्त हैं, इसके अलावा राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों के 7 हजार 471 पद रिक्त हैं. तो वही बात करें प्रवक्ता तथा सहायक अध्यापकों के पदों कि तो बताया जा रहा है प्रवक्ता के 2115 जबकि सहायक अध्यापक के 5256 पद खाली हैं जिनपर भर्ती की जानी है.

इन उम्मीदवारों को मिलेगी एंट्री

Advertisement

उत्तर प्रदेश के प्राइमरी तथा अपर प्राइमरी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती सुपर टेट परीक्षा (SUPER TET) के माध्यम से की जाती है, जिसका आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है. सुपर टेट परीक्षा में केवल वे अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यूपी टेट परीक्षा (Uttar Pradesh Teacher Eligibility TestUPTET) पास की हो.  बहुत से अभ्यर्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि क्या सीटेट परीक्षा क्वालीफाई अभ्यर्थी यूपी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं? 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा यानी सुपर टेट में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री तथा टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स (D.El.Ed, BTC, B.Ed. आदि) पास किया होना चाहिए साथ ही UPBEB द्वारा आयोजित यूपी टेट परीक्षा पास होना जरूरी है. इसके अलावा पेपर -1 के लिए सीटेट पास अभ्यर्थी भी सुपर टेट परीक्षा देने के पात्र होते हैं. 

यदि बात करें आयु सीमा की तो न्यूनतम 21 वर्ष से लेकर अधिकतम 40 वर्ष की आयु वाले अभ्यर्थी सुपर टेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं हालांकि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी अभ्यर्थियों को कैटेगरी वाइज अधिकतम आयु में छूट का प्रावधान है अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें.

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जाकर अपना आवेदन सबमिट कर सकते हैं. सीटेट परीक्षा पास करने पर उम्मीदवार सुपर टेट के साथ ही केंद्र सरकार द्वारा संचालित केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूल आदि में निकलने वाली शिक्षकों की भर्ती में भी शामिल हो सकते हैं.

कब आएगा यूपीटीईटी नोटिफ़िकेशन? (UPTET 2023 Notification Update)

उत्तर प्रदेश में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले लाखों अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपीटीईटी के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहे हैं नवीनतम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपीटीईटी परीक्षा का नोटिफिकेशन फ़रवरी 2023 के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक जारी किया जा सकता है। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जाकर आवेदन कर पाएंगे.

अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी लगातार शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर विजिट करते रहें बता दें कि यूपीटीईटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए इसके साथ ही बैचलर डिग्री या समकक्ष डिप्लोमा होना जरूरी है।

Read More:

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET 2023: ‘पक्षियों’ से जुड़े बेहद रोचक सवाल, जो सीटेट की सभी शिफ्ट में पूछे जा रहे हैं!

Published

on

By

EVS MCQ on Birds For CTET
Advertisement

EVS MCQ on Birds For CTET: शिक्षक के रूप में कैरियर बनाने की चाहत लिए लाखों अभ्यर्थी प्रतिवर्ष सीबीएसई के द्वारा संचालित सिटी परीक्षा में शामिल होते हैं। इस वर्ष किस परीक्षा का आयोजन 28 दिसंबर से किया जा रहा है। अगर आप भी इस परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं, तो यहां पर हम आपके लिए पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत पक्षियों पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न लेकर आए हैं। इस टॉपिक से पेपर में एक से दो प्रश्न पूछे जा रहे हैं अभ्यर्थियों को इन प्रश्नों का अध्ययन एक बार अवश्य कर लेना चाहिए।

Read More:- UP Teacher Vacancy 2023: योगी सरकार का तोहफा, 51 हजार शिक्षक भर्ती जल्द, CTET-UPTET क्वालीफाई को मिलेगी एंट्री

CTET Environment MCQ on Birds—पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत पक्षियों पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न

1) किस प्रकार के पक्षी की चोंच मीट को काटने और खाने के काम आती है?

Advertisement

1. तिकोने आकार की चोंच

2. सीधी और पतली चोंच

3. हुक जैसी चोंच

4. लम्बी पतली सुई जैसी चोंच

Ans- 3

2) पक्षियों की एक स्पीशीज (प्रजाति) ऐसी है, जिसका नर पक्षी सुन्दर सुन्दर घोंसले बुनता है। मादा पक्षी उन सभी पोसलों को देखती है। उनमें से वह उसे चुनती है जो उसे सबसे अच्छा लगता है और उसी में अंडे देती है। पक्षियों की इस स्पीशीज का नाम है.

1. कोयल

2. वीवर पक्षी

3. शक्कर खोरा

4. वसंत गौरी

Ans- 2

3) अपनी गर्दन को पीछे तक घुमा सकने वाला पक्षी है.

1. कबूतर 

2. तोता

3. उल्लू 

Advertisement

4. मैना

Ans- 3

4) अपनी गर्दन को झटके से आगे पीछे कर सकने वाला पक्षी है.

1. कबूतर (कपोत)

2. तोता

3. उल्लू

4. मैना

Ans- 4

5) तीन पक्षियों का वह समूह जिसका प्रत्येक सदस्य वस्तुओं को हमारी तुलना में, चार गुना अधिक दूरी स्पष्ट देख सकता है, जो वस्तु हमें दो मीटर की दूरी से दिखाई देती है उसे ही ये पक्षी आठ मीटर दूरी से देख लेते हैं) कौन सा है

1 बाज़, कौआ, कबूतर

2 बाज़, चील, गिद्ध

3 कबूतर, तोता, चील 

4 कोआ, चील, बुलबुल

Ans- 2

6) पक्षियों की उस प्रजाति का नाम क्या है जिसमें नर पक्षी अनेक सुन्दर घोंसले बनाते हैं और मादा पक्षी उनमें से केवल एक घोंसला चुनते हैं और उसमें अण्डे देते हैं? 

1. कलचिड़ी

2. शकरखोरा

3. दर्जिन चिड़िया 

Advertisement

4. बया (वीवर)

Ans- 4

7. उस पक्षी का नाम जिसकी आंखें मानवों की तरह सामने की तरफ होती हैं:

1. चील

2. बाज

3. गिद्ध

4. उल्लू

Ans- 4

8) तीन पक्षियों का वह समूह जिसका प्रत्येक सदस्य वस्तुओं को हमारी तुलना में, चार गुना अधिक दूरी स्पष्ट देख सकता है, जो वस्तु हमें दो मीटर की दूरी से दिखाई देती है उसे ही ये पक्षी आठ मीटर दूरी से देख लेते हैं) कौन सा है

1 बाज़, कौआ, कबूतर

2 बाज़, चील, गिद्ध 

3 कबूतर, तोता, चील 

4 कोआ, चील, बुलबुल

Ans- 2

9) निम्नलिखित में से कौन सा सबसे छोटा प्रवासी पक्षी है जो उत्तरध्रुवीय क्षेत्र से भारत आता है:

1. सीखपर बत्तख (पिनटेल डक)

2. छोटी मतस्यकुररी (ऑस्प्रे) 

3. हंसावर (फ्लेमिंगो) 

Advertisement

4. छोटी जलरंक (स्टिंट)

Ans- 4

10) एक छोटे से पेड़ या झाड़ी की शाखा से लटकने वाला घोंसला बनाने वाला पक्षी है। 

1. सूर्यपक्षी / शक्कर खोरा

2. कौवा 

3. बारबेट / बसंतगौरी

4. भारतीय रॉबिन / कलचिड

Ans- 1

Read More:-

CTET 2023: ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ के इस लेवल के सवाल पूछे जा सकते हैं आने वाली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

CTET Exam: परीक्षा हॉल में बहुत काम आने वाले हैं ‘हिंदी पेडागॉजी’ के यह प्रश्न!

यहाँ हमने आगामी सीटीईटी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थीयो के लिए ”पक्षियों” से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल (EVS MCQ on Birds For CTET) विषय के महत्वपूर्ण सवालों का अध्ययन किया है CTET सहित सभी शिक्षक पात्रता परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए आप हारे TELEGRAM CHANNEL के सदस्य जरूर बने Join Link नीचे दी गई है?

Advertisement

Continue Reading

CTET

CTET Exam 2023: ‘अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत’ से जुड़े कुछ ऐसे सवाल ही पूछे जा रहे हैं सीटेट परीक्षा की सभी शिफ्टों में

Published

on

By

Albert Bandura's Social Learning Theory for CTET AND TET Exams
Advertisement

Albert Bandura Theory Based Questions CTET: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन सीबीएसई बोर्ड के द्वारा 28 दिसंबर 2022 से किया जा रहा है। परीक्षा वर्तमान समय में जारी है, जो कि 7 फरवरी 2023 तक जारी रहेगी। अगर आप भी इस परीक्षा में शामिल होने वाले हैं, तो यहां पर हम आपके लिए अल्बर्ट बंडूरा के द्वारा दिए गए सिद्धांत पर आधारित परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्न लेकर आए हैं। जो कि आपको परीक्षा में बेहद काम आने वाले हैं। विगत शिफ्ट में इस टॉपिक से प्रश्न पूछे जा रहे हैं। ऐसे में आगामी चरण में भी यहां से प्रश्न पूछे जाने की प्रबल संभावना है।

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए अल्बर्ट बंडूरा के सिद्धांत से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न—MCQ on Albert Bandura Social Learning Theory For CTET Exam

1. अल्बर्ट बंडूरा ने प्रयोग किया?

A- कुत्ते पर

Advertisement

B-गुड़िया पर

C-जोकर पर

D-B और C दोनों पर

Ans- D 

2. सामाजिक अधिगम का सिद्धांत किसने दिया?

A- वाइगोत्सकी

B-जीन पियाजे

C- अल्बर्ट बंडूरा

D-कोहलबर्ग

Ans- C 

3. बंडूरा के अनुसार अनुकरण की प्रक्रिया के कितने चरण हैं?

A- पांच

B- सात

C- चार

D-दस

Advertisement

Ans- C 

4. अल्बर्ट बंडूरा ने अपना सिद्धान्त कब दिया?

A-1994

B-1977

C-1897

D-1920

Ans- B 

5. जिस माध्यम से बच्चा अनुकरण के द्वारा सीखता है उसे अल्बर्ट बंडूरा ने क्या कहा?

A-उत्पाद

B-मॉडल

C-स्की मा

D- पुनर्बलन

Ans- B

6. Social Foundations of Thought and Action पुस्तक किसकी है

A- जीन पियाजे

B-अरस्तू

C- अल्बर्ट बंडूरा

D-कोहलबर्ग

Advertisement

Ans- C 

7. …………… के अनुसार, बच्चों के चिंतन के बारे में सामाजिक प्रक्रियाओं तथा सांस्कृतिक संदर्भ के प्रभाव को समझना आवश्यक है।

A-लॉरेंस कोलबर्ग

B-जीन पियाजे

C-लेब वायगोट्स्की

D-अलबर्ट बैन्डुरा

Ans- C 

8. – बच्चों को संकेत देना तथा आवश्यकता पड़ने पर सहयोग प्रदान करना निम्नलिखित में से किसका उदाहरण है?

A-प्रबलन

B-अनुबंधन

C-मॉडलिंग

D-पाड़ (ढाँचा)

Ans- D

9. अल्बर्ट बैन्ड्यूरा के सामाजिक अधिगम सिद्धांत के अनुसार निम्न में से कौन-सा सही है?

A-बच्चों के सीखने के लिए प्रतिरूपण (मॉडलिंग) एक मुख्य तरीका है

B-अनसुलझा संकट बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है

C-संज्ञानात्मक विकास सामाजिक विकास से स्वतंत्र है

D-खेल अनिवार्य है और उसे विद्यालय में प्राथमिकता दी जानी चाहिए

Advertisement

Ans- A 

10. कोहलबर्ग के अनुसार, शिक्षक बच्चों में नैतिक मूल्य का विकास कर सकता है-

A-” कैसे व्यवहार किया जाना चाहिए ” इस पर कठोर निर्देश देकर

B-धार्मिक शिक्षा को महत्त्व देकर

C- व्यवहार के स्पष्ट नियम बनाकर

D-नैतिक मुद्दों पर आधारित चर्चाओं में उन्हें शामिल करके

Ans- D

11. लारिंस कोहलबर्ग विकास के क्षेत्र में शोध के लिए जाने जाते हैं।

A-संज्ञानात्मक

B-शारीरिक

C-नैतिक

D- गामक

Ans- C 

12. कोहलबर्ग के अनुसार सही और गलत प्रश्नों के बारे में निर्णय लेने में शामिल चिंतन प्रक्रिया को कहा जाता है

A-सहयोग की नैतिकता

B-नैतिक तर्कणा

C-नैतिक यथार्थवाद

D-नैतिक दुविधा

Advertisement

Ans- B

13. लॉरेंस कोहलबर्ग के द्वारा प्रस्तावित निम्नलिखित चरणों में से प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे किन चरणों का अनुसरण करते हैं?

(1) आज्ञापालन और दंड – – उन्मुखीकरण

(2) वैयक्तिकता और विनिमय

(3) अच्छे अंत : वैयक्तिक संबंध

(4) सामाजिक अनुबंध और व्यक्तिगत अधिकार

A-2 और 1

B-2 और 4

C-1 और 4

D-1 और 3

Ans- A 

14. करनैल सिंह कानूनी कार्यवाही तथा खर्चों के बावजूद आय कर नहीं देते। वे सोचते हैं कि वे एक भ्रष्ट सरकार को समर्थन नहीं दे सकते, जो अनावश्यक बाँधों के निर्माण पर लाखों रुपये खर्च करती हैं । वे संभवतः कोहलबर्ग के नैतिक विकास की किस अवस्था में हैं?

A-परंपरागत

B-पश्च परंपरागत

C-पूर्व परंपरातगत

D-परा-परंपरागत

Ans- B

15. एक शिक्षिका अपनी कक्षा से कहती है, ‘सभी प्रकार के प्रदत्त’ कार्यों का निर्माण इस प्रकार किया गया है कि प्रत्येक विद्यार्थी अधिक प्रभावशाली ढंग से सीख सके, अतः सभी विद्यार्थी बिना किसी अन्य की सहायता से अपना कार्य पूर्ण करें। वह कोहलबर्ग के किस नैतिक विकास के चरण की ओर संकेत दे रही है?

Advertisement

A-पूर्व औपचारिक चरण 2 वैयक्तिकता और विनिमय

B-औपचारिक चरण 4 कानून और व्यवस्था

C-पर – औपचारिक चरण 5 सामाजिक संविदा

D- पूर्व – औपचारिक चरण 1 दंड परिवर्जन

Ans- B

Read More:-

CTET 2023: ‘बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र’ के इस लेवल के सवाल पूछे जा सकते हैं आने वाली शिफ्ट में अभी पढ़ें!

CTET Exam 2023: ‘पर्यावरण’ के इन सवालों को परीक्षा हॉल में जाने से पहले एक बार जरूर पढ़ें!

Advertisement

Continue Reading

Trending